X

Fact Check: सोशल मीडिया पर वायरल ‘चन्ना मेरेया’ गाना गाने वाले लड़के की मृत्यु एप्लास्टिक एनीमिया के कारण हुई थी, COVID 19 के कारण नहीं

  • By Vishvas News
  • Updated: July 18, 2020

नई दिल्ली, विश्वास न्यूज़। अस्पताल के एक कमरे में ‘चन्ना मेरेया’ गाना गाने वाले एक लड़के का एक वीडियो सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ वायरल हो रहा है कि उसकी मौत COVID -19 से हो गयी है। विश्वास न्यूज़ के पास ये वीडियो सबसे पहले वॉट्सऐप पर आया। हमें यह वीडियो फेसबुक और ट्विटर पर भी इसी दावे के साथ मिला कि इस लड़के की मौत COVID -19 के कारण हुई है। हमारी जांच में पता चला है कि यह दावा गलत है। इस लड़के की मृत्यु COVID -19 के कारण नहीं, बल्कि एप्लास्टिक एनीमिया के कारण 8 जुलाई को हो गई थी। एप्लास्टिक एनीमिया एक ऐसी बीमारी है, जिसमें शरीर में पर्याप्त मात्रा में नई रक्त कोशिकाएं बनना बंद हो जाती हैं, जिससे थकावट होती है और संक्रमण और अनियंत्रित रक्तस्राव की संभावना बढ़ जाती है।

क्या हो रहा है वायरल?

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट में दावा किया गया है कि ‘चन्ना मेरेया’ हिंदी गाना गाने वाले असम के इस लड़के की इस वीडियो को रिकॉर्ड करने के बाद COVID 19 से मौत हो गयी। फेसबुक पेज ‘वॉयस ऑफ सिक्किम’ पर अपलोडेड इस वीडियो को 98,000 बार देखा गया है।

इस वीडियो के आर्काइव लिंक को यहां देखा जा सकता है।

वीडियो YouTube और स्नैप चैट जैसे कई अन्य प्लेटफार्मों पर भी गलत दावे के साथ वायरल है।

पड़ताल

जब हमने वीडियो के नीचे दिए गए डिस्क्रिप्शन के साथ इंटरनेट पर खोज की, तो हमें मीडिया द्वारा कवर की गयी इस स्टोरी के कई लिंक मिले।

हमें पता चला कि वीडियो में दिख रहे लड़के का नाम ऋषभ दत्ता, 17 वर्ष, है जो असम के तिनसुकिया जिले के काकोपोथर का निवासी था। 8 जुलाई, 2020 को उनका निधन हो गया था।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, “असम के तिनसुकिया जिले के काकोपोथर के 17 वर्षीय ऋषभ दत्ता, अपनी संगीत प्रतिभा की बदौलत, 2019 के अंत में इंटरनेट सनसनी बन गए थे। उन्हें एप्लास्टिक एनीमिया की बीमारी थी, जिसके कारण शरीर पर्याप्त नई रक्त कोशिकाओं का उत्पादन बंद कर देता है। राज्य में और आसपास के कई लोगों ने दत्ता के इलाज के लिए धन जुटाने में योगदान दिया था। बेंगलुरु में गुरुवार को उनकी मृत्यु के बाद, उनके कई वीडियो सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से फिर से साझा किए जा रहे हैं।” 11 जुलाई को प्रकाशित इस खबर में कहीं भी ऋषभ के COVID -19 पॉजिटिव होने की बात नहीं लिखी थी।

इंडिया टुडे पर भी हमें 17 वर्षीय ऋषभ दत्ता की मृत्यु की खबर मिली। मगर इस खबर में भी यही लिखा था कि उनकी मृत्यु एप्लास्टिक एनीमिया के कारण हुई थी। इस खबर में भी ऋषभ के COVID -19 पॉजिटिव होने की बात नहीं लिखी थी।

