X

Fact Check: कोरोना वायरस को लेकर रघुराम राजन के नाम से वायरल हो रहा मैसेज फर्जी है, पूर्व RBI गवर्नर ने नहीं की IMF के वेबिनार की अध्यक्षता

  • By Vishvas News
  • Updated: April 22, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पूर्व गर्वनर और अर्थशास्त्री रघुराम राजन के नाम से एक पोस्ट वायरल हो रही है, जिसमें कोरोना वायरस की वजह से अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले कई प्रभावों का विश्लेषण किया गया है। दावा किया जा रहा है अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की तरफ से एक वेबिनार का आयोजन किया गया था, जिसे संबोधित करते हुए रघुराम राजन ने कहा कि भारत कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में लगभग सफल रहा है और ऐसा लगता है कि उसे इसकी वजह से सर्वाधिक बुरी स्थिति का सामना नहीं करना होगा।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। रघुराम राजन ने IMF की तरफ से आयोजित किसी भी वेबिनार को संबोधित नहीं किया था और उनके नाम से वायरल हो रहा मैसेज फर्जी है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘Veni La’ ने वायरल पोस्ट (आर्काइव लिंक)को शेयर किया है, जिसमें दावा किया गया है कि यह सभी सुझाव IMF की तरफ से आयोजित वेबिनार में रघुराम राजन की तरफ से दिए गए हैं।

सोशल मीडिया पर रघुराम राजन के नाम से वायरल हो रही फर्जी पोस्ट

सोशल मीडिया पर कई अन्य यूजर्स ने इस पोस्ट को समान दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

IMF की वेबसाइट पर हमें ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली, जिसमें ऐसी किसी वेबिनार का जिक्र हो, जिसकी अध्यक्षता रघुराम राजन ने की हो। IMF के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर भी हमें ऐसे किसी वेबिनार के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली। IMF के यूट्यूब चैनल पर भी हमें ऐसे किसी वेबिनार का वीडियो नहीं मिला।

IMF के ट्विटर हैंडल पर दी गई ताजा जानकारी के मुताबिक, IMF के मैनेजिंग डायरेक्टर ने रीजनल फाइनेंसिंग अरेंजमेंट्स के प्रमुखों के साथ पर 21 अप्रैल को कॉन्फ्रेंस कॉल किया था।

न्यूज सर्च में भी हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली, जिसमें रघुराम राजन के IMF की तरफ से आयोजित किसी वेबिनार को संबोधित किए जाने का जिक्र हो। हालांकि, सर्च में हमें ऐसे कई आर्टिकल मिले, जिसमें इसे फर्जी खबर बताया गया था।

‘बिजनेस टुडे’ की खबर के मुताबिक, रघुराम राजन ने IMF के वेबिनार की अध्यक्षता करने के दावे को खारिज किया है। राजन ने इसे फेक न्यूज बताते हुए लोगों को अफवाहों के प्रति सावधान किया।

इसके बाद हमने रघुराम राजन के सोशल मीडिया हैंडल को सर्च किया। राजन लिंक्डइन पर सर्वाधिक सक्रिय रहते हैं। राजन ने अपने लिंक्डइन प्रोफाइल पर इसका खंडन करते हुए कहा, ‘भारत के वॉट्सऐप ग्रुप में ऐसी खबरें चल रही है कि मैंने IMF के किसी वेबिनार की अध्यक्षता की है। मैंने ऐसे किसी वेबिनार में भाग नहीं लिया है। फेक न्यूज के इस जमाने में हर ऐसी घटना पर प्रतिक्रिया देना संभव नहीं है, लेकिन मैं इतना कह सकता हूं कि मैं अपनी हर जरूरी बात केवल इस मंच से कहता हूं।’

रघुराम राजन की तरफ से किए गए खंडन वाले पोस्ट पर अभिषेक लूनिया (Abhishek Lunia) की तरफ से की गई टिप्पणी मिली। उन्होंने लिखा है, ‘दर्शन मेहता के एक वेबिनार को सुनने के बाद मैंने इस (वायरल) मैसेज को ड्राफ्ट किया था। मूल मैसेज में मेहता का नाम लिखा था और उसमें साफ-साफ बताया था कि यह सभी बातें वेबिनार में उनकी तरफ से की गई बातचीत का सार है। इसे मैंने प्रोफेशनल फ्रेंड्स के साथ शेयर किया था, ताकि मेहता की बातों को लोगों तक पहुंचाया जा सके। इस बीच यह वायरल हो गया और किसी ने मेहता की जगह आपका (रघुराम राजन) नाम इसमें जोड़ दिया। मैं उम्मीद करता हूं कि लोग लॉकडाउन के दौरान सकारात्मक काम करेंगे और फर्जी खबर नहीं फैलाएंगे।’

सर्च में हमें medium.com पर 18 अप्रैल को प्रकाशित एक खबर का लिंक मिला, जिसमें रिलायंस ब्रांड लिमिटेड के सीईओ दर्शन मेहता की तरफ से वेबिनार को संबोधित किए जाने का जिक्र है। खबर में उस वेबिनार के महत्वपूर्ण बिंदुओं का जिक्र किया गया है, जिसे हूबहू कॉपी कर रघुराम राजन के नाम से वायरल कर दिया गया।


medium.com पर 18 अप्रैल को प्रकाशित खबर

सर्च में हमें फेसबुक पेज ‘Ahmedabad’ पर 17 अप्रैल को इसी पोस्ट को शेयर किया गया है और उसमें साफ-साफ लिखा है कि यह सभी बातें रिलायंस ब्रांड्स लिमिटेड के सीईओ दर्शन मेहता की तरफ से वेबिनार में कही गई बातें हैं।

वायरल पोस्ट को शेयर करने वाले यूजर को फेसबुक पर करीब 2000 से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

Disclaimer: कोरोनावायरसफैक्ट डाटाबेस रिकॉर्ड फैक्ट-चेक कोरोना वायरस संक्रमण (COVID-19) की शुरुआत से ही प्रकाशित हो रही है। कोरोना महामारी और इसके परिणाम लगातार सामने आ रहे हैं और जो डाटा शुरू में एक्यूरेट लग रहे थे, उसमें भी काफी बदलाव देखने को मिले हैं। आने वाले समय में इसमें और भी बदलाव होने का चांस है। आप उस तारीख को याद करें जब आपने फैक्ट को शेयर करने से पहले पढ़ा था।

निष्कर्ष: निष्कर्ष: सोशल मीडिया पर रघुराम राजन के IMF के वेबिनार में भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर दिए गए सुझावों के साथ वायरल हो रहा पोस्ट फर्जी है। रघुराम राजन ने IMF के किसी वेबिनार की अध्यक्षता किए जाने का खंडन किया है।

  • Claim Review : रघुराम राजन ने की IMF के वेबिनार की अध्यक्षता
  • Claimed By : FB USER-Veni La
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later