X

Fact Check: ऑक्सीजन सिलेंडर का काम नहीं दे सकता खाली नेबुलाइजर, वायरल वीडियो है फर्जी

  • By Vishvas News
  • Updated: April 28, 2021

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रही है, जिसमें नीले कपड़े पहने और गले में स्टेथोस्कोप लगाए एक व्यक्ति कहता है कि वह डॉ. आलोक है और लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए भागने की जरूरत नहीं है। आगे यह व्यक्ति वीडियो में बताता है कि मैं एक ट्रिक बता रहा हूं, जिसे आजमाने से आपको फायदा हो सकता है और इसके बाद वह बिना दवा के नेबुलाइजर का इस्तेमाल करने की सलाह यह कहते हुए देता है कि हमारे आसपास इतना ऑक्सीजन है कि इस नेबुलाइजर की मदद से हमारे शरीर की ऑक्सीजन की कमी को पूरा किया जा सकता है। विश्वास न्यूज ने पड़ताल में पाया कि वायरल हो रहा यह वीडियो फर्जी है।

दरअसल डॉक्टर्स का कहना है कि ऑक्सीजन सिलेंडर की जगह खाली नेबुलाइजर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता, वायरल वीडियो में बताया गया तरीका सही नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर Surendra Bandi ने यह वीडियो शेयर करते हुए अंग्रेजी में कैप्शन लिखा जिसका हिंदी अनुवाद है: यह फरीदाबाद के सर्वोदय हॉस्पिटल के डॉ. आलोक हैं। वे इस वीडियो में घर पर ही ब्लड ऑक्सीजन लेवल को बेहतर करने के लिए खाली नेबुलाइजर को इस्तेमाल करने का तरीका बता रहे हैं।

वीडियो में व्यक्ति बोलता है: मैं डॉक्टर आलोक, मैं यह बिल्कुल भी नहीं देख पा रहा हूं कि लोग ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए भाग रहे हैं, कुछ भी देने के लिए, कितना भी अमाउंट देने के लिए रेडी हैं, ऐसा बिल्कुल मत करिए, यह मैं बिल्कुल भी नहीं देख पा रहा हूं, मैं आपको एक ट्रिक बता रहा हूं यह आजमाइए और देखिए आपको इससे कितना फायदा होगा। ये हमारी नेबोलाइजेशन मशीन है, यह नेबोलाइजर है, इसको हम ऐसे कनेक्ट करते हैं, इसमें हम नेबोलाइजेशन ड्रग डालते हैं, कुछ डालने की जरूरत नहीं है, इसे ऐसे कनेक्ट करिए और अपने फेस पर ऐस करके लगाना है। इसमें कोई भी मेडिसिन डालने की जरूरत नहीं है। इसे ऑन करिए और बैठ जाइए बस, ऐसे करना है आपको, ऐसे लगा कर रखना है। हमारे एन्वायरन्मेंट में इतनी ऑक्सीजन है कि हमें ऑक्सीजन मिल जाएगा। कोई भी लोग ऑक्सीजन सिलेंडर के पीछे मत भागिए। घर बैठिए नेबोलाइजेशन मशीन लगाइए, फ्री एयर में इतनी ऑक्सीजन है जितनी आपको जरूरत है।

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने वायरल वीडियो की पड़ताल करने के लिए सबसे पहले वेंकटेश्वर हॉस्पिटल, द्वारका में पल्मनोलॉजिस्ट डॉ प्रतिभा गोगिया से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि वायरल वीडियो में किया जा रहा दावा गलत है। ऑक्सीजन लेवल कम होने पर खाली नेबोलाइजर से कोई सहायता नहीं मिल सकती। उन्होंने हमें बताया कि नेबोलाइजर का इस्तेमाल पेशेंट को मिस्ट फॉर्म में लाइफ सेविंग दवा देने के लिए किया जाता है। यह ऑक्सीजन की कमी पूरी नहीं कर सकता।

हमें सर्वोदय हेल्थकेयर के ट्विटर हैंडल पर एक ट्वीट भी मिला, जिसमें यह साफ किया गया है कि वायरल वीडियो में बताए गए तरीके का कोई साइंटिफिक प्रूफ नहीं है न ही ऐसी कोई स्टडी इस दावे का समर्थन करती है, लिहाजा ऐसा कोई भी तरीका मेडिकल प्रैक्टिशनर की सलाह के बिना न अपनाएं। साथ ही सर्वोदय हॉस्पिटल फरीदाबाद इस वीडियो को एंडोर्स नहीं करता।

इसके बाद हमने वायरल वीडियो में नजर आ रहे डॉक्टर आलोक सेठी से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि वे सर्वोदय हॉस्पिटल के कार्डिएक डिपार्टमेंट में बतौर जूनियर डॉक्टर प्रैक्टिस कर रहे हैं। उन्होंने हमें बताया कि उन्होंने यह वीडियो अपने पेशेंट्स की मदद के लिए बनाया था, ताकि उनमें पैनिक कम हो सके। हालांकि, जब हमने उनसे यह पूछा कि क्या उनका बताया तरीका कारगार है तो वो जवाब नहीं दे सके और हमारे सवालों से बचते नजर आए। हमारे साथ बातचीत में उन्होंने यह बात जरूर स्वीकार की कि ऑक्सीजन सिलेंडर की जगह नेबुलाइजर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता।

अब बारी थी फेसबुक पर पोस्ट को साझा करने वाले यूजर Surendra Bandi की प्रोफाइल को स्कैन करने का। प्रोफाइल को स्कैन करने पर हमने पाया कि यूजर इंदौर, मध्य प्रदेश का रहने वाला है।

निष्कर्ष: हमारी पड़ताल में यह साफ हुआ कि वायरल वीडियो में किया जा रहा दावा गलत है। ऑक्सीजन लेवल कम होने पर ऑक्सीजन सिलेंडर की जगह खाली नेबुलाइजर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता।

  • Claim Review : ऑक्सीजन सिलेंडर की जगह खाली नेबुलाइजर के इस्तेमाल से भी ऑक्सीजन की कमी पूरी की जा सकती है।
  • Claimed By : FB User : Surendra Bandi
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later