Fact Check: केजरीवाल को लेकर शीला दीक्षित के नाम से फर्जी बयान हो रहा वायरल

0

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रहा है, जिसमें दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बारे में शीला दीक्षित के आपत्तिजनक बयान का जिक्र किया गया है। वायरल हो रही है पोस्ट में दावा किया गया है कि केजरीवाल वोट हासिल करने के लिए किसी भी स्तर तक जा सकते हैं।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल हो रहा पोस्ट गलत साबित होता है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक पर शीला दीक्षित की तस्वीर के साथ समाचार पत्र का एक कथित क्लिप शेयर किया गया है, जिसमें अरविंद केजरीवाल के बारे में उनके कथित बयान का जिक्र किया गया है।

फेसबुक पर इस पोस्ट राजू सिंह (Raju Singh) ने शेयर किया है। पड़ताल किए जाने तक उनकी इस पोस्ट को 108 बार शेयर किया जा चुका है और करीब 200 लोगों ने इसे पसंद किया है।

पड़ताल

न्यूजपेपर की क्लिप की तरह दिखने वाले पोस्ट को पढ़ने के साथ ही पता चल जाता है कि इसमें जानबूझकर वह पैराग्राफ जोड़ा गया है, जो अरविंद केजरीवाल के बारे में हैं। पहले  पैराग्राफ की शुरुआत ऐसे होती है, ‘लोकसभा चुनाव को लेकर जारी सियासी घमासान के बीच दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पक्ष में बड़ा बयान दिया है। दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा कि केजरीवाल वोट के लिए अपनी मां को भी बेच सकता है।’

पहले पैराग्राफ का पहला वाक्य शीला दीक्षित के उस बयान से संबंधित है, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुड़ा हुआ है, लेकिन दूसरे वाक्य में जानबूझकर अरविंद केजरीवाल को जोड़ दिया गया।

”केजरीवाल वोट के लिए अपनी मां को भी बेच सकता है” का फॉन्ट भी अलग और स्पष्ट है।

इसके बाद का पैरा शीला दीक्षित के उस इंटरव्यू के बारे में है, जिसे लेकर काफी विवाद हुआ था। शीला दीक्षित का यह इंटरव्यू मुंबई हमले को लेकर दिए गए बयान को लेकर था।

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का यह इंटरव्यू वरिष्ठ पत्रकार और टीवी एंकर वीर सांघवी ने किया था। वहीं, पेपर की क्लिप में जिस खबर को इस्तेमाल किया गया है, उसे एक हिंदी न्यूज चैनल की साइट से हूबहू उठाया गया है।

15 मार्च 2019 को लिखी गई यह रिपोर्ट, ‘शीला बोलीं- आतंक पर मोदी की तरह सख्त नहीं थे मनमोहन, फिर दी सफाई’, हेडलाइन के साथ प्रकाशित है।

रिपोर्ट को पढ़ने के बाद आप यह देख सकते हैं कि वायरल पोस्ट में इस रिपोर्ट के कुछ हिस्से का ही इस्तेमाल किया गया।

यह रिपोर्ट शीला दीक्षित के इंटरव्यू से संबंधित हैं, जिसमें उन्होंने कहीं भी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का जिक्र नहीं किया है।

फेसबुक पर यह पोस्ट दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर होने वाले चुनाव से ठीक पहले ट्विटर पर अरविंद केजरीवाल और शीला दीक्षित के बीच हुई बातचीत के बाद वायरल हुई है। दिल्ली के चुनाव के ठीक एक दिन पहले शीला दीक्षित ने अरविंद केजरीवाल पर उनकी सेहत को लेकर अफवाह उड़ाने का आरोप लगाया था।

12 मई को दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर मतदान था और शीला दीक्षित ने ठीक एक दिन पहले ट्विटर पर पोस्ट लिखकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर उनकी सेहत को लेकर अफवाह फैलाने का आरोप लगाया था। फेसबुक पर लिखी पोस्ट इसके अगले दिन की है।

गलत पोस्ट करने वाले फेसबुक यूजर्स के प्रोफाइल स्कैनिंग में उनके विचारधारा विशेष की तरफ झुकाव को साफ तौर पर देखा जा सकता है। इसके बाद जब हमने ”शीला दीक्षित अरविंद केजरीवाल” कीवर्ड की मदद से गूगल न्यूज सर्च किया तो उसमें भी दोनों नेताओं के बीच चले ट्विटर वॉर का ही लिंक मिला।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में सोशल मीडिया पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लेकर वायरल हो रहा शीला दीक्षित का बयान गलत साबित होता है।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Written BY Abhishek Parashar
  • Claim Review : वोट के लिए कुछ भी कर सकते हैं केजरीवाल
  • Claimed By : FB User-Raju Singh
  • Fact Check : False

टैग्स

संबंधित लेख