X

Fact Check: बच्ची के साथ क्रूरता की घटना में कोई सांप्रदायिक पहलू नहीं, पीड़िता और आरोपी दोनों मुस्लिम हैं

विश्वास न्यूज ने वीडियो की जांच में पाया कि पाकिस्तानी यूजर इस वीडियो को भड़काऊ सांप्रादियक दावे के साथ वायरल कर रहे हैं, जबकि पीड़िता और आरोपी दोनों मुसलमान हैं।

  • By Vishvas News
  • Updated: November 24, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें हिजाब पहने एक छोटी-सी बच्ची को एक आदमी द्वारा जमीन पर पटकते हुए देखा जा सकता है। वीडियो को सांप्रदायिक रंग देते हुए शेयर किया जा रहा है और यूजर्स दावा कर रहे हैं कि बच्ची के साथ क्रूरता करने वाला यह शख्स हिंदू है और उसने इस्लामिक स्कूल में जाने की वजह से लड़की को इस तरह से पटक दिया।

विश्वास न्यूज ने वीडियो की जांच में पाया कि पाकिस्तानी यूजर इस वीडियो को भड़काऊ सांप्रादियक दावे के साथ वायरल कर रहे हैं, जबकि पीड़िता और आरोपी दोनों मुसलमान हैं।

वायरल पोस्ट में क्या है?

फेसबुक यूजर ने वायरल पोस्ट को शेयर करते हुए लिखा, “भारतीय राज्य केरल में, एक चरमपंथी हिंदू ने नौ साल की मुस्लिम लड़की को उठा लिया और उसे बेरहमी से जमीन पर पटक दिया क्योंकि वह अपने इस्लामिक स्कूल में जा रही थी।”

पोस्ट का आर्काइव वर्जन यहां देखें।

पड़ताल

न्यूज 18 वेबसाइट पर अपलोड की गई खबर के साथ हमें इसी वीडियो का स्क्रीनग्रैब मिला। 18 नवंबर 2022 को अपडेट की गई खबर के मुताबिक, ‘मंजेश्वर में एक 31 वर्षीय व्यक्ति को नाबालिग को उठाने और बिना किसी उकसावे के सड़क पर फेंकने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। यह भीषण घटना आज सुबह उस समय हुई, जब आठ साल की बच्ची अपने चाचा का मदरसे के बाहर इंतजार कर रही थी। पुलिस ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद आरोपी स्थानीय निवासी अबु बकर सिद्दीकी को गिरफ्तार कर लिया गया।

अपनी जांच को आगे बढ़ाते हुए हमने न्यूज़ सर्च किया। सर्च करने पर हमें मनोरमा न्यूज के यूट्यूब चैनल पर 17 नवंबर 2022 को अपलोड किया गया यही वायरल वीडियो मिला। वीडियो के साथ यहां दी गई जानकारी के मुताबिक, ”आरोपी अबु बकर को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

न्यूज़ ट्रैक की वेबसाइट पर भी इसी मामले से संबंधित 17 नवंबर, 2022 की खबर मिली। जानकारी के मुताबिक, ‘सोशल मीडिया पर केरल के कासरगढ़ का एक दिल दहला देने वाला वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें एक बच्ची स्कूल के बाहर सड़क के किनारे अपने रिश्तेदार का इंतजार कर रही है। इसी बीच एक व्यक्ति सड़क के दूसरी ओर से आता है और उसे सामान की तरह उठाकर जमीन पर पटक देता है। वीडियो को ध्यान से देखने पर ऐसा लगता है कि बच्ची ने बुर्का पहन रखा है। बच्ची की उम्र महज 8-9 साल है। आरोपी का नाम अबु बकर सिद्दीकी है। इस मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पूरी खबर यहां पढ़ी जा सकती है।

विश्वास न्यूज ने इस मामले पर कार्रवाई कर रहे केरल के मंजेश्वर पुलिस स्टेशन से भी संपर्क किया। वहां के पुलिस इंस्पेक्टर संतोष कुमार ने हमें बताया कि ‘मामले की अभी जांच चल रही है, लेकिन पीड़ित और आरोपी दोनों मुस्लिम हैं। इस व्यक्ति का मानसिक संतुलन ठीक नहीं था। हालांकि, कुछ स्थानीय लोगों का कहना है कि वह ड्रग्स भी लेता है और नशे की हालत में रहता है। पुलिस अभी मामले की तफ्तीश कर रही है।’

वीडियो को फर्जी दावे के साथ शेयर करने वाले फेसबुक यूजर की सोशल स्कैनिंग में हमने पाया कि यूजर पाकिस्तान के कराची का रहने वाला है।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज ने वीडियो की जांच में पाया कि पाकिस्तानी यूजर इस वीडियो को भड़काऊ सांप्रादियक दावे के साथ वायरल कर रहे हैं, जबकि पीड़िता और आरोपी दोनों मुसलमान हैं।

  • Claim Review : मदरसा जा रही मुस्लिम लड़की को हिंदू युवक ने बेरहमी से जमीन पर पटक दिया
  • Claimed By : Muhammad Hanif Brohi
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later