X

Fact Check: तस्‍वीर में दिख रहे डॉक्‍टर की नहीं हुई है मौत, दुबई में करते हैं इलाज

  • By Vishvas News
  • Updated: March 27, 2020

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया में एक डॉक्‍टर की तस्‍वीर को कुछ लोग वायरल करते हुए दावा कर रहे हैं कि दिल्‍ली में कोरोना से संक्रमित लोगों का इलाज करते हुए इनकी मौत हो गई। विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में यह दावा फर्जी निकला। तस्‍वीर में दिख रहे डॉक्‍टर का नाम रियाज उस्‍मान है। वे दुबई में प्रैक्टिस करते हैं। उन्‍होंने खुद वायरल पोस्‍ट का खंडन किया है।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर पराग बारी ने 26 मार्च को Sarcasm नाम के ग्रुप में एक तस्‍वीर को अपलोड करते हुए दावा किया : ”हमें गर्व है ऐसे डॉक्टर रूपी भगवान पे🙏🙏 दिल्ली के #डॉउस्मानरियाज़ Corona पीडित लोगो की जान बचाते बचाते अब हमारे बीच नही रहे।हमे छोड़कर जाने वाले पहले #भारतीय_डाक्टर।”

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले वायरल हो रही तस्‍वीर को गूगल रिवर्स इमेज में अपलोड करके सर्च किया। ओरिजनल तस्‍वीर हमें healthigo.com पर मिली। यहां से हमें पता चला कि तस्‍वीर में दिख रहे शख्‍स का नाम डॉक्‍टर रियाज उस्‍मान हैं। वे बर दुबई में Aster Clinic से जुड़े हुए हैं।

इसके बाद हमने सोशल मीडिया में Riyaz Usman के अकाउंट को सर्च किया। हमें फेसबुक पर रियाज उस्‍मान का अकाउंट मिला। इस अकाउंट के जरिए हमने डॉक्‍टर रियाज से संपर्क किया और उनसे फर्जी पोस्‍ट शेयर किया। उन्‍होंने विश्‍वास न्‍यूज को बताया, ”वायरल पोस्‍ट में मेरी तस्‍वीर है। मैं दुबई में काम करता हूं और जिंदा हूं। य‍ह वाकई बहुत निराशाजनक है कि कोरोना की इस लड़ाई के दौरान कुछ लोग फर्जी खबरें फैला रहे हैं।”

डॉक्‍टर रियाज ने वायरल पोस्‍ट को लेकर अपना बयान फेसबुक पर भी अपलोड किया। पूरे बयान को आप नीचे पढ़ सकते हैं।

अब हमें यह जानना था कि क्‍या कोरोना के इलाज के दौरान किसी डॉक्‍टर की मौत हुई है। जब हमने अलग-अलग कीवर्ड से खबरों को सर्च करना शुरू किया तो हमें पता चला कि 22 मार्च को पाकिस्‍तान के कब्‍जे वाले कश्‍मीर के गिलगित इलाके में 26 साल के डॉक्‍टर ओसामा रियाज की मौत हुई थी। उनकी मौत कोरोना वायरस के रोगियों के इलाज के दौरान संक्रमण से हुई। डॉक्‍टर की मौत की खबर कई भारतीय न्‍यूज वेबसाइट के अलावा पाकिस्‍तानी अखबार ट्रिब्‍यून की वेबसाइट पर भी पब्लिश हुई थी। पूरी खबर आप यहां पढ़ सकते हैं।

अंत में हमने फर्जी खबर फैलाने वाले फेसबुक यूजर की सोशल स्‍कैनिंग की। हमें पता चला कि पराग बारी कई ग्रुप में वायरल कंटेंट ज्‍यादा पोस्‍ट करते हैं।

Disclaimer: कोरोनावायरसफैक्ट डाटाबेस रिकॉर्ड फैक्ट-चेक कोरोना वायरस संक्रमण (COVID-19) की शुरुआत से ही प्रकाशित हो रही है। कोरोना महामारी और इसके परिणाम लगातार सामने आ रहे हैं और जो डाटा शुरू में एक्यूरेट लग रहे थे, उसमें भी काफी बदलाव देखने को मिले हैं। आने वाले समय में इसमें और भी बदलाव होने का चांस है। आप उस तारीख को याद करें जब आपने फैक्ट को शेयर करने से पहले पढ़ा था।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में पता चला कि वायरल पोस्‍ट झूठी है। वायरल पोस्‍ट में यूज की गई तस्‍वीर दिल्‍ली के नहीं, बल्कि दुबई के डॉक्‍टर रियाज उस्‍मान की है। वे सुरक्षित हैं।

  • Claim Review : दावा किया गया कि दिल्‍ली के डॉक्‍टर उस्‍मान रियाज कोरोना पीडि़त लोगों की जान बचाते हुए मारे गए।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर पराग बारी
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later