X

Fact Check : नसीरुद्दीन शाह के नाम से फर्जी ट्वीट वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: May 1, 2021

विश्‍वास न्‍यूज (नई दिल्‍ली)। बॉलीवुड एक्‍टर नसीरुद्दीन शाह के नाम से एक बार फिर एक फर्जी ट्वीट वायरल हो रही है। इसे सच मानकर दूसरे यूजर्स वायरल कर रहे हैं। हमारी जांच में यह फर्जी साबित हुआ।

विश्‍वास न्‍यूज की जांच में पता चला कि नसीरुद्दीन शाह के नाम पर वायरल पोस्‍ट झूठी है। इससे पहले भी नसीरुद्दीन शाह के नाम पर फर्जी ट्वीट वायरल हो चुका है। इससे जुड़ी पड़ताल को आप यहां पढ़ सकते हैं।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक पेज ग्रेट इंडिया ने 30 अप्रैल को नसीरुद्दीन शाह के फेक ट्वीट को पोस्‍ट करते हुए लिखा : ‘सवाल ये नहीं की बस्तियां किसने जलाई, सवाल ये हैं कि पागल के हाथ में माचिस किसने दी? जरा ठंडे दिमाग से से सोचिये?’

फेसबुक पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां देखें।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने अपनी पड़ताल की शुरुआत नसीरुद्दीन शाह के नाम से फैल रहे ट्वीट की स्‍कैनिंग से की। हमने जब @Naseeruddin_sah नाम के हैंडल को खोजना शुरू किया तो हमें पता चला कि यह एक पैरोडी अकाउंट है।

इस ट्विटर हैंडल को नसीरुद्दीन शाह की तस्‍वीर का इस्‍तेमाल करते हुए बनाया गया है। हालांकि, इसमें साफ शब्‍दों में लिखा है कि यह एक पैरोडी अकाउंट है। इसके बायो में लिखा है कि इस अकाउंट का नसीरुद्दीन शाह से कोई लेना-देना नहीं है।

इस हैंडल पर हमें वह ट्वीट भी मिला, जिसे वायरल किया जा रहा है। 23 अप्रैल को किए गए इस ट्वीट को आप यहां देख सकते हैं।

पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए विश्‍वास न्‍यूज ने मुंबई में बॉलीवुड को कवर करने वाली दैनिक जागरण की मुख्य संवाददाता स्मिता श्रीवास्तव से संपर्क किया। उनके साथ वायरल पोस्‍ट को साझा किया। उन्‍होंने बताया कि यह फेक अकाउंट है।

जांच को आगे बढ़ाते हुए विश्‍वास न्‍यूज ने फर्जी पोस्‍ट करने वाले यूजर की जांच की। हमें पता चला कि फेसबुक पेज ग्रेट इंडिया को 1463 लोग फॉलो करते हैं। एक खास विचारधारा से जुड़े इस पेज को 2 नवंबर 2018 को बनाया गया था।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में नसीरुद्दीन शाह के ट्वीट के नाम से वायरल पोस्‍ट फर्जी साबित हुई।

  • Claim Review : नसीरुद्दीन शाह का ट्वीट
  • Claimed By : फेसबुक पेज ग्रेट इंडिया
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later