X

Fact Check: अयोध्या में इस वर्ष आयोजित दीपोत्सव का कुल खर्चा 1.32 करोड़ रु. था, 133 करोड़ रु. नहीं

नई दिल्‍ली विश्‍वास न्‍यूज । सोशल मीडिया पर आजकल एक मैसेज वायरल हो रहा है कि इस वर्ष अयोध्या में आयोजित दीपोत्सव पर यूपी सरकार ने 133 करोड रुपए खर्च किए। कई मीडिया संस्थानों ने भी अपनी खबर में दीपोत्सव में 133 करोड़ खर्चे की बात कही है। हमने अपनी पड़ताल में पाया कि यह दावा गलत है। सरकार द्वारा जारी की गई स्टेटमेंट के अनुसार, इस कार्यक्रम पर कुल खर्चा 1.32 करोड़ हुआ था ना कि 133 करोड़।

CLAIM

इस वायरल पोस्ट, (133 crores sent on lighting 5.51 lac diyas in Ayodhya & this is the reality. Shamelessness & illogical attitude of santra brigade has no limit) अनुवाद: अयोध्या में 5.51 लाख दीयों को जलाने पर 133 करोड़ रुपये भेजे गए और यह हकीकत है। तंत्र ब्रिगेड की बेशर्मी और अतार्किक रवैये की कोई सीमा नहीं है” को कई लोग फेसबुक पर शेयर कर रहे हैं। कुछ मीडिया आउटलेट्स जैसे टाइम्स ऑफ इंडिया और इंडियन एक्सप्रेस ने भी 2019 दीपोत्सव में हुए खर्चे को 133 करोड़ बताया है।

FACT CHECK

इस दावे की जांच करने के लिए हमने गूगल पर ‘दीपोत्सव 133 करोड़’ कीवर्ड्स के साथ सर्च किया। हमारे सामने टाइम्स ऑफ इंडिया और द इंडियन एक्सप्रेस सहित कई सारी वेबसाइट के लिंक खुले जिसमें दीपोत्सव में 133 करोड़ का खर्चा बताया गया था।

इसके बाद हमारे सामने जागरण की वेबसाइट का लिंक खुला जहां पर दीपोत्सव 2019 का खर्चा 1.3 करोड़ बताया गया था।

यह दोनों ही फिगर्स विरोधाभासी थे इसलिए हमने सरकारी वेबसाइट पर असली खर्चे की राशि के बारे में ढूंढा। उत्तर प्रदेश सरकार की ऑफिशियल वेबसाइट इन्फॉर्मेशन डॉट यूपी डॉट निक डॉट इन पर हमें एक प्रेस रिलीज मिला जिसमें दीपोत्सव 2019 के डिटेल्स थे। इस प्रेस रिलीज के अनुसार दीपोत्सव 2019 में सरकार ने 132.70 लाख रुपए यानि लगभग 1.32 करोड़ रूपए खर्चा किया।

thelogicalindian.com पर भी हमें ये खबर मिली मगर लिंक खोलने पर देखा जा सकता है कि इस खबर को अपडेट किया गया है। खबर में अंदर लिखा है “सुधार: पहले हमने गलत सूचना दी थी कि ‘दीपोत्सव’ पर यूपी सरकार का खर्च 133 करोड़ था। अयोध्या में समारोहों पर खर्च किए गए 133 करोड़ रुपये का आंकड़ा आईएएनएस रिपोर्टिंग पर आधारित था। यूपी सरकार द्वारा अपनी राज्य वेबसाइट पर जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि दीपोत्सव पर खर्च लगभग 1.32 करोड़ था। लॉजिकल इंडियन गलत रिपोर्टिंग के लिए माफी मांगता है।”

ज्यादा पुष्टि के लिए विश्वास टीम ये अयोध्या के जिलाधिकारी अनुज कुमार झा से बात की। जिन्होंने बताया, सरकार ने जो रकम अलॉट की है वह 1.32 करोड़ रुपये। हमें 46 लाख रुपये अभी तक मिल चुके हैं, बाकी की बिलिंग रिलीज हो रखी है, जो अभी प्रॉसेस में है,लेकिन कुछ दिनों में मिल जाने की संभावना है। खर्चा भी 1.32 करोड़ रुपये से ज्यादा नहीं हुआ था।

इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर कई लोगों ने शेयर किया। इन्हीं में से एक है आर्य अतुल नाम का एक फेसबुक प्रोफाइल।

निष्कर्ष: हमने अपनी पड़ताल में पाया कि अयोध्या के दीपोत्सव में 133 करोड़ के खर्चे वाला पोस्ट गलत है। 2019 में अयोध्या में आयोजित दीपोत्सव में यूपी सरकार ने 1.32 करोड रुपए खर्च किए थे ना कि 133 करोड़ रुपए।

  • Claim Review : 133 crores sent on lighting 5.51 lac diyas in Ayodhya & this is the reality. Shamelessness & illogical attitude of santra brigade has no limit.
  • Claimed By : Arya Atul
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False
जानिए सच्‍ची और झूठी सबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके क्विज खेले

पूरा सच जानें...

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later