X

Fact Check: वीडियो में नज़र आ रहा शख्स नहीं है यूके का मुस्लिम मिनिस्टर, वायरल पोस्ट का दावा फर्जी है

विश्वास न्यूज़ ने इस वीडियो की पड़ताल की तो पाया कि वीडियो में नज़र आ रहा व्यक्ति यूके के मुस्लिम मिनिस्टर नहीं हैं और ना वह मुस्लिम है। वायरल वीडियो वाला व्यक्ति यूके बेस्ड हिन्दू स्कॉलर थे, जिनकी मृत्यु दिसंबर 2020 में हो चुकी है।

  • By Vishvas News
  • Updated: October 16, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज़)। सोशल मीडिया पर दो मिनट 25 सेकंड का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक शख्स को हिंदूइज्म से जुडी़ बातें कहते हुए सुना जा सकता है। इस वीडियो को शेयर करते हुए यूजर दावा कर रहे हैं कि यह शख्स यूनाइटेड किंगडम के मुस्लिम मिनिस्टर हैं। जब विश्वास न्यूज़ ने इस वीडियो की पड़ताल की तो पाया कि वीडियो में नज़र आ रहा व्यक्ति यूके के मुस्लिम मिनिस्टर नहीं हैं। वायरल वीडियो वाला व्यक्ति यूके बेस्ड हिन्दू स्कॉलर थे, जिनकी मृत्यु दिसंबर 2020 में हो चुकी है।

क्या है वायरल पोस्ट में ?

फेसबुक यूजर ने वायरल वीडियो को अपलोड किया और साथ में लिखा, ‘He is Muslim minister in UK, look what he says….very surprised. Spare a minute and watch’.

पोस्ट् के आर्काइव वर्जन को यहाँ देखें।

पड़ताल

अपनी पड़ताल को शुरू करते हुए सबसे पहले हमने इनविड टूल में वीडियो को अपलोड किया और उसके कीफ्रेम्स निकाले । फिर उन्हें गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया। सर्च में हमें यह वीडियो एक ट्विटर यूजर के ज़रिये ट्वीट हुआ मिला। यूजर ने वीडियो को 4 फरवरी 2019 को ट्वीट किया है और इसमें बात करते हुए नज़र आ रहे व्यक्ति का नाम ‘जय लखानी’ लिखा है।

इसी को अपनी पड़ताल की बुनियाद बनाते हुए हम ने गूगल पर जय लखानी नाम लिखकर सर्च किया। हमें iglobalnews नाम की वेबसाइट पर एक आर्टिकल मिला, जहां वायरल वीडियो वाले शख्स की तस्वीर को देखा जा सकता है। 8 दिसंबर 2020 को अपलोड हुए इस आर्टिकल में दी गयी जानकारी के मुताबिक, ‘थिओरोटिकल फिजिसिस्ट और वैश्विक स्पीकर जय लखानी का 72 वर्ष की आयु में 4 दिसंबर को घर पर शांतिपूर्वक निधन हो गया। ब्रिटिश हिंदू समुदाय के लिए यह एक दुखद दिन था, क्योंकि उन्होंने हिंदू अध्ययन के विद्वान और स्कॉलर को विदाई दी। इस पूरी खबर में हमें कहीं भी यह जानकारी नहीं मिली की वह यूके के मिनिस्टर थे।

हमें जय लखानी की मृत्यु से जुडी खबर हिन्दू पोस्ट नाम की वेबसाइट पर भी मिली। 8 दिसंबर 2020 की इस खबर के मुताबिक, ‘श्री दिलीप (जय) लखानी, हिंदू अकादमी के संस्थापक का 4 दिसंबर को ब्रिटेन में शांतिपूर्वक निधन हो गया। श्री लखानी दुनिया भर के लाखों हिंदुओं और विशेष रूप से ब्रिटेन में रहने वालों के लिए एक प्रेरणादायक व्यक्ति थे। हिंदू अकादमी की वेबसाइट और YouTube चैनल सभी उम्र के हिंदुओं के लिए एक खजाना है।”

अपनी पड़ताल को हमने आगे बढ़ाया और जय लखानी के वीडियो को तलाश करना शुरू किया। सर्च में हमें उनके ऑफिशियल यूट्यूब चैंनल ‘हिन्दू अकादमी’ पर वायरल वीडियो 28 फरवरी 2018 को अपलोड हुआ मिला। इस यूट्यूब चैनल पर जय लखानी के और भी वीडियो देखे जा सकते हैं।

अपनी पड़ताल को जारी रखते हुए हम हिन्दू अकादमी की वेबसाइट पर पहुंचे और वहां से हमे कॉन्टैक्ट के लिए ईमेल आईडी मिली। वायरल वीडियो के साथ किये जा रहे दावे की पुष्टि करने के लिए हमने हिन्दू अकादमी से मेल के ज़रिये संपर्क किया और वायरल वीडियो का लिंक शेयर किया। मेल का जवाब देते हुए हमें बताया गया. ‘यह वीडियो जय लखानी सर का है और वह हिन्दू हैं।’ हमारे साथ उनकी मृत्यु की खबर से जुड़े कुछ न्यूज़ लिंक और जय लखानी की लिंक्डइन प्रोफाइल भी शेयर की गयी, जिसको यहाँ देखा जा सकता है।

फर्जी पोस्ट को शेयर करने वाले फेसबुक यूजर की सोशल स्कैनिंग में हमने पाया कि यूजर Unni Krishnan को 3545 लोग फॉलो करते हैं। यूजर फेसबुक पर काफी एक्टिव रहता है।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ ने इस वीडियो की पड़ताल की तो पाया कि वीडियो में नज़र आ रहा व्यक्ति यूके के मुस्लिम मिनिस्टर नहीं हैं और ना वह मुस्लिम है। वायरल वीडियो वाला व्यक्ति यूके बेस्ड हिन्दू स्कॉलर थे, जिनकी मृत्यु दिसंबर 2020 में हो चुकी है।

  • Claim Review : He is Muslim minister in UK, look what he says
  • Claimed By : Unni Krishnan
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later