X

Fact Check: एक ही समुदाय के हैं आरोपी और पीड़ित, सांप्रदायिक रंग देकर वीडियो गलत दावे के साथ किया जा रहा वायरल

वायरल वीडियो फरीदाबाद का है। तीनों आरोपी और पीड़ित एक ही समुदाय के हैं और उनमें पहले से रंजिश चली आ रही है। यूजर्स द्वारा किया जा रहा दावा गलत हैं।

  • By Vishvas News
  • Updated: December 9, 2021
faridabad viral video

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर 13 सेकंड का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें दो युवक हथौड़े और रॉड से एक युवक को मार रहे हैं। पीड़ित के पास एक बाइक भी पड़ी है। वहां आसपास कुछ लोग भी खड़े हैं, लेकिन कोई हमलावरों को रोकने की कोशिश नहीं कर रहा है। इसके साथ में दावा किया जा रहा है कि भारत में रोजाना अल्पसंख्यकों के साथ ऐसा व्यवहार हो रहा है। शर्मनाक है कि यूएस, मानवाधिकार संगठन और पश्चिमी मीडिया अपने फायदे के लिए आंखें बंद किए हुए हैं। खास बात यह है कि यह वीडियो कुछ पाकिस्तानी प्रोफाइलों से वायरल किया जा रहा है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। पीड़ित का नाम मनीष है, जबकि आरोपी उसके ही समुदाय के हैं। पुलिस ने तीनों आरोपियों को पकड़ लिया है।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर Khabar_Zone ने 8 दिसंबर को इस वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा है, And this is India on Daily basis against minorities. It is shameful that US, Human rights orgs and Western media are keeping a blind eye for their own business benefits (और यह भारत में रोजाना अल्पसंख्यकों के साथ होता है। यह बहुत शर्म की बात है कि यूएस, मानवाधिकार संगठन और पश्चिमी मीडिया अपने फायदे के लिए आंखों पर पट्टी बांधे हुए हैं।)

फेसबुक यूजर Ikko Pakistan और ट्विटर यूजर्स QurbanAly4black news ने भी इस वीडियो को एक जैसे दावे के साथ शेयर किया है।

https://twitter.com/QurbanAly4/status/1468395722643021828

पड़ताल

वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले इसे ध्यान से देखा। इसमें हमें बोर्ड पर फरीदाबाद लिखा दिखा। इसके बाद हमने कीवर्ड से न्यूज सर्च की तो 6 दिसंबर 2021 को दैनिक जागरण में छपी खबर का लिंक मिल गया। इसमें वायरल वीडियो से संबंधित तस्वीर भी मिल गई। खबर के मुताबिक, मामला सोमवार सुबह का है। बड़खल झील चौक के पास कार सवार तीन बदमाशों ने एक युवक को घेर लिया। हमलावरों ने उस पर हथौड़े और रॉड से मारा। आरोपियों को रोकने के लिए जब वहां मौजूद कुछ लोग उनकी तरफ बढ़े तो हमलावरों ने पिस्तौल निकाल ली। बदमाशों ने लोगों को डराने के लिए हवाई फायरिंग भी की। पुलिस ने दो बदमाशों ललित और प्रदीप को पकड़ लिया है। घायल मनीष को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती करा दिया है। दोनों पक्षों में पहले से ही रंजिश चली आ रही है। चारों फतेहपुर चंदीला गांव के रहने वाले हैं।

इस बारे में हमने फरीदाबाद पुलिस का ट्विटर अकाउंट भी चेक किया। 6 दिसंबर को पुलिस ने ट्वीट किया था,
हथौड़े से युवक पर हमले वाली वायरल वीडियो के मामले में तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम ने 2 बदमाशों को किया काबू।
बडखल झील चौक, करीब 10 बजे सुबह की घटना

Dial112 इआरवी 179 इंचार्ज बिजेन्द्र की टीम ने आरोपियों को मौके से किया काबू। क्राईम ब्राचं 30 में पूछताछ जारी

7 दिसंबर को फरीदाबाद पुलिस ने एक और ट्वीट करके जानकारी दी कि तीसरा आरोपी सचिन भी पकड़ लिया गया है। आरोपियो से वारदात में इस्तेमाल की गई लोहे की रॉड, हथौड़ा और सैंट्रो कार भी बरामद कर ली गई है।

इस बारे में दैनिक जागरण फरीदाबाद के ब्यूरो चीफ सुशील भाटिया का कहना है कि वायरल वीडियो सोमवार सुबह की घटना का है। आरोपियों के नाम ललित, प्रदीप व सचिन और पीड़ित का नाम मनीष था। सभी एक ही समुदाय के हैं। वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है।

हमने वीडियो को सांप्रदायिक रंग देकर गलत दावे के साथ वायरल करने वाले फेसबुक पेज Khabar_Zone की स्कैनिंग की। इससे पता चला कि इसमें कुछ पोस्ट भारत के विरुद्ध दुष्प्रचार को फैलाने के उद्देश्य से की गई हैं। 31 अगस्त 2021 को इस पेज को बनाया गया है। इसे 736 लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: वायरल वीडियो फरीदाबाद का है। तीनों आरोपी और पीड़ित एक ही समुदाय के हैं और उनमें पहले से रंजिश चली आ रही है। यूजर्स द्वारा किया जा रहा दावा गलत हैं।

  • Claim Review : वायरल वीडियो में अल्पसंख्यक को पीट रहे हैं
  • Claimed By : FB User- Khabar_Zone
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later