X

Fact Check: पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह अपने जूते के फीते बांध रहे थे, राहुल गांधी के नहीं

‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह अपने जूते के फीते बांधने के लिए झुके थे। इस वजह से कुछ देर के लिए राहुल गांधी और अन्य कांग्रेसी नेता रुक गए थे। इस वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: December 22, 2022
Bharat Jodo Yatra, Rahul Gandhi, Jitendra Singh Alwar

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा‘ 21 दिसंबर को राजस्थान के अलवर जिले से निकलकर हरियाणा पहुंच गई। यात्रा को लेकर सोशल मीडिया पर कई पोस्ट वायरल हो रही हैं। इनमें से एक वीडियो भी है। इसमें राहुल गांधी दिख रहे हैं। 20 सेकंड के वीडियो में पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी जितेंद्र सिंह को झुकते हुए देखा जा सकता है, जिसकी वजह से राहुल गांधी रुक जाते हैं। इस वीडियो को शेयर कर कुछ यूजर्स दावा कर रहे हैं कि जितेंद्र सिंह ने घुटनों के बल बैठकर राहुल गांधी के जूते के फीते बांधे। इसके जरिए यूजर्स कांग्रेस पार्टी पर निशाना साध रहे हैं।

विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि वीडियो को शेयर कर गलत दावा किया जा रहा है। दरअसल, पूर्व मंत्री जितेंद्र सिंह अपने जूते के फीते बांधने के लिए नीचे बैठे थे, राहुल गांधी के नहीं। जितेंद्र सिंह ने इस दावे को फर्जी बताया है।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर Shekhar Verma Jigyaasu (आर्काइव लिंक) ने 21 दिसंबर को वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा,

Former union minister Bhanwar Jitendra Singh goes down on his knee to tie Rahul Gandhi’s shoe lace. The arrogant entitled brat instead of helping himself is seen patting his back…
इसी परिपाटी की बात कर रहे थे खड़गे जी? कांग्रेस में पिद्दियों की कमी नहीं है।

(पूर्व केंद्रीय मंत्री भंवर जितेंद्र सिंह राहुल गांधी के जूते के फीते बांधने के लिए अपने घुटनों पर बैठे। खुद की मदद करने के बजाय खुद की पीठ थपथपाता नजर आ रहा है।)

पड़ताल

वायरल दावे की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले कीवर्ड से इस बारे में गूगल पर ओपन सर्च किया। 22 दिसंबर 2022 को टाइम्स नाउ में खबर छपी है। इसके अनुसार, भाजपा आईटी विभाग के प्रमुख अमित मालवीय ने बुधवार को ट्विटर पर कांग्रस नेता राहुल गांधी का भारत जोड़ो यात्रा के दौरान का वीडियो शेयर किया था। इसके साथ में उन्होंने दावा किया था कि पूर्व केंद्रीय मंत्री ने यात्रा के दौरान राहुल गांधी के जूते के फीते बांधे। इसके जवाब में पूर्व मंत्री जितेंद्र सिंह ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि वह अपने जूते के फीते बांध रहे थे। इसके लिए उन्होंने भाजपा नेता को माफी मांगने को कहा। ऐसा नहीं करने पर उन्होंने कानूनी कार्रवाई की चेतावनी भी दी।

हमें दैनिक भास्कर के ईपेपर पर भी इस बारे में खबर मिली। 22 दिसंबर को छपी खबर में जितेंद्र सिंह का बयान छपा है। जितेंद्र सिंह ने राहुल गांधी के जूते के फीते बांधने के आरोपों को झूठा बताया है। पूर्व मंत्री के अनुसार, उनके खुद के जूते का फीता खुला हुआ था। जिस बारे में उनको राहुल गांधी ने बताया था। इसके बाद उन्होंने अपने जूते के फीते बांधे थे।

जितेंद्र सिंह (आर्काइव लिंक) ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर भी इस बारे में वीडियो का एक स्क्रीनशॉट शेयर किया है। इसमें वह खुद के जूते के फीते बांधने के लिए झुकते देखे जा सकते हैं।

कांग्रेसी नेत्री सुप्रिया श्रीनेत (आर्काइव लिंक) ने भी उस दौरान का दूसरे एंगल से लिया गया वीडियो ट्वीट किया है। 21 दिसंबर को पोस्ट किए गए इस वीडियो में जितेंद्र सिंह अपने जूते के बांधने के लिए झुकते दिख रहे हैं।

कांग्रेस (आर्काइव लिंक) के ट्विटर हैंडल पर 21 दिसंबर को जितेंद्र सिंह का वीडियो ट्वीट कर वायरल दावे को फर्जी बताया गया। इसमें जितेंद्र सिंह कह रहे हैं, ‘मैं चल रहा था और मेरे फीते खुले हुए थे। मुझे इस बारे में पता नहीं था। राहुल ने मुझे पीछे से आवाज दी, आपके लेस खुले हुए है, गिर जाओगे और इसके बाद मैंने राहुल गांधी से कहा कि आप दो मिनट रुक जाइए, क्योंकि पीछे से भीड़ आकर मेरे ऊपर चढ़ जाएगी। इसके बाद राहुल गांधी रुक गए। फिर मैंने अपने लेस बांधे और आगे चल दिया।

इस बारे में अधिक जानकारी के लिए हमने पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह से बात की। उनका कहना है, ‘सोशल मीडिया पर झूठ फैलाया जा रहा है। राहुल गांधी ने मुझे बताया था कि मेरे जूते के फीते खुले हुए हैं। इसके बाद मैंने अपने जूते के फीते बांधे थे। यात्रा की सफलता से घबराकर ये इस तरह की फर्जी पोस्ट फैला रहे हैं। मैं इन पर कानूनी कार्रवाई करूंगा।

वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल करने वाले फेसबुक यूजर ‘शेखर वर्मा जिज्ञासु‘ की प्रोफाइल को हमने स्कैन किया। इसके मुताबिक, वह देहरादून में रहते हैं और एक राजनीतिक दल से जुड़े हुए हैं।

भारत जोड़ो यात्रा से जुड़ी अन्य फैक्ट चेक रिपोर्ट्स पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

निष्कर्ष: ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह अपने जूते के फीते बांधने के लिए झुके थे। इस वजह से कुछ देर के लिए राहुल गांधी और अन्य कांग्रेसी नेता रुक गए थे। इस वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने राहुल गांधी के जूते के फीते बांधे।
  • Claimed By : FB User- Shekhar Verma Jigyaasu
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later