Fact Check: गर्म नारियल पानी से कैंसर सेल के खत्म होने का दावा करने वाली पोस्ट फर्जी है

नई दिल्ली (विश्वास टीम)।फेसबुक पर एक पोस्ट वायरल हो रही है। इस पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि गर्म नारियल पानी कैंसर सेल को मार सकता है। इस पोस्ट में आगे दावा किया गया है कि नारियल पानी का सिस्ट और ट्यूमर पर भी असर पड़ता है। इस पोस्ट की जानकारी का श्रेय टाटा मेमोरियल अस्पताल के डॉक्टर राजेंद्र ए बादवे को दिया जा रहा है और इस नाम का इस्तेमाल कर इसे आगे बढ़ाया जा रहा है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा फर्जी निकला है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

इस फेसबुक पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ. बादवे ने पुष्टि की है कि गर्म नारियल पानी कैंसर सेल को मार देता है। इस पोस्ट में आगे दावा किया जा रहा है कि गर्म नारियल पानी में ऐंटी-कैंसर तत्व होते हैं और नारियल जूस सिस्ट और ट्यूमर में असरदार है।

यह फेसबुक पोस्ट अंग्रेजी में है जिसकी हिंदी इस तरह है, ‘यह मैसेज सोशल मीडिया पर घूम रहा है और हमारे मरीज पूछ रहे हैं कि यह सच है कि नहीं। इसे स्पष्ट करने के लिए टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ. बादवे का शुक्रिया। गर्म नारियल पानी, कृपया फॉर्वर्ड करें, कृपया फॉर्वर्ड करें: टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के डॉ. राजेंद्र ए बादवे ने इस बात पर जोर दिया है कि अगर किसी को यह न्यूजलेटर मिलता है तो वह दूसरों को 10 कॉपी फॉर्वर्ड कर सकता है, तय है कि कम से कम एक जिंदगी बचाई जा सकेगी… मैंने अपना हिस्सा अदा कर दिया है, आशा है कि आप भी अपनी भूमिका अदा करेंगे। शुक्रिया! गर्म नारियल पानी आपको उम्रभर बचा सकता है। इसे फिर से देखें और दूसरों को बताएं, प्यार फैलाएं। गर्म नारियल पानी- कैंसर सेल को मारता है! नारियल के दो-तीन पतले टुकड़े एक कप में काटें, गर्म पानी मिलाएं, यह ‘अल्केलाइन वॉटर’ में बदल जाएगा, इसे रोज पिएं, यह सबके लिए अच्छा है। गर्म नारियल पानी से ऐंटी-कैंसर तत्व निकलते हैं, मेडिकल फील्ड में कैंसर के प्रभावी इलाज का यह लेटेस्ट आधुनिक तरीका है। गर्म नारियल जूस का सिस्ट और ट्यूमर पर असर प़ता है। पुष्टि हो चुकी है कि यह सभी प्रकार के कैंसर के इलाज में प्रभावी है।’

इस पोस्ट में आगे लिखा है कि, ‘नारियल पानी से होने वाला यह इलाज केवल हानिकारक सेल को खत्म करता है, हेल्दी सेल्स को प्रभावित नहीं करता। इसके अलावा नारियल जूस में मौजूद अमीनो एसिड और पॉलीफिनॉल हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित कर सकता है, थ्रांबोसिस से बचा सकता है औरब्लड सर्कुलेशन को ठीक रखते हुए खून का थक्का बनने से रोक सकता है।’

पोस्ट के अंत में अपील की गई है कि, ‘इसे पढ़ने के बाद, अपने परिवार, दोस्तों, दूसरों को बताएं, प्यार फैलाएं! अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखें।’

पड़ताल

हमने इस पोस्ट के दावों को अलग-अलग हिस्सों में बांटकर अपनी पड़ताल शुरू की।

वायरल दावे के मुताबिक टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ. बादवे ने स्पष्ट किया है कि गर्म नारियल पानी कैंसर सेल्स को मार देता है। हमने इसके कीवर्ड्स (Dr.Badwe, Tata Memorial Hospital said hot coconut water kills cancer cells) का इस्तेमाल कर गूगल सर्च किया। हमने यह जानना चाहा कि क्या टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के डायरेक्टर ने ऐसा कोई बयान दिया है या नहीं।

हमें ऐसी कई न्यूज रिपोर्ट मिलीं जिनके मुताबिक डॉक्टर ने ऐसी कोई बात नहीं कही थी। यहां ऐसी ही कुछ रिपोर्ट का स्क्रीनशॉट दिया गया है:

18 मई 2019 के टाइम्स ऑफ इंडिया के एक आर्टिकल के मुताबिक: गुरुवार के टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के बयान के मुताबिक यह मैसेज गलत है क्योंकि ऐसा कोई वैज्ञानिक आंकड़ा नहीं है जो यह बताता हो कि गर्म नारियल पानी कैंसर का इलाज कर सकता है। डॉ. बादवे के हस्ताक्षर वाले इस बयान में लोगों से अपील की गई है कि सोशल मीडिया पर शेयर किए गए इस नुकसान पहुंचाने वाले मैसेज का शिकार न बनें।

