नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रही है, जिसमें देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पिटाई का दावा किया गया है। शेयर किए जा रहे वीडियो में दावा किया गया कि अरविंद केजरीवाल की पिटाई तो सिर्फ भारत में होती थी, लेकिन राजीव गांधी की पिटाई विदेश में होती थी।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल हो रहा दावा गलत साबित होता है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक पर शेयर किए वीडियो के साथ दावा किया गया है, ‘केजरीवाल तो सिर्फ इंडिया में ही पिटा लेकिन राजीव गांधी तो विदेश में पिटता था।’ फेसबुक पर यह वीडियो ‘समाजवादी पार्टी हिंदू विरोधी है’ नामक पेज से शेयर किया गया है। पड़ताल किए जाने तक इस वीडियो को 205 बार शेयर किया जा चुका है।

पड़ताल

जांच की शुरुआत हमने वीडियो की सत्यता को परखने के साथ की। जांच के मुताबिक, यह वीडियो 30 जुलाई 1987 का है, जब देश के तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी श्रीलंका दौरे पर थे। इस यात्रा के दौरान उन्होंने भारत एवं श्रीलंका के बीच शांति समझौते पर हस्ताक्षर किया था। इसी समझौते को लेकर वह कोलंबो की यात्रा पर थे। जब उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया जा रहा था, तभी एक नौसैनिक ने रायफल की बट से पूर्व प्रधानमंत्री पर हमला किया।

विदेशी धरती पर किसी भारतीय प्रधानमंत्री पर यह हुआ यह पहला हमला था। हमले से जुड़े इस वीडियो को यहां देखा जा सकता है।

इंडिया टुडे के अगस्त 1987 के अंक में इस हमले की खबर को पढ़ा जा सकता है।

खबर के मुताबिक, सुरक्षाबलों की कार्रवाई के मुकाबले पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी फुर्ती से नीचे झुक गए, जिसकी वजह से हमले में उन्हें कोई नुकसान नहीं हुआ।

जुलाई 1987 में कोलंबो में ”गार्ड ऑफ ऑनर” के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर हुए हमले की तस्वीर

हमले के बाद प्रधानमंत्री की हत्या करने की कोशिश के आरोप में नौसैनिक विजितामुनी रोहाना डिसिल्वा को गिरफ्तार कर लिया गया और उसने ढाई साल जेल में गुजारे। इसके बाद वह ज्योतिषी बन गया।

श्रीलंका के मौजूदा राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना की हत्या की साजिश के मामले में डिसिल्वा एक बार फिर से पुलिस जांच के दायरे में है।

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर हमला करने वाले विजितामुनी रोहाना डिसिल्वा श्रीलंका के मौजूदा राष्ट्रपति की हत्या की साजिश के मामले में जांच के दायरे में है।

न्यूज रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिरिसेना की हत्या की साजिश का मामला सामने आने के बाद डिसिल्वा की भूमिका को लेकर जांच की जा रही है। श्रीलंका के सूचना और संसदीय कार्य मंत्री निमल बोपाजे ने कहा, ‘यह आदमी खुद के ज्योतिष होने का दावा करता है और इसने दावा किया था कि 26 जनवरी को राष्ट्रपति की हत्या हो जाएगी।’

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल हो रहा दावा गुमराह करने वाला साबित होता है। श्रीलंका में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के ऊपर जानलेवा हमला हुआ था, जिसमें वह बाल-बाल बच गए थे और यह कोई घरेलू राजनीति से जुड़ी या चुनावी घटना नहीं थी।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Claim Review : केजरीवाल तो सिर्फ इंडिया में ही पिटा लेकिन राजीव गांधी तो विदेश में पिटता था
Claimed By : FB User-समाजवादी पार्टी हिंदू विरोधी है
Fact Check : False

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here