X

Fact Check: यह तस्वीर ढाका में हुए रेल हादसे में घायल हुई बच्ची की है, इसका CAA के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन से कोई लेना देना नहीं

  • By Vishvas News
  • Updated: December 16, 2019

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। नागरिकता संशोधन बिल के पास होने के बाद भारत में कई जगह इस बिल का विरोध किया गया। हाल ही में दिल्ली के जामिया इलाके में भयंकर विरोध प्रदर्शन इस बिल के खिलाफ हुआ। अब सोशल मीडिया पर इसी विरोध प्रदर्शन से जोड़ एक बच्ची की तस्वीर वायरल की जा रही है। इस तस्वीर में एक बच्ची बुरी तरह घायल अवस्था में देखी जा सकती है। दावा किया जा रहा है कि CAA के खिलाफ हुए विरोध प्रदर्शन में यह बच्ची घायल हो गई।

विश्वास टीम ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल हो रहा दावा फ़र्ज़ी है। यह बच्ची बांग्लादेश के ढाका में हुए रेल हादसे में घायल हुई थी इसका CAA के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन से कोई लेना देना नहीं है।

क्या हो रहा है वायरल?

“बनारस : तेरे रंग हज़ार” नाम के फेसबुक पेज ने एक घायल बच्ची की तस्वीर को अपलोड करते हुए लिखा “बच्ची उस ट्रेन में थी जिसपर CAB के विरोध में शांतिप्रिय कौम के कुछ हजार लोगों ने पत्थरबाजी की थी! हिन्दू मुस्लिम एकता और गंगा यमुनी तहजीब केवल एक तरफ से नही बन सकती! हमेशा चाहते है देश और शहर का अमन चैन बना रहे लेकिन कभी कभी कुछ चीजें अंदर से झकझोर के रख देती है! हर मुसलमान शोसल मीडिया पर बाकियो को भड़का रहा है, आखिर वो गलत को गलत कहकर अपने दुसरो लोगो को समझा तो सकता है न???”

आपको बता दें कि हमें इस तस्वीर की सच्चाई का पता लगाने के लिए Whatsapp पर भी विनती आई थी। मोहम्मद आबिद नाम के Whatsapp यूज़र द्वारा यह विनती हमारे पास आई थी जिसके स्क्रीनशॉट को आप नीचे देख सकते हैं।

पड़ताल

इस तस्वीर की पड़ताल शुरू करते हुए हमने सबसे पहले इस तस्वीर को Yandex रिवर्स इमेज टूल में अपलोड कर सर्च किया। सर्च के नतीजों में हमें कई जगह यह तस्वीर अपलोड मिली। हम “gonews24.com” नाम की वेबसाइट पर गए जहां इस तस्वीर को अपलोड कर हेडलाइन लिखी गई थी: মাকে আর কখনো খুঁজে পাবে না মাহিমা (हेडलाइन का हिंदी अनुवाद: महिमा अब अपनी मां को कभी नहीं देख पाएगी)

यह खबर 12 नवंबर 2019 को अपडेट की गई थी। इस खबर के अनुसार तस्वीर में दिख रही बच्ची का नाम महिमा है और यह बांग्लादेश के ढाका में हुए रेल हादसे में घायल हो गई थी। यह बच्ची अपनी मां की गोद में सो रही थी जब वो रेल हादसा हुआ था।

यह तस्वीर हमें 12 नवंबर 2019 को ही प्रकाशित “dailysomoyerkhobor.com” की एक खबर में भी मिली जिसके स्क्रीनशॉट को आप नीचे देख सकते हैं।

अब हमने इस मामले को लेकर “gonews24” में संपर्क किया। हमारी बात gonews24 के IT और न्यूज़ इंचार्ज अब्दुल बतेन से हुई। अब्दुल ने विश्वास टीम के साथ बात करते हुए बताया, “मैंने इस रिपोर्ट को बनाने वाले रिपोर्टर से बात की है और उसने दृढ़ता से पुष्टि की है कि जिस फोटो के बारे में आप बात कर रहे हैं, वह हमारे अपने संग्रह की है और बच्ची 12 नवंबर, 2019 को ब्राह्मणबेरिया में ट्रेन हादसे में घायल हो गई थी। आश्वस्त रहें यह बच्चे की फोटो बांग्लादेश की है।”।

अंत में विश्वास टीम ने इस पोस्ट को शेयर करने वाले पेज की सोशल स्कैनिंग करने का फैसला किया। हमने पाया “बनारस : तेरे रंग हज़ार” नाम के इस पेज को 223,061 लोग फॉलो करते हैं और यह पेज भारत के बनारस शहर से जुडी खबरों को ज्यादा अपडेट करता है।

निष्कर्ष: विश्वास टीम ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल हो रहा दावा फ़र्ज़ी है। तस्वीर में दिख रही बच्ची बांग्लादेश के ढाका में हुए रेल हादसे में घायल हुई थी ना कि नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ हुए विरोध प्रदर्शन में।

  • Claim Review : CAA के खिलाफ हुए विरोध प्रदर्शन में यह बच्ची घायल हो गई
  • Claimed By : FB Page- बनारस : तेरे रंग हज़ार
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later