Fact Check : ATM से 5वीं बार पैसे निकालने पर नहीं कटते हैं 173 रुपए

0

नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। फेसबुक पर एक पोस्‍ट वायरल हो रही है। इसमें दावा किया जा रहा है कि एटीएम से चार बार से अधिक पैसा निकालने पर 173 रुपए कटेंगे। इसी तरह एक जून से बैंक में चार ट्रांजैक्‍शन के बाद हर ट्रांजैक्‍शन पर 150 रुपए कटेंगे। विश्‍वास टीम की पड़ताल में यह मैसेज गलत साबित हुआ। एक जून 2019 के लिए ऐसा कोई नियम बैंकों की ओर से लागू नहीं किया जा रहा है। हमारी जांच में पता चला कि एटीएम से चार बार से अधिक ट्रांजैक्‍शन करने पर अधिकतम 20 रुपए बैंक चार्ज कर सकते हैं। इसमें टैक्‍स अलग से लगता है, जबकि बैंक से चार बार से ज्‍यादा पैसे निकालने या जमा करने पर 150 रुपए बैंक चार्ज करता है। हालांकि, यह नियम 1 मार्च 2017 से लागू है। इसलिए यह कहना गलत है कि एक जून से ऐसा कोई नियम लागू होने वाला है।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

दादी माँ के घरेलु नुस्खे नाम (@gurujihealthtips) के फेसबुक पेज ने 13 मार्च को एक पोस्‍ट अपलोड की। इसमें दावा किया गया है कि एटीएम से चार बार से अधिक पैसा निकालने पर 150 रुपए टैक्‍स और 23 रुपए सर्विस चार्ज मिलाकर कुल 173 कटेंगे। एक और तोहफा। एक जून से बैंक में 4 ट्रांजैक्शन के बाद हर ट्रांजैक्शन पर 150 रिपए चार्ज लगेगा। जनता के गले पर एक बार में छुरा क्‍यों नहीं फेर देते? कमाओ तो टैक्‍स, बचाओ तो टैक्‍स और तो और बैंक में जमा कराओ तो टैक्‍स। फिर वापस निकालो तो टैक्‍स…।

इस मैसेज को अब तक 17 सौ से ज्‍यादा बार शेयर किया जा चुका है, जबकि सैकड़ों की तादाद पर लोग इस पोस्‍ट पर कमेंट कर रहे हैं।

पड़ताल

वायरल पोस्‍ट की सच्‍चाई जानना इसलिए जरूरी था, क्‍योंकि आज के समय में हर कोई बैंक सुविधाओं का उपयोग करता है। इसलिए यह जानना जरूरी था कि क्‍या वाकई में एक जून से बैंक अपने नियमों में कोई बदलाव करके कस्‍टमर से पैसे वसूलेंगे। सबसे पहले हमने अलग-अलग कीवर्ड से गूगल में ऐसी खबर को खोजने का प्रयास किया, जिसमें एक जून से बदलाव की बात कही गई हो, लेकिन हमें एक भी खबर ऐसी नहीं मिली।

इसके लिए हमने सबसे पहले रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर इससे जुड़ी सूचना को खंगालना शुरू किया। सबसे पहले हमें यह जानना था कि यदि एटीएम से महीने में चार बार से ज्‍यादा पैसे निकालेंगे तो क्‍या वाकई 173 रुपए कटेंगे?

आरबीआई की साइट पर हमें जानकारी मिली कि एटीएम की लोकेशन के आधार पर बैंक को 5 फ्री लेन-देन की सुविधा देनी चाहिए। यदि बैंक का एटीएम मेट्रो शहर में है तो कम से कम तीन फ्री एटीएम ट्रांजैक्शन की सुविधा देनी होगी। यह नियम तभी लागू होगा, जब कस्‍टमर उसी बैंक के एटीएम से पैसे निकाले, जहां उसका सेविंग अकाउंट है। मेट्रो शहर में मुंबई, दिल्ली, चेन्नई, कोलकाता, हैदराबाद और बेंगलुरु जैसे शहर आते हैं। यदि कस्‍टमर दूसरे बैंक के एटीएम से लेन-देन करता है, तो पांच फ्री ट्रांजैक्शन की सुविधा बैंक को देना चाहिए।

अब हमें यह जानना था कि यदि निश्चित ट्रांजैक्शन के बाद यदि कस्‍टमर एटीएम का यूज करता है, तो फिर कितना चार्ज उसे देना होगा। इसका जवाब भी हमें आरबीआई की वेबसाइट पर मिल गया। तय सीमा से अधिक ट्रांजैक्शन पर कस्‍टमर को अधिकतम 20 रुपए प्रति ट्रांजैक्शन का चार्ज देना होगा। इसमें टैक्‍स भी लगेगा, यदि कोई मान्‍य है तो। ऐसे में यह कहना गलत है कि चार बार से अधिक पैसा निकालने पर 173 रुपए कस्‍टमर को प्रति ट्रांजैक्शन देना होगा।

