X

Fact Check: बजरंगबली की यह मूर्ति अयोध्या में नहीं, भोपाल में निकली थी

  • By Vishvas News
  • Updated: December 13, 2019

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है। इस पोस्ट में भगवान हनुमान की मूर्ति को ज़मीन के अंदर पड़ा देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि अयोध्या में खुदाई के दौरान यह हनुमान भगवान की प्रतिमा निकली है।

विश्वास टीम ने जब इस दावे की पड़ताल की तो पाया कि वायरल हो रहा दावा फ़र्ज़ी है। यह तस्वीर अयोध्या की नहीं, बल्कि मध्य-प्रदेश की है। भोपाल शहर से 25 किलोमीटर दूर ग्राम बरखेड़ी अब्दुल्ला में एक खेत में खुदाई के दौरान बजरंगबली की मूर्ति निकली थी। यह घटना 13 जुलाई 2019 की है।

क्या हो रहा है वायरल?

वायरल पोस्ट में भगवान हनुमान की मूर्ति को ज़मीन के अंदर पड़ा देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि अयोध्या में खुदाई के दौरान यह हनुमान भगवान की प्रतिमा निकली है। पोस्ट में डिस्क्रिप्शन लिखा गया है: While digging five acres of land allotted to Babri masjid they found Lord Hanuman’s idol in the land. It shows Ayodhya is land of Lord Ram

पड़ताल

पड़ताल की शुरुआत करते हुए हमने सबसे पहले इस तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज टूल में सर्च किया। सर्च के नतीजों से यह साफ़ हो गया कि वायरल हो रही तस्वीर अयोध्या की नहीं, बल्कि मध्य-प्रदेश की है। हमें 12 जुलाई 2019 को प्रकाशित की गई नईदुनिया की एक खबर का लिंक मिला। इस खबर की हेडलाइन थी: “VIDEO : पौधे लगाने के लिए खोद रहे थे गड्ढा, तभी धरती का सीना फाड़कर बाहर आए बजरंगबली”

इस खबर के अनुसार: शहर से करीब 25 किमी. दूर स्थित ग्राम बरखेड़ी अब्दुल्ला में एक खेत में खुदाई के दौरान बजरंगबली की मूर्ति निकली। खेत एक महात्मा का है, वह यहां काफी समय से आश्रम बनाने की तैयारी भी कर रहे थे। दावा किया गया है कि हनुमानजी की यह प्रतिमा काफी प्राचीन है। बजरंगबली की प्रतिमा के प्रकट होने की खबर फैलते ही वहां लोग दर्शनों के लिए पहुंचने लगे हैं। एहतियात के तौर पर मौके पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। इस बात की सूचना मिलने पर सीएसपी अयोध्या नगर सुरेश दामले मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि मन्नत बाबा ने बताया कि वह काफी समय से इस स्थान पर बड़ा आश्रम बनाने का विचार कर रहे थे। गुरुवार को भगवान की मूर्ति स्वयं जमीन से प्रकट हो गई है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार सुबह 8 बजे से विशेष अनुष्ठान का क्रम शुरू होगा।

इस खबर में इस मौके की वीडियो भी शेयर की गई है जिसे आप नीचे देख सकते हैं:

नईदुनिया की खबर के अलावा हमें पत्रिका की भी एक खबर का लिंक मिला जिसके स्क्रीनशॉट को आप नीचे देख सकते हैं। खबर की हेडलाइन थी: दावा: धरती में से प्रकट हुए बजरंगबली, चोला चढ़ाने के लिए उमड़ पड़ी भीड़

अब हमने सीधा NaiDunia.com के डिजिटल एडिटर सुधीर गोरे से संपर्क किया जिनकी बात इस मामले को लेकर संतोष मुदगल तत्कालीन तहसीलदार,हुजूर, भोपाल से हुई। संतोष ने बताया “जुलाई 2019 में हमें पता चला था कि बरखेड़ी अब्दुल्ला नाम के एक गांव में खुदाई के दौरान हनुमान जी की मूर्ति निकली है। हमने उस दौरान मौका मुआयना किया था और लोगों की श्रद्धा को देखते हुए पुलिस भी लगाई थी। बरखेड़ी अब्दुल्ला में मन्नत बाबा की जमीन पर पौधारोपण के लिए खुदाई के दौरान यह मूर्ति मिली थी।”

नईदुनिया की टीम ने मन्नत बाबा, पुजारी से भी संपर्क किया। आपको बता दें जिस खेत में यह मूर्ति निकली थी वह मन्नत बाबा का है। पुजारी ने बताया, “जुलाई महीने में पौधारोपण के दौरान हमें खुदाई में यह मूर्ति मिली थी। तब से अब तक रोज उसी स्थान पर बजरंगबली की पूजा की जा रही है।”

अब हमने इस पोस्ट को शेयर करने वाले यूज़र Satia Kumar के फेसबुक अकाउंट की सोशल स्कैनिंग करने का फैसला किया। हमने पाया कि यूज़र चेन्नई में रहता है।

निष्कर्ष: विश्वास टीम ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल हो रही तस्वीर का अयोध्या से कोई सबंध नहीं है। यह प्रतिमा अयोध्या में नहीं, बल्कि मध्य-प्रदेश में एक खुदाई के दौरान निकली थी।

  • Claim Review : बजरंग बली की यह मूर्ति अयोध्या में निकली थी
  • Claimed By : FB User- Satia Kumar
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later