नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। सोशल मीडिया में कुछ दिनों से एक फोटो वायरल हो रही है। इसमें
भाजपा नेता संबित पात्रा सड़क किनारे फुटपाथ पर बैठकर खाना खा रहे हैं । विश्‍वास टीम की पड़ताल में यह तस्‍वीर फर्जी साबित हुई है। दो तस्‍वीरों को मिलाकर वायरल पोस्‍ट बनाई गई है। मूल तस्‍वीर दो साल पुरानी है। पाठकों की जानकारी के लिए बता दें कि भाजपा के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता संबित पात्रा ओडिशा के पुरी से पार्टी के प्रत्याशी हैं।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

फेसबुक यूजर डॉक्‍टर कुणाल शर्मा ने इस तस्‍वीर को अपलोड करते हुए लिखा : भुक्खड़ संबित पात्रा लाखों रुपए सैलेरी पाता है! और गरीबों का भोजन चट कर जाता है!

इस तस्‍वीर को कुणाल शर्मा ने 6 अप्रैल को अपलोड किया था। यही तस्‍वीर फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सऐप पर भी फैली हुई है।

पड़ताल

विश्‍वास टीम ने सबसे पहले वायरल हो रही संबित पात्रा की तस्‍वीर को गूगल रिवर्स इमेज में सर्च किया। गूगल के कई पेजों को स्‍कैन करने के बाद हमें india.com पर ओरिजनल तस्‍वीर मिल गई।

ओरिजनल तस्‍वीर में सड़क किनारे एक महिला खाना बनाते हुए दिख रही है। उसके बगल में एक आदमी बैठा हुआ है। तस्‍वीर में कहीं भी संबित पात्रा नहीं हैं।

मराठी में पब्लिश खबर की हेडिंग है : मुंबईतील बेघर नागरिकांना माहितीचा अधिकार प्रशिक्षण। खबर मुंबई के उन बेघरों के बारे में है, जो सड़क किनारे जिंदगी जीने को मजबूर हैं। यह खबर 24 मई 2016 को प्रकाशित की गई है।

इसके बाद हमें यह जानना था कि वायरल तस्‍वीर में संबित पात्रा की फोटो कहां से ली गई है। इसके लिए सबसे पहले हमने संबित पात्रा के ट्विटर हैंडल @sambitswaraj को खंगालना शुरू किया। काफी देर के बाद हमें संबित पात्रा का एक ट्वीट मिला। 31 मार्च 2019 को किए गए इस ट्वीट में तीन तस्‍वीरों का यूज किया गया।

इसमें मौजूद तीसरी तस्‍वीर को क्रॉप करके वायरल पोस्‍ट में यूज किया गया है। यह आप खुद भी देख सकते हैं। फोटोशॉप की मदद से दो अलग-अलग तस्‍वीरों को आपस में जोड़कर वायरल पोस्‍ट तैयार की गई है।

विश्‍वास टीम को अब पता लगाना था कि जो तस्‍वीर वायरल हो रही है, दरअसल आई कहां से है? इसके लिए हमने तस्‍वीर को ध्‍यान से देखा। यदि आप वायरल तस्‍वीर को ध्‍यान से देखेंगे तो बीच में @Ind_Arya लिखा हुआ दिखेगा। इसके बाद हमने ट्विटर पर @Ind_Arya सर्च किया तो हमें एक हैंडल मिल गया। BajiRao बल्लाळ नाम का यह ट्विटर हैंडल से ही पहली बार वायरल पोस्‍ट अपलोड की गई थी। चार अप्रैल को @Ind_Arya ट्विटर हैंडल से यह फोटोशॉप वाली तस्‍वीर शेयर की गई थी। इसे आप नीचे देख सकते हैं। जब हमने इस हैंडल की सोशल स्‍कैनिंग की तो हमें पता चला कि इस हैंडल से अक्‍सर फोटोशॉप तस्वीरें शेयर की जाती हैं।

सबसे अंत में हमने डॉक्‍टर कुणाल शर्मा के फेसबुक पेज @DoctorKunalSharma का सोशल स्‍कैन किया। Stalkscan से हमें पता चला कि इनके पेज को एक लाख से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं। इस पेज को 15 जून 2016 को बनाया गया था।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की जांच में पता चला कि संबित पात्रा की सड़क किनारे खाना खाने वाली तस्‍वीर फर्जी है। दो तस्‍वीरों को फोटोशॉप के माध्‍यम से वायरल पोस्‍ट तैयार की गई है।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Claim Review : भाजपा नेता संबित पात्रा सड़क किनारे फुटपाथ पर बैठकर खाना खा रहे हैं
Claimed By : डॉक्‍टर कुनाल शर्मा
Fact Check : False

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here