X

Fact Check: गृह मंत्री अमित शाह के कोरोना से संक्रमित होने का दावा झूठा, फैलाई जा रही अफवाह

  • By Vishvas News
  • Updated: March 18, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर लगातार अफवाहें फैलाई जा रही हैं। ऐसा ही एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया गया है कि देश के गृह मंत्री अमित शाह इस वायरस से संक्रमित हो गए हैं। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा अफवाह साबित हुआ। देश के गृह मंत्री अमित शाह के कोरोना से संक्रमित होने के दावे के साथ वायरल हो रही खबर झूठी है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

यू-ट्यूब पर ‘YKB News’ नाम के एक चैनल ने 18 मार्च 2020 को वीडियो बुलेटिन अपलोड कर दावा किया है कि देश के गृह मंत्री अमित शाह कोरोना से संक्रमित हो गए हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=ALHSyjPs5vs

पड़ताल किए जाने तक इस वीडियो (आर्काइव लिंक) को करीब 2000 से अधिक लोग देख चुके हैं। 3 मिनट 21 सेकेंड के इस वीडियो का शीर्षक है, ‘गृहमंत्री अमित शाह को हुआ कोरोना’ और इसके थंबनेल में गृह मंत्री की तस्वीर लगाई हुई है। पूरे वीडियो में हालांकि कहीं भी अमित शाह के संक्रमण का जिक्र तक नहीं किया गया है।

आम तौर पर अधिक से अधिक दर्शकों तक पहुंचने के लिए गलत या भ्रामक हेडलाइन देकर वीडियो को सनसनीखेज बनाने की कोशिश की जाती है।

पड़ताल

कोरोना को लेकर केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय और अन्य संबंधित मंत्रालयों की तरफ से लगातार सूचनाएं दी जा रही है। केंद्रीय नोडल एजेंसी प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) की तरफ से कोरोना वायरस से बचाव के उपायों के साथ देश में संक्रमित मरीजों की संख्या के बारे में जानकारी दी जा रही है।

पीआईबी की तरफ से 18 फरवरी 2020 को दोपहर बाद 1.25 बजे दी गई जानकारी के मुताबिक, देश में अब तक कुल 147 कोरोना से जुड़े मामले सामने आए हैं। यह आंकड़ा 18 मार्च 2020 सुबह 9 बजे तक का है और इसमें भारत में रह रहे विदेशी नागरिक भी शामिल हैं।

पीआईबी ने वीडियो जारी कर बताया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से कैसे बचा जा सकता है। वीडियो में दी गई जानकारी के मुताबिक, इस वायरस के संक्रमण से बचाव की दिशा में हाथों की सफाई बेहद अहम है।

https://twitter.com/PIB_India/status/1240013791330316291

हमारे सहयोगी दैनिक जागरण के वरिष्ठ संवाददाता रणविजय सिंह ने बताया, ‘केंद्र सरकार के दो मंत्रियों ने खुद को सेल्फ क्वॉरेंटाइन किया था और उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है।’

न्यूज सर्च में हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली, जिसमें सरकार के गृह मंत्री समेत किसी अन्य मंत्री के इस वायरस से संक्रमित होने की सूचना हो। 17 मार्च 2020 को दैनिक जागरण में न्यूज एजेंसी एएनआई के हवाले से प्रकाशित खबर के मुताबिक केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने खुद को केरल के त्रिवेंद्रम में क्वॉरेंटाइन यानी अलग-थलग कर लिया था। हालांकि, उनकी जांच रिपोर्ट अब नेगेटिव आई है।

खबर के मुताबिक, ‘केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने खुद को केरल के त्रिवेंद्रम में क्वॉरेंटाइन कर लिया था(यानी खुद को अलग-थलग कर लिया था)। हालांकि, अब जांच के बाद जो रिपोर्ट सामने आई है उसमें उन्हें नेगेटिव पाया गया है। कोरोनावायरस संक्रमण के शक में उन्होंने खुद को क्वॉरेंटाइन किया था। बताया गया कि वी मुरलीधरन ने 14 मार्च को त्रिवेंद्रम में एक चिकित्सा संस्थान में बैठक में भाग लिया था। उस दौरान एक डॉक्टर भी थे, जो स्पेन से लौटे थे, जिन्हें 15 मार्च को COVID 19 संक्रमित पाया गया था। जहां इसके बाद से ही मुरलीधरन ने खुद को क्वॉरेंटाइन कर लिया था।’

दैनिक जागरण में एजेंसी के हवाले से प्रकाशित एक अन्य खबर के मुताबिक सऊदी अरब की यात्रा के बाद एक अन्य केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु ने खुद क्वॉरेंटाइन कर रखा है। जांच में उनकी रिपोर्ट भी नेगेटिव ही आई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, ’10 मार्च 2020 को दूसरी शेरपा की बैठक में भाग लेने के लिए सऊदी अरब की हालिया यात्रा से अपनी वापसी के बाद सुरेश प्रभु ने खुद को 14 दिनों के लिए आइसोलेट कर लिया है। हाल ही में वह उन्होंने साऊदी अरब से लौटने के बाद कोरोना वायरस के लिए टेस्ट कराया था। हालांकि, उनका रिजल्ट नकारात्मक आया था।  परीक्षण के बाद भी एहतियात के तौर पर वह अगले 14 दिनों के लिए अपने आवास पर खुद को अलग रखा है।’

यानी केंद्र सरकार के जिन दो मंत्रियों ने संदेह के आधार पर खुद को अलग-थलग किया था, उनकी जांच रिपोर्ट भी नेगेटिव ही आई है।

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक एक और सांसद मिमी चक्रवर्ती को उनके घर पर 14 दिनों की देख-रेख में रखा गया है। चक्रवर्ती के प्रेस सचिव के बयान के मुताबिक, ‘सरकारी दिशानिर्देशों के मुताबिक मिमी चक्रवर्ती को 14 दिनों के लिए घर पर अलग-थलग रखा गया है क्योंकि वह बुधवार को ही लंदन से लौटी हैं।’

हमारे सहयोगी दैनिक जागरण के नैशनल ब्यूरो के विशेष संवाददाता नीलू रंजन ने बताया, ‘यह पूरी तरह से आधारहीन खबर है। गृह मंत्री ने मंगलवार को कश्मीर के प्रतिनिधियों के साथ बैठकें की और आज यानी बुधवार को भी उन्होंने कई मीटिंग को चेयर किया है।’

निष्कर्ष: देश के गृह मंत्री अमित शाह के कोरोना से संक्रमित होने के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो फर्जी और मनगढ़ंत है।

Disclaimer: कोरोनावायरसफैक्ट डाटाबेस रिकॉर्ड फैक्ट-चेक कोरोना वायरस संक्रमण (COVID-19) की शुरुआत से ही प्रकाशित हो रही है। कोरोना महामारी और इसके परिणाम लगातार सामने आ रहे हैं और जो डाटा शुरू में एक्यूरेट लग रहे थे, उसमें भी काफी बदलाव देखने को मिले हैं। आने वाले समय में इसमें और भी बदलाव होने का चांस है। आप उस तारीख को याद करें जब आपने फैक्ट को शेयर करने से पहले पढ़ा था।

  • Claim Review : देश के गृह मंत्री अमित शाह को हुआ कोरोना
  • Claimed By : YKB News
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later