रिजर्व बैंक ऑ‍फ इंडिया की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी

इसके बाद हमने देश के सबसे बड़े निजी बैंक HDFC के चार्ज जानने की कोशिश की। इसका जवाब हमें HDFC की वेबसाइट पर ही मिल गया। बैंक के कस्‍टमर सर्विस के Ask EVA चैट बॉक्‍स में जब हमने एटीएम के ट्रांजैक्‍शन चार्ज के बारे में पूछा, तो हमें वहां से जवाब मिला कि बैंक के एटीएम से यदि कोई ट्रांजैक्‍शन करता है तो पांच ट्रांजैक्‍शन तक उससे कोई चार्ज नहीं लिया जाता है, जबकि मेट्रो शहरों में इसकी लिमिट तीन ट्रांजेक्‍शन की है।

HDFC बैंक की वेबसाइट के Ask EVA से चैट पर मिली जानकारी


इसके बाद यदि बैंक अकाउंट होल्‍डर ट्रांजैक्‍शन करता है तो कैश निकालने पर 20 रुपए और नन फाइनेंशियल ट्रांजैक्‍शन पर 8.50 रुपए चुकाने होंगे। इस पर टैक्‍स अलग से लगेगा।

HDFC बैंक की वेबसाइट के Ask EVA से चैट पर मिली जानकारी

इसके बाद हमें यह जानना था कि क्‍या वाकई बैंक में पांच लेन-देन पर 150 रुपए चुकाने होंगे। इसका जवाब भी हमें HDFC की साइट पर मिला। बैंक के नियम के मुताबिक, यदि आप महीने में चार बार पैसे जमा या निकालते हैं तो कोई चार्ज आपको नहीं देना होगा, लेकिन इसके बाद के लेन-देन पर प्रति ट्रांजैक्‍शन 150 रुपए देना होगा।

HDFC बैंक की वेबसाइट से मिली जानकारी

हमें HDFC बैंक का एक नोटिफिकेशन मिला कि 1 मार्च 2017 को इसे लागू किया गया है। इसमें भी आप साफतौर पर देख सकते हैं कि बैंक की शाखा से चार बार तक लेन-देन तक कोई चार्ज नहीं है। इसके बाद 150 रुपए और टैक्‍स अलग से चुकाने होंगे। यह नियम पैसे जमा करने और निकालने दोनों पर लागू होते हैं।

HDFC बैंक की वेबसाइट से मिली जानकारी

हर बैंक का अपना अलग नियम है। इसकी खोज में जब हम आगे बढ़े तो हमें क्विंट हिंदी का एक लिंक मिला। इसमें विस्‍तार से बैंकों के चार्ज के बारे में बताया गया है। क्विंट के अनुसार, एचडीएफसी के कस्टमर बैंक से 4 कैश ट्रांजैक्शन मुफ्त कर सकेंगे। 5वीं बार या उससे ज्यादा बार ट्रांजैक्शन करने पर 150 रुपए और सर्विस चार्ज देना होगा।

क्विंट हिंदी की वेबसाइट की खबर का स्‍क्रीनशॉट

इसी तरह दूसरे बैंकों की बात करें तो ICICI बैंक में महीने में चार बार ट्रांजैक्‍शन फ्री है। इसके बाद 150 रुपए देने होते हैं। स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया में तीन बार तक कैश ट्रांजैक्‍शन फ्री है। इसके बाद के ट्रांजैक्‍शन के लिए पचास रुपए और टैक्‍स देने होते हैं।

क्विंट हिंदी की वेबसाइट की खबर का स्‍क्रीनशॉट

हमने bankbazaar.com पर एटीएम ट्रांजैक्‍शन के बारे में सर्च किया, तो व‍हां हमें एक ही जगह बैंकों के चार्ज मिले। यह आप नीचे देख सकते हैं। हर बैंक अपनी सुविधा के अनुसार, चार्ज करते हैं,लेकिन यह बीस रुपए से ज्‍यादा नहीं हो सकता।

बैंक बाजार की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की जांच में पता चला कि जून में बैंकों के नियम में ऐसा कोई बदलाव नहीं हो रहा है, जैसा कि वायरल पोस्‍ट में दावा किया जा रहा है। वायरल पोस्‍ट पुरानी है। इस पोस्‍ट का यह दावा गलत है कि एटीएम से चार बार से ज्‍यादा लेन-देन पर 173 रुपए कटेंगे।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Written BY Ashish Maharishi
  • Claim Review : ATM से 5वीं बार पैसे निकालने पर कटते हैं 173 रुपए
  • Claimed By : दादी माँ के घरेलु नुस्खे नाम
  • Fact Check : False

टैग्स

संबंधित लेख