X

Fact Check: इस तस्वीर में जस्टिस सूर्यकांत और जे बी पारदीवाला मौजूद नहीं है, वायरल दावा दुष्प्रचार है

प्रणव रॉय, एन राम और प्रकाश करात समेत अन्य के साथ जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस जे बी पारदीवाला के बैठे होने के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर भ्रामक है। वायरल तस्वीर में जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस जे बी पारदीवाला मौजूद नहीं हैं, बल्कि इसमें नजर आ रहे व्यक्ति तमिलनाडु के वित्त मंत्री पी त्यागराजन, डॉ. प्रणव रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय, सीपीएम नेता प्रकाश करात और उनकी पत्नी वृंदा करात, एन राम और उनकी पत्नी मरियन राम हैं।

  • By Vishvas News
  • Updated: July 6, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी मामले में नूपुर शर्मा को सुप्रीम कोर्ट में फटकार लगने के बाद सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें एन राम, प्रणव रॉय, वृंदा करात, प्रकाश करात समेत अन्य लोग नजर आ रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि इस तस्वीर में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस सूर्यकांत और जे बी पारदीवाला भी मौजूद हैं। जस्टिस पारदीवाला उस बेंच में शामिल थे, जिसने नूपुर शर्मा की उस याचिका की सुनवाई की थी, जिसमें उन्होंने अपने खिलाफ सभी मुकदमों को दिल्ली स्थानांतरित किए जाने की गुहार लगाई थी।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत और दु्ष्प्रचार निकला। वायरल तस्वीर में तमिलनाडु के वित्त मंत्री पी त्यागराजन के साथ प्रणव रॉय, वृंदा करात, एन राम, प्रकाश करात समेत आठ लोग नजर आ रहे हैं और इनमें जस्टिस पारदीवाला और जस्टिस सूर्यकांत शामिल नहीं है। नूपुर शर्मा की याचिका पर उन्हें फटकार लगाने की वजह से इन दोनों जजों के खिलाफ सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार का दौर जारी है।

क्या है वायरल?

फेसबुक यूजर ‘Drdeepak Kumar’ ने वायरल तस्वीर (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”नक्सल गैंग के साथ वो 2 सुप्रीम कोठे के जजेस 😏😃
बहुत गहरी पैंठ है इन अर्बन नक्सलियों की 👹👹👹खान ग्रेस ने अपने शासन काल में पूरे सिस्टम को खरीदकर रखा था उसी गंद को अब भी सरकार से बाहर रहकर भी फैला रहे हैं पर अब वो जमाने गए जब जनता को भ्रम जाल फंसा कर , कोर्ट के द्वारा अपने काम बनवाते रहो
जाग गया है हिंदुस्थान 🚩🚩☘️☘️☘️☘️☘️
हर हर महादेव 🚩
डॉ दीपक कुमार ☝
🤔Rinita Mazumdar, The 2 SC Judges, #Suryakant and #Pardiwala with the Naxal Gang. Pranab Roy is there. Then there is Radhika Roy. Have Any Doubt in Judiciary…?🙃

पड़ताल

वायरल तस्वीर में द हिंदू के पत्रकार एन राम (द हिंदू समूह की प्रकाशक कंपनी टीएचजी के निदेशक), प्रकाश करात, वृंदा करात और एनडीटीवी के पत्रकार प्रणव रॉय के साथ अन्य लोग नजर आ रहे हैं। रिवर्स इमेज सर्च में यह तस्वीर ट्विटर यूजर ‘Mindescapes’ की प्रोफाइल से शेयर किया हुआ मिला। ExperienceMindEscapes हैशटैग के साथ इस तस्वीर को तीन जुलाई 2022 को शेयर किया गया है। दी गई जानकारी के मुताबिक, इस तस्वीर में नजर आ रहे व्यक्ति तमिलनाडु के वित्त मंत्री पी त्यागराजन, डॉ. प्रणव रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय, सीपीएम नेता प्रकाश करात और उनकी पत्नी वृंदा करात, एन राम और उनकी पत्नी मरियन राम मौजूद हैं।

