X

Fact Check: यह वीडियो हैदराबाद पीड़िता का नहीं, सफल महिला उद्यमी का है

  • By Vishvas News
  • Updated: December 13, 2019

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि वीडियो में नजर आ रही महिला हैदराबाद गैंगरेप की पीड़िता है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। वीडियो में नजर आ रही महिला अल्लोला दिव्या रेड्डी हैं, जिन्हें देसी गायों के रख-रखाव और उन्हें संरक्षित किए जाने के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने के लिए 2018 में गोपाल रत्न पुरस्कार से नवाजा गया।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘Chandrikaa Desai’ ने एक वीडियो को शेयर करते हुए दावा किया है, ”हैद्राबाद की पीडित डॉ रेड्डी जी कितनी प्रतिभाशाली डॉक्टर थी ये आप खुद ही देखिए, ओम शांति ओम।”

फेसबुक और ट्विटर पर कई यूजर्स ने इस वीडियो को शेयर किया है। फेसबुक यूजर ”बबनगिरीजी महाराज” की प्रोफाइल पर भी यह वीडियो समान दावे के साथ शेयर किया गया है।

पड़ताल

वीडियो में नजर आ रहीं महिला के नाम को साफ-साफ सुना जा सकता है। वीडियो में नजर आ रही महिला अल्लोला दिव्या रेड्डी हैं, जो तेलंगाना की रहने वाली हैं। रेड्डी देसी गायों के संरक्षण और दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में काम कर रही हैं और इसी क्षेत्र में उनके उल्लेखनीय योगदान को देखते हुए 2018 में तत्कालीन कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने गोपाल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया।

”Divya Allola Reddy” कीवर्ड से सर्च करने पर उनके अन्य वीडियो भी मिले। वीडियो में दी गई जानकारी के मुताबिक, उन्हें 2018 के राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

सर्च में हमें हंस न्यूज पर 12 अप्रैल 2019 को उनका एक इंटरव्यू मिला, जिसमें वह बता रही है कि कैसे उनका पूरा परिवार गायों से जुड़ा हुआ है। वह बताती हैं, ‘इन सबकी शुरुआत करीब साढ़े चार साल पहले हुई, जब मुझे बाजार में मिलावटी दूध के बारे में पता चला। मुझे अपने बच्चों को ऐसा दूध देने के ख्याल से भी डर लगता था। इसके बाद मुझे देसी गाय के दूध का ख्याल आया और फिर मैंने देसी गायों के संरक्षण और दुग्ध उत्पादन के बारे में सोचना और काम करना शुरू किया।’

हंस न्यूज पर प्रकाशित दिव्या रेड्डी का इंटरव्यू

V6 न्यूज तेलुगू के वेरिफाइड यू-ट्यूब हैंडल पर 15 अप्रैल 2018 को अपलोड किया गया एक वीडियो बुलेटिन मिला, जिसमें दिव्या रेड्डी अल्लोला की कहानी दिखाई गई है।

न्यूज चैनल Tv9 में हैदराबाद के क्राइम रिपोर्टर नूर मोहम्मद ने विश्वास न्यूज को बताया, ‘वीडियो में नजर आ रही महिला हैदराबाद गैंगरेप की पीड़िता नहीं हैं, बल्कि दिव्या रेड्डी हैं।’ हैदराबाद गैंग रेप की पीड़िता वेटनरी डॉक्टर थी और अब वह इस दुनिया में नहीं हैं, जबकि वायरल वीीडियो में नजर आ रहीं महिला आंत्रप्रेन्योर हैं।

इससे पहले हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों के मुठभेड़ को लेकर फर्जी तस्वीर वायरल हुई थी, जिसकी पड़ताल विश्वास न्यूज ने की थी।

निष्कर्ष: वीडियो में नजर आ रही महिला एक सफल आंत्रप्रेन्योर हैं और उनका  नाम दिव्या रेड्डी अल्लोला है, जबकि हैदराबाद गैंगरेप पीड़िता का नाम कुछ और था और अब वह इस दुनिया में नहीं हैं।

  • Claim Review : हैदराबाद की गैंगरेप पीड़िता का प्रभावशाली भाषण
  • Claimed By : FB User-बबनगिरीजी महाराज
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later