X

Fact Check: भूस्खलन का यह वीडियो मेघालय का नहीं इंडोनेशिया का है

  • By Vishvas News
  • Updated: May 27, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। पूर्वोत्तर भारत के कुछ राज्यों में भारी बारिश की वजह से हुए भूस्खलन की घटनाओं के बाद सोशल मीडिया पर भूस्खलन का एक वीडियो साझा किया जा रहा है, जिसे लेकर दावा किया जा रहा है कि यह मेघालय का है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। मेघालय में हुए भूस्खलन के नाम पर वायरल हो रहा वीडियो इंडोनेशिया में हुई भूस्खलन की घटना का पुराना वीडियो है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘The Life MANIPUr’ ने वायरल वीडियो को शेयर (आर्काइव लिंक) करते हुए लिखा है, ”Landslide in Meghalaya.” हिंदी में इसे ऐसे पढ़ा जा सकता है, ‘मेघालय में भूस्खलन।’

पड़ताल

न्यूज सर्च में हमें ऐसी कई रिपोर्ट मिली। इसके मुताबिक, पूर्वोत्तर भारत के तीन राज्यों असम, अरुणाचल प्रदेश और मेघालय में बाढ़ और भूस्खलन की वजह से हुई मौत का जिक्र है। दैनिक भास्कर में 27 मई को प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, ‘देश में पूर्वोत्तर के तीन राज्यों असम, अरुणाचल प्रदेश और मेघालय में बाढ़ और भूस्खलन के कारण कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई है। बाढ़ से 350 से अधिक गांवों के 2.50 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। दरअसल असम, अरुणाचल प्रदेश और मेघालय में लगातार हो रही बारिश से कई इलाके बाढ़ग्रस्त हो गए हैं। बाढ़ से असम के सात जिलों में करीब दो लाख लोग प्रभावित हुए हैं। राज्य के अधिकांश हिस्सों में मंगलवार से बारिश हो रही है। मेघालय और अरुणाचल प्रदेश का भी यही हाल है।’

दैनिक भास्कर में 27 मई को प्रकाशित रिपोर्ट

न्यूज एजेंसी ANI की तरफ से 27 मई को किए गए ट्वीट के मुताबिक, मेघालय के पश्चिम जयंतिया हिल्स में बादल फटने और भूस्खलन की घटना हुई है।

इसके बाद हमने वायरल वीडियो के साथ किए गए दावे का पता लगाने के लिए वीडियो के की-फ्रेम्स को रिवर्स इमेज किया। सर्च में हमें ‘SumaNews Official’ नामक यू-ट्यूब चैनल पर 9 अप्रैल 2020 को अपलोड किया गया बुलेटिन मिला, जिसमें इसी वीडियो का इस्तेमाल किया गया है।

वीडियो के साथ दी गई इंडोनेशियाई भाषा में दी गई जानकारी के मुताबिक, भूस्खलन की यह घटना सुकांगारा सिएंजूर की है। न्यूज पोर्टल ‘sukabumiupdate.com’ पर 9 अप्रैल 2020 को प्रकाशित रिपोर्ट में इस घटना का जिक्र है। इस रिपोर्ट में भी भूस्खलन की घटना की जगह सुकांगारा सिएंजूर बताई गई है।

सर्च में हमें मेघालय पुलिस की तरफ से किया गया एक ट्वीट मिला, जिसमें इस वायरल वीडियो को लेकर स्पष्टीकरण जारी किया गया है।

मेघालय पुलिस की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक, ‘सोशल मीडिया पर भूस्खलन का एक वीडियो शेयर किया जा रहा है, जो इंडोनेशिया के सुकांगारा सिएंजूर की है न कि मेघालय के नेशनल हाईवे की। हम लोगों से आग्रह करते हैं कि वह इस वीडियो को फर्जी जानकारी के साथ शेयर न करें।’

विश्वास न्यूज ने इसके बाद शिलांग के एसपी सिटी विक्रम डी मारक से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया- ‘मेघालय के कुछ इलाकों में भूस्खलन की घटनाएं हुई हैं, लेकिन वायरल वीडियो में नजर आ रहा भूस्खलन मेघालय से संबंधित नहीं है।’ उन्होंने कहा, ‘मेघालय के राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी भूस्खलन की कोई घटना नहीं हुई है।’

वायरल वीडियो शेयर करने वाले फेसबुक पेज को करीब 3500 से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: मेघालय में हुए भूस्खलन के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो इंडोनेशिया में हुए भूस्खलन की घटना से संबंधित है।

  • Claim Review : मेघालय में भूस्खलन Landslide in Meghalaya
  • Claimed By : FB Page-The Life MANIPUr
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later