X

Fact Check: बंगाल के विक्टोरिया मेमोरियल का नाम बदले जाने का दावा गलत, कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के नाम में हुआ है बदलाव

  • By Vishvas News
  • Updated: January 18, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि कोलकाता यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विक्टोरिया मेमोरियल का नाम बदलकर ‘रानी झांसी स्मारक महल’ और कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट का नाम बदलकर ‘डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी पोर्ट’ कर दिया।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा भ्रामक निकला। विक्टोरिया मेमोरियल के नाम में कोई बदलाव नहीं किया गया है, जबकि कोलकाता पोर्ट के नाम को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर बदले जाने की घोषणा की गई है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर संजय एस धमेलिया (Sanjay S Dhameliya) ने दो तस्वीरों को शेयर करते हुए लिखा है, ”आज प्रधानमंत्रीजी ने कोलकातामें विक्टोरिया मेमोरियल का नाम बदलकर “रानी झांसी स्मारक महल” कर दिया..और 150 वर्ष पुराने कोलकाता पोर्टका भी नामकरण किया..”डॉ.श्यामाप्रसाद मुख़र्जी पोर्ट🚩।”

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही भ्रामक पोस्ट

फेसबुक पोस्ट के आर्काइव लिंक को यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

victoriamemorial-cal.org की वेबसाइट पर विक्टोरिया मेमोरियल की वही तस्वीर मिली, जिसे फेसबुक पर वायरल किया जा रहा है।

Image Credit- victoriamemorial-cal.org

विक्टोरिया मेमोरियल हॉल की वेबसाइट पर इसके नाम में कोई बदलाव नहीं किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कोलकाता दौरे के बाद भी इसका नाम विक्टोरिया मेमोरियल हॉल ही है।


Image Credit- victoriamemorial-cal.org

अधिक जानकारी के लिए विश्वास न्यूज ने विक्टोरिया मेमोरियल हॉल के क्यूरेटर जयंत सेनगुप्ता के ऑफिस से संपर्क किया। सेनगुप्ता के जूनियर अधिकारी अशोक साहू ने बताया, ‘विक्टोरिया मेमोरियल हॉल के नाम में किसी तरह का कोई बदलाव नहीं किया गया है।‘

सर्च में हमें 12 जनवरी 2020 को बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी का एक ट्वीट मिला, जिसमें उन्होंने कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल का नाम बदलकर ‘रानी झांसी स्मारक महल’ किए जाने की मांग की थी। उन्होंने इसी ट्वीट में कोलकाता के पोर्ट ट्रस्ट का नाम श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर किए जाने के फैसले पर खुशी जाहिर की थी।

यानी वायरल पोस्ट का यह दावा गलत है कि कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल का नाम बदलकर ‘रानी झांसी स्मारक महल” कर दिया गया है।

दूसरा दावा

दूसरा दावा कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट को लेकर किया गया है। पोर्ट की एक तस्वीर को कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट का बताते हुए दावा किया गया है कि इसका नाम बदलकर ‘डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी पोर्ट’ कर दिया गया है।

कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर

रिवर्स इमेज में हमें यह तस्वीर अडानी ग्रुप के फेसबुक पेज पर मिली। तस्वीर के साथ दी गई जानकारी के मुताबिक यह तस्वीर गुजराक के मुंद्रा पोर्ट की है, जिसे अडानी पोर्ट के नाम से भी जाना जाता है।

Image Credit-Adani Group FB Page

कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट पोर्ट के 150वें जयंती समारोह में भाग लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 जनवरी को कोलकाता में थे। इस दौरान उनकी मुलाकात वहां की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से भी हुई। न्यूज एजेंसी ANI के ट्विटर हैंडल से 11 जनवरी को किए गए ट्वीट इसकी पुष्टि होती है।

12 जनवरी को जयंती समारोह के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोलकाता में एक कार्यक्रम को संबोधित किया था, जिसके वीडियो को नीचे देखा जा सकता है।

इसी कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट का नाम बदलकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर किए जाने की घोषणा की थी। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल की…देश की इसी भावना को नमन करते हुए मैं कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट का नाम, भारत के औद्योगीकरण के प्रणेता, बंगाल के विकास का सपना लेकर जीने वाले और एक देश, एक विधान के लिए बलिदान देने वाले डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर करने की घोषणा करता हूं।’

न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी के इस फैसले का ट्रेड यूनियंस विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि नाम बदले जाने से संगठन के इतिहास पर असर पड़ेगा।

यानी कोलकाता ट्रस्ट पोर्ट के नाम को बदले जाने का दावा सही है, लेकिन जिस तस्वीर को कोलकाता ट्रस्ट पोर्ट का बताकर वायरल किया जा रहा है, वह वास्तव में गुजरात के मुंद्रा पोर्ट की है।

कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इस पोर्ट की तस्वीरों को देखा जा सकता है।


निष्कर्ष: कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल और कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के नाम के बदले जाने के दावे के साथ वायरल हो रहा पोस्ट भ्रामक है। वास्तव में विक्टोरिया मेमोरियल के नाम में कोई बदलाव नहीं किया गया है जबकि कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के नाम को बदलकर उसका नामाकरण डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी पोर्ट कर दिया गया है। वायरल पोस्ट में जिस तस्वीर के कोलकाता पोर्ट ट्र्स्ट का होने का दावा किया जा रहा है, वह वास्तव में गुजरात के मुंद्रा पोर्ट की है।

  • Claim Review : विक्टोरिया मेमोरियल महल का नाम बदलकर रानी झांसी स्मारक महल किया गया
  • Claimed By : FB User-Sanjay S Dhameliya
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later