Fact Check: कुवैती सिंगर ने सुषमा स्वराज के सामने ‘वैष्णव जन’ भजन गाया था, न कि ‘राम मंदिर’ का गाना

0

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। आजकल सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को देखा जा सकता है। वीडियो में उनके सामने एक व्यक्ति इस्लामी पारम्परिक लिबास पहन कर गाना गा रहा है। वीडियो में इस व्यक्ति को “राम मंदिर” पर गाना गाते सुना जा सकता है। हमने पड़ताल की तो पाया कि इस वीडियो से छेड़छाड़ की गयी है। असल में ये कुवैती सिंगर मुबारक अल-रशीद हैं जिन्होंने 2018 में सुषमा स्वराज की विजिट के दौरान ‘वैष्णव जन तो तेने कहिए’ भजन गया था, न कि ‘राम मंदिर’ पर कोई गाना।

CLAIM

वायरल वीडियो में पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को देखा जा सकता है और उनके सामने एक व्यक्ति इस्लामी पारम्परिक लिबास थोब पहने गाना गा रहा है। वीडियो में इस व्यक्ति को “राम मंदिर” पर भजन गाते सुना जा सकता है। वीडियो के साथ डिस्क्रिप्शन लिखा है “सुषमा स्वराज अभी कुवैत गईं थी। शेख मुबारक अल राशीद ने उनके सम्मान में गीत गाया कि हमारा दिल ही जीत लिया।।।अवश्य देखें👆🏼💕”

https://www.facebook.com/yogesh.raya.79/videos/o.1520432568252349/2286783908257897/?type=2&theater

FACT CHECK

वायरल वीडियो में 3 जगह जम्प है पर गाने में जम्प नहीं है जिससे इस वीडियो पर शक होता है। अपनी पड़ताल को शुरू करने के लिए हमने इस वीडियो को INVID टूल डाल कर इसके की फ्रेम्स निकले और फिर उन्हें गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया। इस जाँच में हमारे हाथ द हिन्दू अख़बार द्वारा 31 अक्टूबर 2018 को यूट्यूब पर अपलोड की गयी एक वीडियो लगी जो हूबहू वायरल वीडियो से मिलती थी पर जब हमने इस वीडियो को सुना तो पाया कि वीडियो में मौजूद व्यक्ति ‘वैष्णव जन तो तेने कहिए’ भजन गा रहे थे न कि ‘राम मंदिर’ पर कोई भजन। इस वीडियो के डिस्क्रिप्शन में लिखा है: “विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कुवैत में भारतीय समुदाय को संबोधित किया। कार्यक्रम के दौरान कुवैती गायक मुबारक अल-रशीद ने महात्मा गांधी का पसंदीदा भजन `वैष्णव जन तेने कहिए’ गाकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।”

हमने ढूंढा तो हमें यह खबर दैनिक जागरण के सहयोगी पेपर Inext पर भी मिली।

हमने ज़्यादा पुष्टि के लिए सुषमा स्वराज के मैनेजर सतीश से भी इस सिलसिले में बात की जिन्होंने हमें बताया कि यह वायरल वीडियो फेक है। असल में इस सिंगर ने ‘वैष्णव जन तो तेने कहिए’ भजन गया था।

इस पोस्ट को ‘योगेश पाठक’‎ नाम के फेसबुक यूजर ने ‘फिर एक बार मोदी सरकार’ नाम के फेसबुक पेज पर शेयर किया था। इस पेज के कुल 6,29,945 मेंबर्स हैं।

निष्कर्ष: हमने पड़ताल की तो पाया कि इस वीडियो से छेड़छाड़ की गयी है। असल में ये कुवैती सिंगर मुबारक अल-रशीद हैं जिन्होंने 2018 में सुषमा स्वराज की विजिट के दौरान ‘वैष्णव जन तो तेने कहिए’ गाना गया था, न कि “राम मंदिर” पर भजन।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews।com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

टैग्स

संबंधित लेख