महिला नेता की पुरानी तस्‍वीर IAS चंद्रकला के नाम पर हो रही वायरल

नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक तस्‍वीर वायरल हो रही है। इसमें दावा किया जा रहा है कि बारिश में छाता लगाकर IAS बी. चंद्रकला पौधे में पानी डाल रही हैं, जबकि विश्‍वास टीम की पड़ताल में पता चला कि तस्‍वीर चंद्रकला की नहीं, बल्कि वसई-विरार (महाराष्‍ट्र) की मेयर प्रवीणा ठाकुर की हैं। ये तस्‍वीर जुलाई 2016 है।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में?

8 जनवरी को आनंद (@anandagarwal554) नाम के Twitter यूजर्स ने एक तस्‍वीर पोस्‍ट करते हुए लिखा – बी.चंद्रकला ऐसी ही हरकतों से छाई रहती थी और भारत कुछ जाहिलों अब अगर कोई सोच रहा हैं कि इस तस्वीर में ऐसा क्या गलत हैं जो इनकी हरकत पर उंगली उठा रहा हूँ तो गलत तो कुछ नहीं हैं बस IAS वाला दिमाग देख रहा था कि बरसात में भी कुछ बुद्धिमान छाता लगाकर पौधे में पानी देते हैं।

विकास पांडेय नाम के यूजर्स ने भी तस्‍वीर को शेयर करते हुए चंद्रकला को लेकर लिखा कि आरक्षण नौकरी दे सकता है अक्‍ल नहीं।

पड़ताल

वायरल तस्‍वीर को जब हमने गूगल रिवर्स इमेज से चेक किया तो हमें कई लिंक मिले। कई लिंक में तो दावा किया गया कि तस्‍वीर आम आदमी पार्टी की नेता अलका लांबा की है। तस्‍वीर को ध्‍यान से देखने पर पता चला कि पौधे में पानी डालने वालीं महिला न तो चंद्रकला है और ना ही अलका लांबा। ऐसे में हमारे लिए ये जानना जरूरी था कि आखिर तस्‍वीर में दिखने वाली महिला कौन हैं? गूगल रिवर्स इमेज के दौरान ही हमें इंडियन एक्‍सप्रेस का 7 जुलाई 2016 का एक लिंक मिला। एक्‍सप्रेस की खबर के अनुसार, तस्‍वीर में दिख रहीं महिला वसई-विरार की मेयर प्रवीणा ठाकुर हैं।

इंडियन एक्‍सप्रेक्‍स की खबर के लिंक का प्रिंट शॉट

अब हमें ये जानना था कि मेयर प्रवीणा ठाकुर किस अवसर पर पौधे में पानी डाल रही हैं। फोटो को ध्‍यान से देखने पर पता चला कि ये पौधारोपण जैसे किसी अवसर की तस्‍वीर है। इसके बाद हमने गूगल सर्च की मदद ली। गूगल में maharashtra government plant in 2016 टाइप करके हमने सर्च किया। हमारे सामने कई खबरों के लिंक के थे। खबरों के अनुसार, महाराष्‍ट्र सरकार ने एक जुलाई 2016 से पूरे प्रदेश में दो करोड़ पौधे लगाने का संकल्‍प लिया था।

गूगल सर्च में मिली खबरों के लिंक का प्रिंट शॉट

अब हमें ये पता करना था कि प्रवीणा ठाकुर की करीब तीन साल पुरानी तस्‍वीर को चंद्रकला के नाम पर वायरल करने वाले आनंद (@anandagarwal554) कौन हैं। इसके लिए हमने https://foller.me का यूज किया। इस Twitter अकाउंट की प्रोफाइल में लिखा है – जो देश का दुश्मन वो मेरा दुश्मन और जो भाजपा का दुश्मन वो देश का दुश्मन।

फर्जी पोस्‍ट अपलोड करने वाले आनंद अग्रवाल के twitter अकाउंट का प्रिंट शॉट

नवंबर 2014 में बने इस अकाउंट को सात हजार से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं। अब तक 2.58 लाख ट्वीट हो चुके हैं।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की पड़ताल में पता चला कि वायरल तस्‍वीर IAS अधिकारी चंद्रकला की नहीं है। तस्‍वीर में दिख रहीं महिला महाराष्‍ट्र के वसई-विरार की मेयर प्रवीणा ठाकुर हैं। तस्‍वीर जुलाई 2016 की है।

पूरा सच जानें…सब को बताएं

सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

  • Claim Review : बारिश में छाता लगाकर IAS बी. चंद्रकला पौधे में पानी डाल रही हैं
  • Claimed By : Anand Agarwal
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later