X

Fact Check: नहीं, गलत COVID पॉजिटिव टेस्ट करने पर ठाणे के इस लैब को सील नहीं किया गया है

  • By Vishvas News
  • Updated: June 19, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि सरकार ने थायरोकेयर लैब को सील कर दिया है, क्योंकि उन्होंने लोगों को गलत COVID पॉजिटिव (एक गलत टेस्ट रिजल्ट, जिसमें किसी स्थिति के होने की जानकारी दी जाती है, जबकि वो होती नहीं है) रिपोर्ट दी है। Vishvas News ने इस बात की पड़ताल की और पाया कि ठाणे महानगरपालिका ने ठाणे में स्थित थायरोकेयर को COVID-19 परीक्षण रोकने के लिए कहा है, उसे सील नहीं किया है।ऐसे में पोस्ट में किया गया दावा कि ठाणे में थायरोकेयर लैब को सील कर दिया गया है, यह खबर फर्जी है।

क्लेम

फेसबुक पर वायरल हो रहे पोस्ट में लिखा है: “ठाणे में थायरोकेयर लैब को सरकार ने सील कर दिया है, क्योंकि लैब ने लोगों को नकली COVID पॉजिटिव रिपोर्ट दी थी। इसके पीछे का कारण इस लैब का प्राइवेट हॉस्पिटल से कनेक्शन है। नकली पॉजिटिव रिपोर्ट के बाद वो उस व्यक्ति को एक विशेष अस्पताल में भेजते हैं जिसके पास COVID मरीजों के लिए तीन लाख रुपये का पैकेज है। नकली रिपोर्ट ठाणे के नागरिकों को जोखिम में डालती है। कृपया इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक शेयर करें, जिससे यह लोगों तक पहुंच सके।” मैसेज में मिरर नाउ के एक आर्टिकल का एक लिंक भी शेयर किया है।

पोस्ट का आर्काइव वर्जन यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

डाटा रिपोर्टिंग में नकली पॉजिटिव रिपोर्ट एक त्रुटि है। इसमें गलत टेस्ट रिजल्ट, जिसमें किसी स्थिति के होने की जानकारी दी जाती है, जबकि वो होती नहीं है।

Vishvas News ने मुंबई मिरर का आर्टिकल पढ़ा। आर्टिकल में ठाणे में बढ़ते कोरोना पॉजिटिव केसेज में हो रही बढ़ोत्तरी की चर्चा की गई है, जहां थायरोकेयर द्वारा टेस्ट किए गए थे। मुंबई मिरर के एक अन्य आर्टिकल में बताया गया है कि TMC ने थायरोकेयर में किए जाने वाले COVID-19 के टेस्ट्स पर रोक लगा दी है, क्योंकि उन्हें उसमें कुछ खामियां मिली हैं।

इन रिपोर्टों में से किसी ने भी यह दावा नहीं किया है कि सरकार ने थायरोकेयर लैब्स को सील कर दिया था। रिपोर्ट के अनुसार, म्युनिसिपल कॉरपोरेशन द्वारा लैब पर कथित रूप से टेस्ट में अनियमितता पाए जाने के बाद ठाणे महानगरपालिका ने थायरोकेयर लैब्स को निर्देश दिए कि मरीजों के कोरोना वायरस स्वैब सैंपल्स का टेस्ट बंद कर दें।

हमने पड़ताल की और पाया कि ठाणे महानगरपालिका ने थायरोकेयर में टेस्टिंग रोकने की बात कही थी, लेकिन उन्होंने उसे सील करने के निर्देश नहीं दिए।

वायरल हो रहे मैसेज में सील की गई लोकेशन या डिटेल का भी जिक्र नहीं है।

हमें मुंबई मिरर का एक ट्वीट भी मिला, जिसमें लिखा था: #FakeNewsAlert: #ThyrocareLab को सील नहीं किया गया है। अगर आपको इससे संबंधित कोई फॉरवर्ड मैसेज या 22 मई की कोई रिपोर्ट मिलती है तो कृपया यहां पूरी स्टोरी पढ़ें, यह ऐसा कोई दावा नहीं करता है।

Vishvas News ने थायरोकेयर के उपाध्यक्ष (वित्त) सचिन सालवी से बात की। उन्होंने इन सभी आरोपों से इनकार किया है कि ठाणे में थायरोकेयर को सील कर दिया गया है। उन्होंने हमारे साथ मेल भी शेयर किया है। उसमें लिखा है: “थायरोकेयर टेक्नोलॉजीज लिमिटेड ने फेक न्यूज में लगाए गए सभी आरोपों का खंडन किया है। ऐसा लगता है कि फर्जी खबरें केवल कुछ जानकारियों पर निर्भर हैं और ऐसा लगता है कि इन्हें जल्दबाजी में किसी सेलेक्टिव मैनर में दिया गया है और हमारे द्वारा दावे को खारिज किए जाने की बात को कवर नहीं करते हैं।

सालवी ने इन आरोपों का खंडन किया कि लैब की निजी अस्पताल से कोई सांठगांठ नहीं है। साथ ही यह भी कहा है कि म्युनिसिपल कॉरपोरेशन से प्रतिक्रिया का इंताजर कर रही है। उन्होंने यह भी कहा: “हमने निगम को लिखा है कि थायरोकेयर लैब को टेस्ट रोकने के जो आदेश दिए हैं वो नीतिसंगत हैं या नहीं, लेकिन कोई प्रतिक्रिया अभी तक नहीं मिली है।”

हमने थायरोकेयर का एक ट्वीट भी देखा, जिसमें लिखा था: “!! फेक न्यूज अलर्ट !! ऐसी अफवाहें फैलाई जा रही हैं कि थायरोकेयर सील है। हमने 6.6.2020 को 1,881 COVID सैंपल्स रिपोर्ट किए। साइबर क्राइम को अलर्ट किया, एपिडेमिक्स डिजीज एक्ट के तहत इस एक्टिविटी के लिए एफ.आई.आर. दर्ज कराया। हम लोगों को सस्ती और क्वालिटी सर्विसेज देने पर ध्यान केंद्रित करना जारी रख रहे हैं।

वायरल हो रहे मैसेज को मनोज कलवार नाम के एक यूजर ने फेसबुक पर शेयर किया है। हमने यूजर की प्रोफाइल स्कैनिंग की और पाया कि यूजर मुंबई, महाराष्ट्र का है।

निष्कर्ष: नहीं, ठाणे में स्थित लैब सील नहीं की गई है जैसा कि वायरल हो रहे पोस्ट में बताया गया है। ठाणे म्युनिसिपल कॉरपोरेशन ने लैब को सील नहीं किया है। उन्होंने नोटिस जारी कर रिपोर्ट्स में आ रही अनियमितता पर जवाब मांगा है।

  • Claim Review : गलत COVID पॉजिटिव टेस्ट करने पर ठाणे के इस लैब को सील किया गया है
  • Claimed By : FB user: Manoj Kalwar
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later