X

Quick Fact Check: RBI का खजाना खाली होने को लेकर मनमोहन सिंह के नाम से वायरल हो रहा बयान फर्जी और मनगढ़ंत

  • By Vishvas News
  • Updated: August 27, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नाम से वायरल हो रहे बयान में दावा किया गया है कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) का रिजर्व खाली हो चुका है और इस वजह से देश में 15 सालों तक देश मंदी से नहीं उबर पाएगा।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत निकला। मनमोहन सिंह के नाम से वायरल हो रहा बयान पूरी तरह से मनगढ़ंत और फर्जी है, जो इससे पहले भी सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है।

क्या हो रहा है वायरल?

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे पोस्ट (आर्काइव लिंक) में मनमोहन सिंह के हवाले से कहा गया है, ”रिजर्व बैंक में अब कुछ भी रिजर्व नहीं रहा मेरा सरकार व RBI दोनों से सवाल है कि विदेशी निवेशक आपकी किस गारंटी पर देश में निवेश करेगे..? सोना आपने पिछले साल ही कार्यकाल में गिरवी रख दिया था, बचा रिजर्व रूपया वह भी ले लिया अब कम से कम 15 वर्ष देश मंदी से नहीं उभर पाएगा। इस दौरान महंगाई आसमान छू लेगी।”

सोशल मीडिया पर गलत दावे के साथ वायरल हो रही पोस्ट

पड़ताल

फेसबुक यूजर ‘दिनेशराय द्विवेदी’ ने मनमोहन सिंह के नाम से फर्जी ट्वीट को शेयर किया है, जिसकी पड़ताल विश्वास न्यूज पहले भी कर चुका है। विश्वास न्यूज की विस्तृत पड़ताल को यहां पढ़ा जा सकता है, जिसमें वायरल पोस्ट में किए गए दोनों दावे की जांच की गई थी।

पहला दावा, रिजर्व बैंक के पास कुछ भी रिजर्व नहीं होने का था, जबकि दूसरा दावा मोदी सरकार के पिछले कार्यकाल में सोना गिरवी रखे जाने का था। दोनों ही दावे हमारी जांच में गलत साबित हुए थे।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ट्विटर पर मौजूद नहीं है। इससे पहले मनमोहन सिंह के नाम पर एक और फर्जी ट्वीट वायरल हुआ था, जिसकी पड़ताल के दौरान यह फर्जी साबित हुआ था। सिंह के ट्विटर हैंडल को लेकर कांग्रेस के सोशल मीडिया सेल के संयोजक सरल पटेल ने स्पष्टीकरण जारी किया था। उन्होंने ट्विटर पर स्पष्टीकरण देते हुए लिखा था, “मैं लोगों को यह बताते-बताते थक गया हूं कि यह अकाउंट (मनमोहन सिंह) प्रामाणिक है या नहीं। यह पहली बार नहीं है और यह आखिरी बार भी नहीं होगा। इसलिए मैं इसे हमेशा के लिए स्पष्ट कर रहा हूं। अगर सोनिया जी और मनमोहन सिंह जी ट्विटर पर आने का फैसला करेंगे तो वह वेरिफाइड ट्विटर अकाउंट होगा। इसलिए कृपया इस फर्जी अकाउंट को फॉलो न करे।”

फर्जी ट्वीट को शेयर करने वाले यूजर ने अपनी प्रोफाइल में खुद को वकील बताया है, जो राजस्थान के रहने वाले हैं। उनकी प्रोफाइल को करीब छह हजार से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: मनमोहन सिंह के नाम से आरबीआई को लेकर शेयर किया जा रहा बयान फर्जी और मनगढ़ंत है।

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later