X

Fact Check: रिलायंस जियो नहीं कर रहा है फेडरल बैंक का अधिग्रहण; वायरल पोस्ट फर्जी है

विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में दावा फर्जी निकला। रिलायंस स्पोक्सपर्सन ने विश्वास न्यूज़ से बात करते हुए बताया कि यह महज़ एक अफवाह है। कॉरपोरेट घराने को बैंकों का मालिकाना हक़ रखने की अनुमति नहीं है।

  • By Vishvas News
  • Updated: September 16, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज): सोशल मीडिया पर एक लेटर वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि रिलायंस जियो फेडरल बैंक का अधिग्रहण करने जा रहा है और यह सौदा 73616 करोड़ में हुआ है। विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में दावा फर्जी निकला। रिलायंस स्पोक्सपर्सन ने विश्वास न्यूज़ से बात करते हुए बताया कि यह महज़ एक अफवाह है। कॉरपोरेट घरानों को बैंकों का मालिकाना हक़ रखने की अनुमति नहीं है।”

क्या हो रहा है वायरल ?

वॉट्सऐप पर वायरल इस लेटर में लिखा है, “MEDIA RELEASE: RELIANCE JIO TO ACQUIRE FEDERAL BANK AT 10 BILLION USD
VALUATION; JIO TO ENTER BANKING INDUSTRY WITH THE ACQUISITION; Mumbai, September 13, 2021: Reliance Jio Infocomm Ltd (“RJIL”) announced today that it has concluded the definitive Agreement entered with Federal Bank Limited for acquisition of it’s bank. RJIL has paid total consideration of Rs. 73,616 crores (inclusive of taxes) to Federal Bank and has assumed ownership. With this trading of information the Federal Bank will be wholly-owned subsidiary of Reliane Jio Infocomm Ltd(“RJIL”)”

जसका हिंदी अनुवाद होता है “मीडिया विज्ञप्ति: 10 बिलियन अमेरिकी डालर मूल्यांकन में फेडरल बैंक का अधिग्रहण करेगा रिलायंस जियो; अधिग्रहण के साथ बैंकिंग उद्योग में प्रवेश करेगा जियो; मुंबई, 13 सितंबर, 2021: रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड (“आरजेआईएल”) ने आज घोषणा की कि उसने बैंक के अधिग्रहण के लिए फेडरल बैंक लिमिटेड के साथ किए गए निश्चित समझौते को पूरा कर लिया है। आरजेआईएल ने कुल 73,616 करोड़ (करों सहित) रुपये का भुगतान किया है। इस सूचना के साथ फेडरल बैंक रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड (“आरजेआईएल”) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी होगी।”

पड़ताल

इस पोस्ट की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले फेडरल बैंक की वेबसाइट और सोशल मीडिया हैंडल्स को खंगाला। हमें कहीं भी ऐसी कोई खबर नहीं मिली।

रिलायंस जिओ की वेबसाइट और सोशल मीडिया हैंडल्स पर भी ऐसी कोई खबर नहीं मिली।

इस लेटर के ऊपर प्रेस रिलीज़ लिखा है। मीडिया का हिस्सा होने के कारण विश्वास न्यूज़ के बिज़नेस टीम को रिलायंस जिओ के सभी प्रेस रिलीज़ मिलते हैं। हमने अपने मेल को खंगाला, मगर कहीं भी यह प्रेस रिलीज़ नहीं मिला। रिलायंस की और से आया लास्ट प्रेस रिलीज़ सरकारी रिफॉर्म्स के बारे में था। इसका स्क्रीनशॉट यहाँ देखा जा सकता है।

इसके बाद विश्वास न्यूज़ ने रिलायंस जिओ के प्रवक्ता से संपर्क साधा। हमसे बात करते हुए उन्होंने कहा, “यह लेटर बिल्कुल फर्जी है। आरबीआई के दिशानिर्देशों के अनुसार जियो या कोई भी और कॉरपोरेट घराना किसी भी बैंक का अधिग्रहण नहीं कर सकते।”

इस दावे को सोशल मीडिया पर Kanika Devani नाम की ट्विटर यूजर ने शेयर किया। यूजर के 18 फ़ॉलोअर्स हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में दावा फर्जी निकला। रिलायंस स्पोक्सपर्सन ने विश्वास न्यूज़ से बात करते हुए बताया कि यह महज़ एक अफवाह है। कॉरपोरेट घराने को बैंकों का मालिकाना हक़ रखने की अनुमति नहीं है।

  • Claim Review : Reliance Jio to acquire Federal bank. This is huge.
  • Claimed By : Kanika Devani
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later