X

Fact Check : राहुल गांधी ने किया था सही संबोधन और बोला था, “कमलनाथ मुख्यमंत्री”, वायरल वीडियो के साथ की गई छेड़छाड़

  • By Vishvas News
  • Updated: May 20, 2019

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। आजकल सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, उसमें राहुल गांधी मध्य प्रदेश के नीमच में एक जनसभा को संबोधित कर रहे है, जिसमें वो कांग्रेस की उमीदवार मीनाक्षी नटराजन का प्रचार करने पहुंचे थे| उसी रैली का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि अपने संबोधन में राहुल गांधी ये भूल गए कि मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री कौन है ? विश्वास न्यूज़ ने अपनी जाँच-पड़ताल में इस दावे को झूठा साबित किया |

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

वायरल पोस्ट में एक वीडियो का लिंक है ,जिसका अंतराल करीब 14 सेकंड है, जिसमें राहुल गांधी एक रैली को संबोधित कर रहे है | इस वीडियो के लिंक के साथ ये डिस्क्रिप्शन लिखा है “आज नीमच में एक और नया शो लांच हो गया🤣, इन्हें यही नही पता कि मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री कोन है”| फेसबुक यूजर जय कुमार ने यह पोस्ट 15 मई 2019 ( May 15 at 5:38 PM ) को अपने फेसबुक पर अपलोड की | इस पोस्ट में यह दावा किया गया कि अपने संबोधन में राहुल गाँधी ये भूल गए कि मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री कौन है ?

पड़ताल

विश्‍वास टीम ने सबसे पहले यह जानने का प्रयास किया कि ओरिजनल वीडियो कहाँ का है और किस मौके का है ? सबसे पहले हमने इस वीडियो को पूरा सुना और देखना शुरू किया, यह साफ़ हो गया कि यह वीडियो एक चुनावी रैली का है। वीडियो की हेडलाइन पढ़ा जिसमें लिखा था ” आज नीमच में एक और नया शो लॉन्च हो गया…….. ” यानि एक बिंदु हमारे हाथ लगा ” नीमच “ जो कि मध्य प्रदेश में है| हमने सटीक कीवर्ड लगाकर इसको गूगल पर सर्च करना शुरू किया , तो हमारे सामने गूगल के कई पेज खुल गए। इन पेजों में मौजूद लिंक्‍स में खबर को देखना शुरू किया, हमें नईदुनिया का एक आर्टिकल हाथ लगा जिसमें राहुल गांधी की रैली से संबंधित जानकारियां थी |

हमने इस 14 सेकंड के वीडियो का पूरा लिंक और रिकॉर्डिंग तलाशना शुरू की, कांग्रेस और राहुल गाँधी के ऑफिशियल पेज पर देखना शुरू किया ,क्योंकि यह दौरा ऑफिशियल था तो इसकी तमाम जानकारियां इस मंच पर होनी ज़रूरी थी | इसके लिए हमने ऑफिशियल एकाउंट्स में नीमच रैली कीवर्ड लगाकर ढूंढ़ना शुरू किया। हमें वायरल वीडियो का ओरिजनल लिंक मिल गया| तारीख 14 मई को ये राहुल गाँधी के ऑफिशियल पेज पर अपलोड किया गया था |मध्य प्रदेश के नीमच में मंदसौर संसदीय सीट से कांग्रेस प्रत्याशी मीनाक्षी नटराजन के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुए राहुल ने यह भाषण दिया था।

( LIVE: Congress President Rahul Gandhi addresses public meeting in Neemuch, Madhya Pradesh.)

उसी कड़ी में तारीख 14 मई का एक ANI का ट्वीट भी मिला जिसमें उसने इस रैली से संबंधित ट्वीट किया था



हमारे हाथ वो ओरिजनल वीडियो लग गया जो नीमच रैली का था, जो करीब 27:31 मिनट का था | हमने इस वीडियो को फ्रेम दर फ्रेम देखना शुरू किया | इस वीडियो के काउंटर नंबर 0 :15 से 0 : 25 तक राहुल गांधी ने कमलनाथ का नाम लिया और काउंटर 0 : 26 से इस वीडियो को काट कर वायरल किए गया जहाँ पर राहुल गांधी के बोल हैं, “मध्य प्रदेश के चीफ मिनिस्टर, भूपेश बघेल जी छत्तीसगढ़ के चीफ मिनिस्टर, हुकुम सिंह कराडा जी……. “ जबकि अगर पूरा वीडियो सुना जाए तो साफ़ हो जाता है कि राहुल गाँधी ने अपना भाषण ” कमलनाथ सिंह मध्य प्रदेश के चीफ मिनिस्टर, भूपेश बघेल जी छत्तीसगढ़ के चीफ मिनिस्टर, हुकुम सिंह कराडा जी……. ” से शुरू किया | इस वीडियो में से वो हिस्सा निकाल दिया गया और वायरल किया गया, जहाँ पर कमलनाथ का नाम लिया गया था |

राहुल गाँधी के वीडियो का एक लिंक और विश्वास टीम को मिला जो कि वहां के लोकल चैनल एमपी न्यूज़ का था जिसमें इस रैली का कवरेज प्रोग्राम था | इस शो के फुटेज काउंटर 21 :40 में राहुल गाँधी ने ” कमलनाथ चीफ मिनिस्टर शब्द का प्रयोग किया ” यही नाम वायरल वीडियो से गायब था।

( NEWS CHANNEL CLIP
LIVE: नीमच में राहुल गांधी की चुनावी रैली। MP News )

विश्वास न्यूज ने इस मामले में नीमच कांग्रेस के प्रवक्ता संतोष सिंह गौतम से बात की। उन्होंने रैली के दौरान राहुल गांधी के मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री का नाम भूलने की घटना को खारिज करते हुए बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘बीजेपी को इस तरह के मामलों मे महारत हासिल है और उन्होंने ऐसाी अफवाहें कई बार उड़ाई हैं, जो राहुल गांधी ने कभी कहा ही नहीं।’ उन्होंने कहा कि राहुल गांंधी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ का नाम लिया था और क्या यह संभव है कि वह अपनी पार्टी के मुख्यमंत्री का नाम भूल जाएं।

इसके बाद हमें उस शख्‍स की सोशल स्‍कैनिंग करनी थी, जिसने फेक पोस्‍ट अपने अकाउंट पर अपलोड की। फेसबुक यूजर जय कुमार की न्‍यूज फीड का एनालिसिस करने से समझ में आया कि वह एक खास विचारधारा से जुड़े हुए हैं और इस वीडियो को गलत तरह से वायरल किया |

निष्कर्ष : वायरल वीडियो को अधूरा दिखाया गया है और पूरे वीडियो के उस अंश को काट दिया गया जहाँ पर कमलनाथ सिंह का नाम लिया गया था | अधूरे तथ्य के साथ और झूठी हेडलाइन लगाकर वीडियो की खबर वायरल की गयी | विश्वास टीम ने अपनी जाँच-पड़ताल में वायरल खबर को फ़र्ज़ी साबित किया |

डिस्क्लेमर: इंटरनल ऑडिट के दौरान इस स्टोरी को विश्वास न्यूज की पॉलिसी और SOP के मुताबिक 29 अगस्त 2019 को अपडेट किया गया है। अपडेट के दौरान स्टोरी में कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता के बयान को जोड़ा गया है।

पूरा सच जानें… सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

  • Claim Review : राहुल गाँधी नीमच रैली में भूल गए मुख्यमंत्री का नाम
  • Claimed By : Jay kumar
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later