पूरा सचः बीजेपी सीएम के काफिले पर जूता उछालने की खबर दो साल पुरानी है

0

नई दिल्ली, विश्वास टीम। फेसबुक पर एक पोस्ट वायरल की जा रही है जिसमें बताया जा रहा है कि हाल में बीजेपी के एक मुख्यमंत्री पर जूता फेंका गया है जिस कारण से 500 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। ये पोस्ट भ्रामक है और एक पुरानी घटना को आज की बताकर वायरल किया जा रहा है।

फेसबुक पर Viral In India नाम के पेज पर 9 जनवरी को एक पोस्ट दी गई है। इसमें बताया गया है कि बीजेपी के मुख्यमंत्री को जूते मारे गए है, सभी 500 लोगों पर केस दर्ज किया गया है। इस पोस्ट को अब तक 1717 बार शेयर किया जा चुका है और इसको 3.6 हजार लाइक भी मिले है। किसी मुख्यमंत्री पर इतनी बड़ी खबर होने के कारण हमने इस पोस्ट की पड़ताल का फैसला लिया।
पड़ताल

जब हमने इस पोस्ट को क्लिक किया तो http://viralinindia.net/ वेबसाइट का लिंक खुला जिसने इस खबर को कवर किया था। इस खबर में बताया गया है कि झारखंड के मुख्यमंत्री एक शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए पहुंचे थे, वहां पर उनका जूते और चप्पलों से स्वागत किया गया। इस खबर को पढ़ते हुए जब हम नीचे की तरफ गए तो वहां पर एक दूसरी वेबसाइट का वीडियो दिखाई दिया और हमने वीडियो पर क्लिक किया।

वीडियो को देखने पर हमें पता चला कि झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास की सभा में जूते फेंके गए हैं। पूरा वीडियो देखने के बाद इस बात की पुष्टि हो गई कि घटना सही में हुई है। हमें पता चला कि ये घटना 1 जनवरी, 2017 की है। झारखंड के सीएम रघुबर दास तब खरसावा स्थित शहीद पार्क में आदिवासी शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित करने पहुंचे थे। जब सीएम स्मारक पर पहुंचे तो प्रदर्शनकारियों ने उन्हें काले झंडे दिखाए और कुछ ने उनकी दिशा में जूते भी फेंके। इसके बाद हमने इस वीडियो के अपलोड होने की तारीख जानने का फैसला किया।

इस वीडियो की पब्लिशिंग तारीख 3 जनवरी और 2017 है, यानी कि ये वीडियो काफी पुराना है। इसके बाद हमने और दूसरे मीडिया हाउस में इस खबर को तलाशने का फैसला किया।

इस बात की पुष्टि हो गई कि ऐसी घटना उस दौरान घटित हुई थी। क्योंकि अन्य मीडिया हाउस ने भी इसको कवर किया था। इसके बाद हमने http://viralinindia.net/ साइड की खबर को पढ़ने का फैसला किया। इस साइड पर अधिकतर खबरें एक पार्टी विशेष को समर्थित करती हुई नजर आ रही है। ऐसा हो सकता है कि किसी खास मकसद के लिए इस खबर को बनाया गया हो।

इसके साथ ही हमने फेसबुक पर Viral In India पेज का सोशल स्कैन करने का फैसला किया। हमने स्टॉक स्कैन नाम के टूल में जाकर इस बेवसाइट को डाला तो हमें वहां पर कोवर्कर्स की लिस्ट में दो लोगों के नाम दिखे जिनके प्रोफाइल से पता चला कि वो Viral In India के लिए काम करते हैं।

ये दो लोग सरदार सिमरनजीत सिंह और सैफ अली खान हैं। इनके प्रोफाइल को भी जांचा गया तो ये दोनों कांग्रेस की विचारधारा से प्रेरित नजर आए और पार्टी के लिए काम करते हैं।

निष्कर्ष- हमारी पड़ताल में ये खबर पुरानी साबित हुई है जिसको अभी हाल में वायरल किया जा रहा है। जूता मुख्यमंत्री रघुवार दास पर नहीं, बल्कि इनके काफिले पर फेंका गया था।

पूरा सच जानें… सब को बताएं

सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Written BY Gaurav Tiwari
  • Claim Review : बीजेपी के एक मुख्यमंत्री पर जूता फेंका गया है जिस कारण से 500 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।
  • Claimed By : viralinindia.net
  • Fact Check : Mostly false

टैग्स

संबंधित लेख