अप्लास्टिक एनीमिया एक दुर्लभ और गंभीर रक्त विकार है, जो तब होता है, जब बोन मैरो शरीर के लिए सामान्य रूप से काम करने के लिए पर्याप्त नई रक्त कोशिकाओं को नहीं बना पता।

वायरल वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि किसी भी डॉक्टर या नर्स ने पीपीई सूट नहीं पहना है। COVID -19 के मरीज़ों के पास कभी भी मेडिकल प्रोफेशनल बिना पीपीई सूट के नहीं जाते।

इसके बाद हमने बेंगलुरु के उस हॉस्पिटल से संपर्क किया, जहां ऋषभ को भर्ती कराया गया था।

नारायण हेल्थ सिटी, बेंगलुरु के मुख्य परिचालन अधिकारी (CMO) जोसेफ पसंगा ने हमें बताया, “मास्टर ऋषभ दत्ता कैंसर से जूझ रहे थे, जिसे एप्लास्टिक एनीमिया कहा जाता था और वह नवंबर, 2019 से नारायण हेल्थ सिटी में अपना इलाज करा रहे थे। 8 जुलाई, 2020 को उनकी इसी बीमारी के कारण मृत्यु हो गई। हम पूरी तरह से जांच कर चुके हैं और वह COVID 19 पॉजिटिव नहीं थे। परिवार के प्रति हार्दिक संवेदना।”

स्वर्गीय ऋषभ दत्ता के भाई ने भी हमसे फ़ोन कॉल पर इस बात की पुष्टि की कि ऋषभ दत्ता COVID 19 पॉजिटिव नहीं थे। उनकी मृत्यु एप्लास्टिक एनीमिया के चलते हुई थी।

इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर The Voice of Sikkim नाम के एक फेसबुक पेज ने शेयर किया था। इस पेज के कुल 882.7K फ़ॉलोअर्स हैं।

Disclaimer: इस स्टोरी में से कुछ शब्द हटाए गए हैं। शब्दों को हटाए जाने से फैक्ट चेक या उसके निष्कर्ष पर कोई फर्क नहीं पड़ा है।

निष्कर्ष: हमारी जांच में पता चला है कि यह दावा गलत है। इस लड़के की मृत्यु COVID 19 के कारण नहीं, बल्कि ऐप्लास्टिक एनीमिया के कारण 8 जुलाई को हो गई थी। ऐप्लास्टिक एनीमिया एक ऐसी बीमारी है जिसमें शरीर में पर्याप्त मात्रा में नई रक्त कोशिकाएं बनना बंद हो जाती हैं, जिससे थकावट होती है और संक्रमण और अनियंत्रित रक्तस्राव की संभावना बढ़ जाती है।

  • Claim Review : Covid 19 : 'Achha Chalta Hu' Boy Breathed His Last After Singing A Hindi Song Playing Guitar Videos of Assam boy’s soulful singing have netizens teary-eyed after his death As the news of his death was known, one of the last few videos of him singing 'Achha Chalta Hoon' from Ae Dil Hai Mushkil is being widely shared across social media sites, leaving many teary eyed online. Rishab Dutta, a 17-year-old from Kakopothar in Assam’s Tinsukia District, became an internet sensation in late 2019 thanks to his musical talent. Diagnosed two years ago with the rare condition of Aplastic anemia, in which the body stops producing enough new blood cells, many in and around the state had contributed to raise funds for Dutta’s treatment. But after his death on Thursday in Bengaluru, many of his videos are being widely shared again on social media. Dutta got many followers thanks to his music while undergoing treatment first at Christian Medical College in Vellore, and later at a private hospital in Bengaluru. Friends and family of the teen regularly shared videos of him singing in his hospital room, often surrounded by the doctors and nurses who were treating him. Dutta aspired to be a professional singer. After news of his death emerged, one of his last videos that featured him singing ‘Achha Chalta Hoon’ from Ae Dil Hai Mushkil is being widely shared on social media. The video was viewed nearly 4 lakh times and had over 10,000 shares in less than 16 hours.
  • Claimed By : The Voice of Sikkim
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later