Fact Check: सिर्फ चार घंटे में Uni-Sto दवा से पथरी के इलाज का दावा फर्जी है

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। फेसबुक पर एक पोस्ट वायरल हो रही है। इस पोस्ट में दरअसल एक दवा की तस्वीर का स्क्रीनशॉट है, जिसपर कुछ लिखा हुआ है। इस पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि तस्वीर में दिख रही Uni-Stoदवा से पथरी को 4 घंटे में गलाकर खत्म किया जा सकता है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा फर्जी पाया गया है।

क्या है वायरल पोस्ट में

इस पोस्ट को Sardhasनाम के फेसबुक पेज पर शेयर किया गया है। इस पोस्ट में Uni-Stoदवा का स्क्रीनशॉट शेयर किया गया है। इसपर लिखा गया है कि, ‘सिर्फ 4 घंटे में पथरी निकालने वाली दवा जो लेने के चार घंटे में असर शुरू कर देती है आपका एक फारवर्ड किसी की मदद कर सकता है और मरीज ऑपरेशन से बच सकता है।’ विश्वास न्यूज की पड़ताल तक इस पोस्ट पर 809 प्रतिक्रियाएं, 110 कमेंट्स आ चुके थे और इसे 21 हजार या उससे अधिक बार शेयर किया जा चुका था।

पड़ताल

हमने इस वायरल दावे को कई टुकड़ों में बांटकर अपनी पड़ताल शुरू की।

सबसे पहले हमने इस फेसबुक पोस्ट पर आए कमेंट्स को देखा। कई यूजर्स ने कमेंट किया था कि यह दवा उन्हें अपने आसपास नहीं मिली। कुछ ने कमेंट में ही दवा मिलने का पता भी पूछा था क्योंकि वायरल पोस्ट में कोई सोर्स या संपर्क सूत्र का जिक्र नहीं किया गया था।

हमने इस तस्वीर पर लिखे Uniherbsकंपनी को गूगल पर सर्च भी किया। हमें इस नाम से 3 रिजल्ट मिले, uniherbs.com (अमेरिका स्थित एक कंपनी), Uniherbs India और Uni Herbs.

हम अमेरिका स्थित कंपनी के वेबसाइट अड्रेस पर गए। हमने पाया कि इस कंपनी का लोगो वायरल पोस्ट में शेयर की गई तस्वीर के लोगो के साथ मेल नहीं खाता।

इसके बाद हमने Uniherbs India की पड़ताल की। Uniherbs India के अधिकारियों ने कहा कि, ‘हमें रोजाना यह पूछने के लिए कॉल आती है कि Uni-Stoहमारा उत्पाद है या नहीं। हमने ऐसा कोई उत्पाद नहीं बनाया है। यह फर्जी है। हम केवल एनिमल सप्लीमेंट की सप्लाई करते हैं।’

इसके बाद हमने Uni Herbs को सर्च किया। हमें  Uni Herbs का एक फेसबुक पेज मिला।

इस Uni Herbs कंपनी का लोगो भी वायरल तस्वीर के लोगो से मेल नहीं खाता।

हमने यह भी पाया कि फेसबुक पोस्ट में न तो दवा का कंपोजिशन दिया था और न ही यूजर की तरफ से कीमत ही बताई गई थी। पोस्ट में शेयर किए गए स्क्रीनशॉट पर मोहम्मद फैजुल हसन का नाम दिया गया है जिन्होंने इस पोस्ट को शेयर किया था। मोहम्मद फैजुल हसन को लेकर वेब पर कोई जानकारी नहीं मिली।

हमने जनरल फिजिशियन डॉक्टर संजीव कुमार से भी संपर्क किया। उन्होंने कहा कि, ‘पथरी का इलाज इस बात पर निर्भर करता है कि वह कहां है, उसका आकार और प्रकार क्या है। यह फर्जी खबर है।’

हमने StalkScanटूल का इस्तेमाल कर इस वायरल पोस्ट को शेयर करने वाले फेसबुक पेज Sardhasकी प्रोफाइल भी चेक की। हमने पाया कि पेज पर शेयर किए गए कई पोस्ट भ्रामक और फर्जी हैं।

निष्कर्ष

Uni-Stoदवा से 4 घंटे के भीतर पथरी ठीक करने का दावा फर्जी है। हमारी पड़ताल में यह दावा करने वाली पोस्ट फर्जी पाई गई है।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews।com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

  • Claim Review : सिर्फ चार घंटे में Uni-Sto दवा से पथरी के इलाज
  • Claimed By : FB Page: Sardhas
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later