तस्वीर पर ‘MINDESCAPES’ का वाटरमार्क और लोगो नजर आ रहा है। सर्च करने पर यह वेबसाइट मिली, जिस पर मौजूद जानकारी के मुताबिक यह प्रोजेक्ट दीपाली सिकंद (चीफ इंसपिरेशन ऑफिसर और फाउंडर) की दिमाग की उपज है। वेबसाइट पर उनके नाम और परिचय के साथ उनकी तस्वीर भी लगी हुई है। वायरल तस्वीर में वह प्रकाश करात के बगल में बैठी हुई हैं।

स्पष्ट है कि वायरल हो रह तस्वीर में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस जे बी पारदीवाला के होने का दावा गलत है। सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट पर दोनों जजों की तस्वीर लगी हुई है और यह कहीं से भी वायरल तस्वीर से मेल नहीं खाती है।

एन राम ने अपनी वेरिफाइड ट्विटर प्रोफाइल से भी वायरल तस्वीर को शेयर करते हुए इसे बेवकूफाना हरकत बताया है। उन्होंने जानकारी देते हुए कहा है कि यह तस्वीटर ऊटी के पास मौजूद केटी रेस्टोरेंट की है।

बार एंड बेंच की रिपोर्ट के मुताबिक, नूपुर शर्मा ने अपने खिलाफ अलग-अलग राज्यों में दर्ज एफआईआर के बाद सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करते हुए सभी मामलों को दिल्ली ट्रांसफर किए जाने की गुहार लगाई थी। इसी मामले की सुनवाई करते हुए दो जजों की बेंच (जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस जे बी पारदीवाला) में से जस्टिस पारदीवाला ने नूपुर शर्मा को फटकार लगाई थी। उनकी इसी टिप्पणी के बाद सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ दुष्प्रचार का सिलसिला शुरू हुआ।

वायरल तस्वीर को लेकर हमने सुप्रीम कोर्ट को कवर करने वाले टीवी9 के रिपोर्टर पीयूष पांडेय से संपर्क किया। उन्होंने पुष्टि करते हुए बताया कि इसमें नजर आ रहा कोई भी व्यक्ति जस्टिस सूर्यकांत या जस्टिस पारदीवाला नहीं हैं।

इससे पहले भी सोनिया गांधी की एक तस्वीर वायरल हुई थी, जिसमें उनके साथ नजर आ रहे व्यक्ति को जस्टिस जे बी पारदीवाला बताते हुए उनके कांग्रेस पार्टी से विधायक होने का दावा किया गया था। विश्वास न्यूज ने अपनी जांच में इस दावे को फर्जी और दुष्प्रचार पाया था, जिसकी विस्तृत फैक्ट चेक रिपोर्ट को यहां पढ़ा जा सकता है।

निष्कर्ष: प्रणव रॉय, एन राम और प्रकाश करात समेत अन्य के साथ जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस जे बी पारदीवाला के बैठे होने के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर भ्रामक है। वायरल तस्वीर में जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस जे बी पारदीवाला मौजूद नहीं हैं, बल्कि इसमें नजर आ रहे व्यक्ति तमिलनाडु के वित्त मंत्री पी त्यागराजन, डॉ. प्रणव रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय, सीपीएम नेता प्रकाश करात और उनकी पत्नी वृंदा करात, एन राम और उनकी पत्नी मरियन राम हैं और यह तस्वीर ऊटी के समीप मौजूद एक रेस्टोरेंट की है।

  • Claim Review : प्रणव रॉय और राधिका रॉय के साथ सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस जे बी पारदीवाला और जस्टिस सूर्यकांत
  • Claimed By : FB User-Drdeepak Kumar
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later