X

Fact Check : केशव प्रसाद मौर्य का पीएम मोदी पर दिया गया पुराना बयान भ्रामक दावे के साथ हुआ वायरल

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट में इस्‍तेमाल किए गए वीडियो की जांच की। पड़ताल में यह वीडियो फर्जी निकला। दरअसल केशव प्रसाद मौर्य के पुराने वीडियो के साथ छेड़छाड़ करके यूपी चुनाव में वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: January 13, 2022

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का 20 सेकेंड का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में केशव प्रसाद मार्य कहते हुए नजर आ रहे हैं कि पीएम मोदी के रहते न कभी देश का हित हुआ है और न ही कभी किसानों का हित होगा। इस वीडियो को हालिया समय का बताते हुए और उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से जोड़ते हुए सोशल मीडिया पर यूजर्स दावा कर रहे हैं कि आखिर केशव प्रसाद मौर्य ने भाजपा की सच्चाई सामने ला कर रख दी। विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट में इस्‍तेमाल किए गए वीडियो की जांच की। पड़ताल में यह दावा फर्जी निकला। दरअसल केशव प्रसाद मौर्य के पुराने वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर उसे यूपी चुनाव में वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर Raja Sahu ने वायरल वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है कि अब तो दिल की सच्चाई ज़ुबान पर आ ही गई ! #भाजपा_भगाओ_देश_बचाओ

यहां वायरल मैसेज को ज्यों का त्यों प्रस्तुत किया गया है। ट्विटर पर भी यूजर्स इस दावे को शेयर कर रहे हैं। पोस्ट से जुड़े आर्काइव लिंक को यहां पर देखा जा सकता है।

पड़ताल –

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की सच्‍चाई जानने के लिए सबसे पहले InVID टूल का इस्‍तेमाल किया। वायरल वीडियो के कई ग्रैब्‍स इसके माध्‍यम से निकाले गए। इसके बाद इनकी मदद से गूगल रिवर्स सर्च टूल का इस्‍तेमाल करते हुए ओरिजनल सोर्स तक पहुंचने की कोशिश की गई। इस दौरान हमें Rameshwar thakur नामक ट्विटर अकाउंट पर वीडियो से जुड़ी जानकारी प्राप्त हुई। 4 फरवरी 2021 को किए गए इस ट्वीट के अनुसार वायरल वीडियो एडिटेड है। ट्वीट में दी गई जानकारी के मुताबिक, वीडियो में अहित शब्द को एडिट कर हित कर दिया गया है।

प्राप्त जानकारी के आधार पर हमने फेसबुक पर कुछ कीवर्ड्स के जरिए सर्च किया। इस दौरान हमें असली वीडियो Keshav Prasad Maurya नामक फेसबुक पेज पर 3 फरवरी 2021 को अपलोड मिला। केशव प्रसाद मौर्य ने अपने फेसबुक पर लाइव आकर किसानों से पीएम मोदी पर भरासा रखने की बातें कही थी, ये वीडियो उसी दौरान का है। 25 मिनट के इस वीडियो को पूरा देखने पर हमने पाया कि वायरल वीडियो का उत्तर प्रदेश चुनाव से कोई संबंध नहीं है। किसान आंदोलन के दौरान केशव प्रसाद मौर्य ने लाइव आकर किसानों से आंदोलन बंद करने की और पीएम मोदी पर भरोसा रखने की बात कही थी। 1 मिनट 10 सेकेंड से लेकर 1 मिनट 28 सेकेंड तक केशव प्रसाद मौर्य को कहते हुए सुना जा सकता है कि पीएम मोदी के रहते न कभी देश का अहित हुआ है और न ही कभी किसानों का अहित होगा। उन पर भरोसा रखिए। केशव प्रसाद मौर्य के इन्हीं शब्दों के साथ छेड़छाड़ कर गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। हमने गूगल पर कई कीवर्ड्स के जरिए सर्च किया। लेकिन हमें ऐसी कोई विश्वसनीय रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई, जिसमें इस बात का जिक्र हो कि केशव प्रसाद मौर्य ने पीएम मोदी के खिलाफ इस तरह का कोई बयान दिया हो।

अधिक जानकारी के लिए हमने दैनिक जागरण के उत्तर प्रदेश के ब्यूरो चीफ अजय जायसवाल की मदद से भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी से संपर्क किया। वॉट्सऐप के जरिए वायरल वीडियो को उनके साथ शेयर किया। उन्होंने हमें बताया कि वायरल दावा गलत है। उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य कोविड काल के दौरान फेसबुक लाइव करते थे। यह वीडियो उसी दौरान का है। वह अहित कह रहे हैं, जिसे विपक्षी दल हित कहकर दुष्प्रचारित कर रहे हैं। पहले भी जब विपक्ष ने यह मामला उठाया था, तब भी इसे स्पष्ट कर दिया गया था। विपक्षी पार्टियां केशव प्रसाद मौर्य की छवि खराब करने के लिए इस तरह के गलत वीडियो शेयर कर रहे हैं।

पड़ताल के अंत में विश्‍वास न्‍यूज ने फर्जी पोस्‍ट करने वाले यूजर Raja Sahu की जांच की। फेसबुक यूजर की सोशल स्‍कैनिंग से पता चला कि यूजर एक खास विचारधारा से प्रभावित है। यूजर के फेसबुक पर तकरीबन 15 सौ फॉलोअर्स हैं। Raja Sahu राजस्थान के उदयपुर शहर के रहने वाला है।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट में इस्‍तेमाल किए गए वीडियो की जांच की। पड़ताल में यह वीडियो फर्जी निकला। दरअसल केशव प्रसाद मौर्य के पुराने वीडियो के साथ छेड़छाड़ करके यूपी चुनाव में वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : अब तो दिल की सच्चाई ज़ुबान पर आ ही गई ! #भाजपा_भगाओ_देश_बचाओ
  • Claimed By : Raja Sahu
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later