X

Fact Check: पाकिस्तान में घायल हुई इस बच्ची की तस्वीर को यूपी पुलिस की बर्बरता के नाम पर किया जा रहा वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: January 2, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) को लेकर पिछले दिनों खूब प्रदर्शन और बवाल भारत में देखने को मिला है। इसी संदर्भ में एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल की जा रही है जिसमें एक घायल बच्चे को देखा जा सकता है। घायल बच्चे की पीठ और गले पर जख्मों के निशान है। यूज़र दावा कर रहे हैं कि यह तस्वीर यूपी की है और यूपी पुलिस ने इस बच्चे को पीटा है।

विश्वास टीम ने इस दावे की पड़ताल में पाया कि यह तस्वीर भारत की है ही नहीं। यह तस्वीर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की है जहां नवंबर 2019 में कुछ आवारा कुत्तों ने इस बच्ची को काट लिया था। इस तस्वीर का CAA और NRC से कोई सबंध नहीं है।

क्या हो रहा है वायरल?

घायल बच्चे की तस्वीर को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है रहा है कि यूपी पुलिस ने इस बच्चे को पीटा है। इस पोस्ट में डिस्क्रिप्शन लिखा गया है: “#एनआरसी, #एनपीआर, #सीएए। बच्चे को तक नहीं छोड़ी यूपी पुलिस की गुंडागर्दी, हैवानियत की मिसाल योगी सरकार।”


वायरल पोस्ट

पड़ताल

पड़ताल की शुरुआत करते हुए हमने सबसे पहले इस तस्वीर का स्क्रीनशॉट लिया और उसे गूगल रिवर्स इमेज टूल में अपलोड कर सर्च किया। सर्च के नतीजों में हमारे सामने कई लिंक आए जिनमें इस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया था। हमें 12 नवंबर 2019 को प्रकाशित “paktv.tv” की एक खबर का लिंक मिला जिसमें इस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया था।

इस खबर की हेडलाइन थी: Who is responsible, the bite or the ruler

इस खबर के अनुसार यह तस्वीर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत से ताल्लुक रखती है और तस्वीर में दिख रही बच्ची को कुछ आवारा कुत्तों ने काट लिया था। इस खबर के अनुसार इस बच्ची को जब अस्पताल लेकर जाया गया तो वहां इलाज के लिए महत्वपूर्ण दवाइयां मौजूद ही नहीं थी।

अब हमने पड़ताल जारी रखते हुए कीवर्ड सर्च का सहारा लिया। हमने “Baby girl bitten by dog in pakistan punjab” कीवर्ड डालकर गूगल में सर्च किया तो हमें “BolNews” की वेबसाइट पर एक खबर का लिंक मिला जिसमें इस बच्ची और मां की तस्वीर का इस्तेमाल किया गया था और पूरा मामला बताया गया था। यह खबर 11 नवंबर 2019 को प्रकाशित की गई थी और इस खबर की हेडलाइन थी: Stray dog attacks and injures baby girl in Okara

इस खबर के अनुसार, यह तस्वीर पाकिस्तान पंजाब के ओकारा गांव की है जहां आवारा कुत्तों ने इस बच्ची को काट लिया था। नज़दीकी अस्पताल लेकर जाने पर वहां महत्वपूर्ण दवाइयां मौजूद ही नहीं थी।

अब हमने इस तस्वीर की पुष्टि लेने के लिए ट्विटर के जरिए Bol News में वेब एडिटर ऐज़बा खान से संपर्क किया। आपको बता दें कि ऐज़बा ने ही Bol News की वेबसाइट पर इस मामले को लेकर खबर प्रकाशित की थी। ऐज़बा खान ने इस तस्वीर की पुष्टि करते हुए बताया कि तस्वीर में दिख रही यह बच्ची पाकिस्तानी पंजाब के ओकारा गांव की है और नवंबर 2019 में इसको आवारा कुत्तों ने काट लिया था।

अबतक की पड़ताल से यह तो साबित हो गया था कि यह तस्वीर पाकिस्तान की है और इसका यूपी और CAA विरोध से कोई लेना-देना नहीं है।

अब हमने इस मामले में आधिकारिक पुष्टि लेने के लिए यूपी पुलिस के प्रवक्ता शिरीष चंद्र से संपर्क किया। शिरीष ने हमें बताया, “जिस तस्वीर की आप बात कर रहे हैं उस तरह का कोई भी मामला हमारे सामने नहीं आया है।”

अब हमने इस तस्वीर को शेयर करने वाले फेसबुक पेज Mohsin Rfi Khan sp की सोशल स्कैनिंग करने का फैसला किया। हमने पाया कि पेज एक विशेष विचारधारा का समर्थक लगता है और पेज को 7,927 लोग फॉलो करते हैं। यह पेज नवंबर 2017 को बनाया गया था।

निष्कर्ष: विश्वास टीम ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल हो रही तस्वीर का CAA और NRC से कोई लेना-देना नहीं है। असल में, यह तस्वीर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की है जहां इस बच्ची को कुछ आवारा कुत्तों ने काट लिया था।

  • Claim Review : #एनआरसी, #एनपीआर, #सीएए। बच्चे को तक नहीं छोड़ी यूपी पुलिस की गुंडागर्दी, हैवानियत की मिसाल योगी सरकार
  • Claimed By : FB Page-Mohsin Rfi Khan sp
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later