X

Fact Check: अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबानियों के सायबर ट्रक को चलाए जाने के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर एडिटेड और फर्जी

अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबानियों के सायबर ट्रक को चलाए जाने के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर एडिटेड और फर्जी है।

  • By Vishvas News
  • Updated: September 24, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक तस्वीर को लेकर दावा किया जा रहा है कि अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबानी आतंकी सायबर ट्रक का इस्तेमाल कर रहे हैं। वायरल हो रही तस्वीर में नजर आ रहे वाहन के पहिए टेस्ला के सायबर ट्रक की तरह दिखाई दे रहे हैं।

विश्वास न्यूज की जांच में वायरल हो रही तस्वीर फर्जी निकली, जिसे एडिट कर तैयार किया गया है। मूल तस्वीर में तालिबानी आतंकियों को एक बख्तरबंद वाहन में बैठे हुए देखा जा सकता है। इसी वाहन की तस्वीर को एडिट कर उसे सायबर ट्रक का बताते हुए गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

सोशल मीडिया यूजर ‘Mohsin Khan’ ने वायरल तस्वीर (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”Taliban driving a Cyber Truck.
@elonmusk
You must be proud. 😅” (” सायबर ट्रक चलाते हुए तालिबानी…एलन मस्क आपको गर्व हो रहा होगा।”)

https://twitter.com/Mohsin_I_Khan/status/1433467389216186373

सोशल मीडिया पर कई अन्य यूजर्स ने इस तस्वीर को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल हो रही तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें apnews.com की वेबसाइट पर 17 अगस्त 2021 को प्रकाशित रिपोर्ट मिली, जिसमें इस्तेमाल की गई तस्वीर वायरल तस्वीर से मेल खाती है।

एपी की वेबसाइट पर 17 अगस्त 2021 को प्रकाशित रिपोर्ट में इस्तेमाल की गई मूल तस्वीर, जिसे एडिट कर गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है

इस तस्वीर में तालिबानियों को एक वाहन में बैठे हुए देखा जा सकता है। दी गई जानकारी के मुताबिक, यह तस्वीर 16 अगस्त 2021 को अफगानिस्तान के काबुल स्थित हामिद करजई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बाहर की है, जहां तालिबानी लड़ाकों ने एयरपोर्ट की घेरेबंदी की थी।

इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनी टेस्ला ने 2019 में एक कार्यक्रम के दौरान सायबर ट्रक की लॉन्चिंग की घोषणा की थी।

electrek.co की रिपोर्ट के मुताबिक, टेस्ला की पिक अप सायबर ट्रक को 2021 के अंत तक बाजार में पेश किया जाना था, लेकिन अब यह 2022 के अंत तक बाजार में उपलब्ध होगा।

दोनों ही रिपोर्ट में सायबर ट्रक की तस्वीरों को देखकर यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि इसके पहिए की तस्वीर को एडिटिंग की मदद से वायरल तस्वीर में जोड़ दिया गया है। नीचे दिए गए कोलाज में आप इस एडिटिंग के अंतर को साफ-साफ देख सकते हैं।

वायरल तस्वीर को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर को ट्विटर पर करीब 20 लोग फॉलो करते हैं। गौरतलब है कि अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद सोशल मीडिया पर इससे पहले भी ऐसी कई तस्वीरें भ्रामक और गलत दावे के साथ वायरल हो चुकी है। विश्वास न्यूज पर अफगान संकट से संबंधित ऐसे कई दावों की फैक्ट चेक रिपोर्ट को पढ़ा जा सकता है।

निष्कर्ष: अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबानियों के सायबर ट्रक को चलाए जाने के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर एडिटेड और फर्जी है। टेस्ला की तरफ से सायबर ट्रक को 2021 में लॉन्च किया जाना था, लेकिन अब इसकी लॉन्चिंग 2022 तक के लिए टल गई है।

  • Claim Review : अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद सायबर ट्रक चलाते तालिबानी
  • Claimed By : Twitter User-Mohsin Khan
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later