हमें 17 मई 2019 का हिंदू अखबार का एक और आर्टिकल मिला। इसके मुताबिक: भारतीय आन्कोलॉजिस्ट सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे कैंसर के अवैज्ञानिक, चमत्कारिक इलाज के दावे से जूझ रहे हैं। गुरुवार को देश के प्रीमियर कैंसर इंस्टिट्यूट मुंबई के टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल (टीएमसी) ने उनके नाम से वॉट्सऐप पर शेयर किए जा रहे कैंसर के एक अजीब उपचार पर खंडन जारी किया। इसमें कहा जा रहा था कि गर्म नारियल पानी हर तरह के कैंसर सेल्स को खत्म कर सकता है।

इसी तरह 18 मई 2019 के हिंदुस्तान टाइम्स के एक आर्टिकल के मुताबिक: टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल (टीएमएच), परेल के डायरेक्टर ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि गर्म नारियल पानी कैंसर का इलाज है। हॉस्पिटल ने शुक्रवार को एक नोटिस जारी कर यह बात कही।

यह सफाई उस मैसेज के बाद आई जिसमें कहा जा रहा है कि डायरेक्टर ने ऐसा दावा किया था। इस मैसेज को सोशल मीडिया पर सर्कुलेट किया जा रहा था।

“हम सभी संबंधित लोगों को यह स्पष्ट करना चाहेंगे कि यह मैसेज फर्जी है। न तो डॉ (राजेंद्र) बादवे (डायरेक्टर) और न ही टीएमएच ने इस दृष्टिकोण को स्वीकार किया है। ऐसा कोई आंकड़ा नहीं है जो सुझाव देता हो कि गर्म नारियल पानी किसी भी तरह के कैंसर को ठीक कर सकता है। लोगों से अपील है कि सोशल मीडिया पर चल रहे झूठे और नुकसान पहुंचाने वाले मैसेज से गलत जानकारी ना लें।”

इन आर्टिकलों को पढ़ने के बाद यह स्पष्ट हो गया था कि टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के डायरेक्टर ने इस बात की पुष्टि नहीं की थी।

हालांकि हमने अपनी पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए यह भी जानना चाहा कि कहीं ऐसी कोई दूसरी स्टडी तो नहीं जो यह कहती हो कि नारियल पानी कैंसर सेल्स को मारता है। हमें ‘यूएस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन नेशनल इंस्टिट्यूट्स ऑफ हेल्थ’ की एक रिसर्च मिली। इस रिसर्च पेपर में कहा गया है कि नारियल पानी और विनेगर्स (सिरका) में ऐंटी-ट्यूमर और इम्यूनोस्टिम्यूलेट्री (इम्यून के रिस्पॉन्स को बढ़ाने वाला) असर होने की बात पता चली है। हालांकि अभी इन दोनों असर का परीक्षण होना बाकी है। नारियल पानी के अपने फायदे हैं लेकिन कहीं भी इस बात का जिक्र नहीं है कि गर्म नारियल पानी कैंसर सेल्स को मार सकता है।

वायरल पोस्ट में यह भी दावा किया गया है कि नारियल पानी शर्तिया हर तरह के कैंसर का इलाज करता है। हमने आगे की रिसर्च की और मेडिकल न्यूज टुडे पर हमें मिला कि पौधों को बड़ा करने में मदद करने वाले हार्मोंस (साइटोकाइनिंस) नारियल पानी में भी मिलते हैं। ऐसा माना जाता है कि इसमें कैंसर और बुढ़ापे से लड़ने के गुण होते हैं। हालांकि अबतक ऐसी कोई प्रमुख स्टडी नहीं मिली जो यह बताए कि नारियल पानी कैंसर को ठीक कर सकता है।

इस पोस्ट में यह भी दावा किया गया कि नारियल के दो-तीन टुकड़े लेकर उनमें गर्म पानी डालने से यह ‘अल्केलाइन वॉटर’ बन जाएगा। हमने इससे जुड़ी कोई वैज्ञानिक स्टडी ढूंढने की कोशिश की जो नहीं मिली।

सत्य जानने के लिए विश्वास न्यूज ने इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल के आन्कोलॉजिस्ट डॉ. मनीष सिंघल से संपर्क साधा। डॉक्टर के मुताबिक, ‘नारियल के पानी से कैंसर ठीक करने का दावा पूरी तरह फर्जी है। यह नौटंकी है?’

यानी यह दावा एक कैंसर एक्सपर्ट ने गलत ठहरा दिया है।

WebMdके मुताबिक आमतौर पर नारियल पानी का इस्तेमाल पेय पदार्थ के तौर पर होता है। इसके अलावा ये डिहाइड्रेशन और डायरिया के उपचार में भी काम आता है। हाई ब्लड प्रेशर में भी इसका इस्तेमाल करते हैं और ये एक्सरसाइज परफॉर्मेंस में इजाफा लाता है।

साफ है कि नारियल पानी के कुछ खास हेल्थ बेनिफिट हैं लेकिन इसका कोई वैज्ञानिक प्रणाम नहीं है कि गर्म नारियल पानी कैंसर सेल्स को मार सकता है।

निष्कर्ष

ऐसी कोई रिसर्च नहीं मिली जो इस बात की पुष्टि करे कि गर्म नारियल पानी कैंसर सेल्स को मार सकता है या सभी तरह के कैंसर को ठीक कर सकता है। इसके अलावा टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल ने भी स्पष्ट कर दिया है कि डायरेक्टर डॉ. बादवे के नाम से वायरल किया जा रहा मैसेज फर्जी है। 

  • Claim Review : गर्म नारियल पानी से कैंसर सेल के खत्म होने का दावा
  • Claimed By : FB User: Nidhi Joshi
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later