X

Fact Check: UGC के आंकड़ों के मुताबिक देश में कुल 1,078 विश्वविद्यालय, 5000 से अधिक यूनिवर्सिटी होने का दावा गलत

भारत में 5000 से ज्यादा विश्वविद्यालय होने का दावा गलत है। वायरल पोस्ट में दावा किया गया है कि भारत में कुल 5,288 विश्वविद्यालय हैं, जबकि यूजीसी के आंकड़ों के मुताबिक, 31 मार्च 2023 तक देश में कुल 1078 विश्वविद्यालय हैं।

  • By Vishvas News
  • Updated: April 21, 2023

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल एक पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि भारत दुनिया के उन देशों में शुमार है, जहां सर्वाधिक संख्या में विश्वविद्यालय हैं। दावा किया जा रहा है कि भारत में कुल 5,288 विश्वविद्यालय हैं, जो अमेरिका जैसे विकसित देशों से ज्यादा है।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा भ्रामक निकला। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कुल 1078 विश्वविद्यालय हैं। वहीं, शिक्षा विभाग के ऑल इंडिया सर्वे ऑन हायर एजुकेशन 2020-21 के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कुल 1,113 विश्वविद्यालय या विश्वविद्यालय जैसी संस्था है। कुल मिलाकर देश में विश्वविद्यालयों की संख्या कहीं से भी 5000 से अधिक नहीं है, जैसा कि पोस्ट में दावा किया गया है।

क्या है वायरल?

सोशल मीडिया यूजर हामिद अली अंसारी ‘Hamid Ali Ansari’ ने वायरल पोस्ट (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है कि भारत में कुल 5,288 विश्वविद्यालय हैं, जबकि अमेरिका में कुल 3,216 विश्वविद्यालय हैं।

कई अन्य यूजर्स ने इन आंकड़ों को समान दावे के साथ शेयर किया है।

https://twitter.com/gurudas83/status/1648388781089898496

पड़ताल

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में 31 मार्च 2023 तक कुल विश्वविद्यालयों की संख्या 1078 है। इसमें राज्यों में मौजूद विश्वविद्यालयों की संख्या 464 है, जबकि राज्यों में मौजूद निजी विश्वविद्यालयों की संख्या 432 और केंद्रीय विश्वविद्यालयों की संख्या 54 है। साथ ही डीम्ड टू बी यूनिवर्सिटीज की संख्या 128 है।

Source-UGC

इसके साथ ही12 बी के तहत आने वाले विश्वविद्यालयों की संख्या 398 है। इसके तहत आने वाले विश्वविद्यालयों में उन्हें ही अनुदान मिलता है, जिसे यूजीसी इसके योग्य पाती है।

वहीं, उच्चतर शिक्षा विभाग के एआईएसएचई फाइनल रिपोर्ट 2020-21 की रिपोर्ट के मुताबिक, देश में कुल 1,113 विश्वविद्यालय या विश्वविद्यालय जैसी संस्था है।

Source-https://aishe.gov.in/

स्टैटिस्टा की रिपोर्ट में भी भारत में कुल 1,113 विश्वविद्यालयों का जिक्र है और इस रिपोर्ट का स्रोत उच्चतर शिक्षा विभाग की एआईएसएचई फाइनल रिपोर्ट 2020-21 है।

हमारी जांच से स्पष्ट है यूजीसी के विवरण के मुताबिक, भारत में कुल विश्वविद्यालयों की संख्या 1078 है। वायरल पोस्ट में दिए गए आंकड़ों के ऑरिजिनल स्रोत को खंगालने के लिए हमने न्यूज सर्च की मदद ली।

सर्च में www.webometrics.info की वेबसाइट पर जुलाई 2021 संस्करण की रिपोर्ट मिली, जिसमें विश्वविद्यालयों की संख्या के आधार पर देशों की रैकिंग गई है। इसी सूची में अमेरिका में कुल 3216 विश्वविद्यालय, जबकि भारत में 5,288 और चीन में 2,565 विश्वविद्यालय के होने की जानकारी दी गई है।

webometrics.info की 2021 की रिपोर्ट, जिसमें देशों में मौजूद विश्वविद्यालयों की संख्या दी गई है और इसी आंकड़ें को सोशल मीडिया पर गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

इस रिपोर्ट की मेथोडोलॉजी में साफ-साफ लिखा हुआ है कि यह रैकिंग केवल उच्च शिक्षण संस्थाओं के बारे में है। फिलहाल इस रिपोर्ट में 200 से अधिक देशों की ऐसी 31,000 संस्थाओं की रैंकिंग की गई है। जाहिर तौर पर यह रैंकिंग अस्पष्ट मानकों पर आधारित है।

देश में विश्वविद्यालयों की संख्या के बारे में जानने के लिए हमने यूजीसी को कवर करने वाले पीटीआई-भाषा के पत्रकार दीपक रंजन से संपर्क किया। उन्होंने बताया, “यूजीसी के आंकड़ों के मुताबिक, 31 मार्च 2023 तक देश में कुल 1078 विश्वविद्यालय हैं।”

वायरल पोस्ट को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर को फेसबुक पर करीब 7 हजार लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: भारत में 5000 से ज्यादा विश्वविद्यालय होने का दावा गलत है। वायरल पोस्ट में दावा किया गया है कि भारत में कुल 5,288 विश्वविद्यालय हैं, जबकि यूजीसी के आंकड़ों के मुताबिक, 31 मार्च 2023 तक देश में कुल 1078 विश्वविद्यालय हैं।

  • Claim Review : भारत में पांच हजार से अधिक विश्वविद्यालय।
  • Claimed By : FB User-Hamid Ali Ansari
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later