Fact Check : बच्‍चों को बेरहमी से पीटने वाला वीडियो भारत नहीं, सऊदी अरब का एक साल पुराना वीडियो है

0

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें एक शख्‍स को दो मासूम बच्‍चों को बुरी तरह पीटते हुए देखा जा सकता है। कई यूजर्स इसे भारत का बताकर वायरल कर रहे हैं। विश्‍वास टीम की जांच में पता चला कि वीडियो एक साल पुराना है। सऊदी अरब के रियाद में एक मां ने अपने जुड़वा बच्‍चों की बुरी तरह पिटाई की थी। इस औरत को बाद में अरेस्‍ट भी कर लिया गया था।

क्‍या है वायरल वीडियो में

सोशल मीडिया पर दो बच्‍चों के टॉर्चर का वीडियो वायरल हो रहा है। फेसबुक से लेकर WhatsApp तक पर लोग इस वीडियो को वायरल कर रहे हैं। इसमें एक शख्‍स न सिर्फ बच्‍चों को पिटते हुए दिख रहा है, बल्कि गला दबाते भी उसे देखा जा सकता है। कई यूजर्स इसे भारत का बताते हुए वायरल कर रहे हैं।

पड़ताल

विश्‍वास टीम ने सबसे पहले वीडियो को ध्‍यान से देखा। वीडियो में दिख रहे बच्‍चों के नैन नक्‍श हमें भारतीय नहीं लगे। हमें यह तो अंदाजा हो गया था कि वीडियो भारतीय नहीं है। इसके बाद इस वीडियो में से कई स्‍क्रीनशॉट लेकर गूगल रिवर्स इमेज में अपलोड किया। हमें सर्च के दौरान एक ही वेबसाइट पर इस वीडियो से जुड़ी खबर मिली। यह वेबसाइट वियतनाम की phunuvagiadinh.vn थी। सबसे पुरानी खबर सर्च करने के लिए हमने टाइमलाइन टूल का इस्‍तेमाल किया। सबसे पुरानी खबर हमें 23 जुलाई 2018 की मिली।

खबर वियतनामी भाषा में थी। इसे कन्‍वर्ट करने के लिए हमने गूगल ट्रांसलेशन टूल का इस्‍तेमाल किया। खबर में हमें हिंट मिला कि घटना सऊदी अरब के रियाद की है। इसमें बताया गया कि एक औरत ने न केवल अपने दो बच्‍चों को सिर और चेहरे पर अपने हाथ से मारा, बल्कि गला घोंट दिया और बच्चों को फर्श पर फेंक दिया।

इसके बाद हमने अंग्रेजी के कुछ कीवर्ड टाइप करके संबंधित खबर को गूगल में सर्च करना शुरू किया। हमें डेली मेल में एक खबर मिली। इसमें बताया गया कि अपनी छह महीने की जुड़वा बेटियां का टॉर्चर करने वाली महिला को अरेस्‍ट कर लिया गया। खबर 19 जुलाई 2018 को प्रकाशित की गई थी। खबर में आगे बताया गया था कि घटना सऊदी अरब की है। सोमालिया मूल की महिला ने बच्चियों की पिटाई का वीडियो यमन में अपने ससुर को भेजा था। ताकि उनसे पैसे वसूल कर सके।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की पड़ताल में पता चला कि दो मासूम बच्‍चों की पिटाई का वीडियो भारत का नहीं है। यह वीडियो एक साल पुराना है। सऊदी अरब के रियाद में एक औरत ने अपनी जुड़वा बेटियों पर टॉर्चर करते हुए यह वीडियो बनाया था।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews।com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

संबंधित लेख