नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सऐप पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि राजस्‍थान में एक हिंदू लड़की को घर ले जाकर बलात्‍कार किया गया। पुलिस कुछ नहीं कर रही है, क्‍योंकि आरोपी मुसलमान हैं। विश्‍वास टीम की जांच में वायरल मैसेज गलत साबित हुआ है। जानबूझ कर लोगों की भावनाओं को भड़काने का प्रयास किया जा रहा है।
पड़ताल 
विश्‍वास टीम के वॉट्सऐप पर एक यूजर्स ने हमें ये वीडियो भेजा था, ताकि हम इसकी सच्‍चाई दुनिया को बता सकें। सबसे पहले हमने वीडियो के साथ वायरल किए जा रहे मैसेज की एक लाइन ”अपने एक बाप की औलाद हो तो..” को फेसबुक पर डालकर सर्च किया। नतीजे चौकाने वाले थे। इस लाइन को अलग-अलग वीडियो के साथ डालकर कई महीनों से कई वीडियो वायरल किए गए थे। हर वीडियो का कंटेंट अलग था। लेकिन कैप्‍शन की लाइनें एक ही थीं। वायरल वीडियो के माध्‍यम से लोगों को उकसाने का प्रयास किया जा रहा है।
वॉट्सऐप पर भेजा गया वीडियो हमें फेसबुक पर मिल गया। अब इसी वीडियो को हमने यूटयूब पर खोजने की कोशिश की। जैसे ही वायरल मैसेज की ”अपने एक बाप की औलाद हो तो..’‘ लाइन को यूटयूब पर सर्च किया तो हमें कई वीडियो मिल गए। इसमें एक वीडियो वो भी था, जो हमें वॉट्सऐप पर मिला था। यूटयूब पर ये वीडियो आज से पांच महीने पर अपलोड किया गया था यानी एक बात तो साफ थी कि ये वीडियो पुराना है। लेकिन हमारे सामने चुनौती इस वीडियो की सच्‍चाई जानने की।
यूटयूब के लिंक को हमने InVID में डालने के बाद गूगल इमेज रिवर्स सर्च किया तो हमारे सामने कई पेज खुल गए। कई वीडियो के बाद दो ऐसे वीडियो के लिंक दिखे, जिसमें इसी वीडियो को कारगिल में अमर शहीद के परिवार का बताया गया। जब हमने इनपर क्लिक किया तो ये ओपन नहीं हुए। इसके बाद हमने फिर से गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया और इमेज के साथ शहीद का परिवार टाइप करके सर्च किया।
गूगल के Visually similar images की पहली तस्‍वीर को हमने क्लिक तो सच्‍चाई अब पूरी तरह हमारे सामने थी। तस्‍वीर पर क्लिक करने के बाद हम वीडियो पर आ गए। वीडियो का कैप्‍शन था – शहीद हंसराज गुर्जर बानसूर अलवर मुंगलपुर। ये वीडियो 15 जून 2018 में अपलोड हुआ था।
अब हमें ये पता करना था कि सबसे पहले किसने वीडियो अपलोड किया था। इसके लिए हमारा ये जानना जरूरी थी कि घटना कब की है। गूगल में हमने एक बार फिर हंसराज गुर्जर टाइप करके न्‍यूज सर्च की तो कई वेबसाइट के लिंक हमारे सामने खुल गए। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 13 जून की सुबह जम्‍मू के सांबा सेक्‍टर की च‍मलियाल पोस्‍ट पर देश की सरहद की रक्षा करते हुए हंसराज गुर्जर शहीद हो गए थे।
अब हम हमने गूगल में कस्‍टम रेंज में 13 जून की डेटकर डालकर वीडियो सर्च किया। सबसे पहले वायरल वीडियो को राजस्‍थान डेस्‍क नाम के यूटयूब चैनल ने अपलोड किया था। इस पर अब तक 22 हजार से ज्‍यादा वीडियो व्‍यूज हैं। विश्‍वास टीम की पड़ताल में साबित हुआ कि जिस वीडियो को हिंदू लड़की के बलात्‍कार के नाम पर वायरल किया जा रहा है, वो फेक है।
असली वीडियो आप नीचे देख सकते हैं

पूरा सच जानें…सब को बताएं
सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।
Claim Review : दावा किया जा रहा है कि राजस्‍थान में एक हिंदू लड़की को घर ले जाकर बलात्‍कार किया गया
Claimed By : युवा हिंदू शक्ति संगठन
Fact Check : False

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here