नई दिल्ली (विश्वास टीम)। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की कई लोगों के साथ खाना खाती फोटो वायरल की जा रही है। इस फोटो में दावा किया जा रहा है कि राहुल के साथ पाकिस्तान की इंटेलिजेंस एजेंसी ISI का कुख्यात अफसर शुजा पाशा दिखाई दे रहा है। हमारी पड़ताल में पता चला कि इस बात में कोई सच्चाई नहीं है कि राहुल के साथ शुजा पाशा है।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में?

डॉ. शक्ति कुमार पांडेय नाम के एक यूजर ने फेसबुक पर इस पोस्ट को शेयर करते हुए लिखा- “भारत रक्षा अभियान” राहुल गाँधी के इस कृत्य का न केवल विरोध बल्कि भर्त्सना करता है। राहुल गाँधी ने कल दुबई में पाकिस्तानी दूतावास का मुख्य आतिथ्य स्वीकार किया। कार्यक्रम में दाई और से तीसरा आदमी पाकिस्तान इंटेलिजेंस कुख्यात ISI का एक अफसर शुजा पाशा भी दिख रहा है।

राहुल गांधी की वायरल की जा रही फोटो

इस पोस्ट को 21 कमेंट और 36 बार शेयर किया जा चुका है।

जब हमने इस पोस्ट को और ढूढ़ा तो ये हमें और भी कई जगह मिली। कई फेसबुक यूजर्स ने इसे शेयर किया है।

फेसबुक पर वायरल की गई पोस्ट

इसके साथ ही इस फोटो को ट्विटर पर भी वायरल किया गया है।   

ट्विटवर पर वायरल राहुल गांधी का फोटो

पड़ताल

हमने इस पोस्ट की पड़ताल करने के लिए सबसे पहले पाकिस्तान की एजेंसी आईएसआई के अफसर शुजा पाशा का फोटो गूगल इमेज में सर्च किया। हमें शुजा का ये फोटो मिला।

इस फोटो का मिलान हमने फेसबुक पोस्ट में दी गई फोटो से मिलाने का फैसला किया। लंच की फोटो में बैठे किसी भी व्यक्ति से शुजा की इमेज नहीं मिल रही है। इसका अर्थ है कि इस दौरान शुजा मौजूद नहीं है।

दरअसल ये फोटो राहुल गाधी की है तो हमने इसे कांग्रेस के ट्विटर हैंडल पर इसे खोजने की कोशिश की। हमें ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ी और ऐसी ही समान फोटो कांग्रेस के Twitter हैंडल पर 10 जनवरी को पोस्ट की गई है। इन फोटो के कैप्शन में साफ लिखा है कि सनी वर्के के द्वारा दिए गए ब्रेकफास्ट में कई बिजनेस वर्ल्ड से जुड़ी हुई हस्तियां मौजूद हैं। इसके बाद हमने गूगल इमेज में सनी वार्के को ढूढ़ा जिनकी तस्वीर हमें मिली। वर्के GEMS शिक्षा के संस्थापक और वर्के फाउंडेशन के मालिक

तस्वीर में दिख रहे लोगों के नाम (लेफ्ट से राइट) इस प्रकार हैं: आरती कृष्णा (सेक्रेटरी, इंडियन ओवरसीज कांग्रेस), तेलंगाना के कांग्रेस नेता मधु यसखि गौड़, कांग्रेस लीडर मिलिंद देवड़ा, एस्टर डी एम हैल्थकेयर के मैनेजिंग डायरेक्टर आज़ाद मूपन, नवदीप सिंह सूरी, लुलु समूह के संस्थापक युसूफ अली एम ए, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी और GEMS शिक्षा के संस्थापक और वर्के फाउंडेशन के मालिक सनी वर्के ।

इसके बाद हमने स्टॉकस्कैन टूल पर हमने डॉ. शक्ति कुमार पांडेय के प्रोफाइल को स्कैन करने का फैसला किया। उनकी पोस्ट अधिकतर एक विशेष विचाराधारा का समर्थन कर रही है।


इसके साथ ही दाएं ओर से तीसरे आदमी जिसके बारे में शुजा पाशा होने का दावा किया जा रहा था। हमने और पड़ताल करने का फैसला किया। हमें मिलिंद देवड़ा का एक ट्वीट दिखाई दिया जिसमें उन्होंने ट्वीट करके बताया है कि ये शख्स युसुफ अली एम ए हैं।

मिलिंद देवड़ा का ट्वीट

इसके बाद हमने उनको गूगल में खोजा और पता चला कि वे एक भारतीय व्यापारी हैं और उनका तालुक्क केरल से है। वे लुलु ग्रुप के फाउंडर और एमडी हैं।

निष्कर्ष- वायरल हो रही पोस्ट का पाकिस्तान की एजेंसी आईएसआई के अफसर शुजा पाशा से कोई लेना-देना नहीं है। यह पोस्ट पूरी तरह फर्जी है।

पूरा सच जानें… सब को बताएं

सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Claim Review : फोटो में दावा किया जा रहा है कि राहुल के साथ पाकिस्तान की इंटेलिजेंस एजेंसी ISI का कुख्यात अफसर शुजा पाशा दिखाई दे रहा है।
Claimed By : DrShakti KumarPandey
Fact Check : False

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here