X

Fact Check : ओवैसी से नहीं, नरेंद्र मोदी से हाथ मिला रहे थे अमित शाह

नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक तस्‍वीर वायरल हो रही है। इसमें असादुद्दीन ओवैसी और अमित शाह को कथित रूप से हाथ मिलाते हुए देखा जा सकता है। विश्‍वास टीम की पड़ताल में यह तस्‍वीर फर्जी साबित हुई। फोटोशॉप की मदद से नरेंद्र मोदी की तस्‍वीर के ऊपर ओवैसी का चेहरा चिपकाया गया है।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

I support Rahul Gandhi पेज पर ज्‍योति ठाकुर ने 9 अप्रैल 2019 को फेक तस्‍वीर को अपलोड करते हुए लिखा : जिगरी यारों का मिलन। दोनों के बीच देश भर मे हिन्दू-मुसलिम करके, एक-दूसरे को जिताने का रहस्यमय गठबंधन हो चुका है। कहाँ हो भगतो।

यह तस्‍वीर ट्विटर और वॉट्सऐप पर भी फैली हुई है।

पड़ताल

विश्‍वास टीम ने वायरल फोटो की जांच करने का फैसला लिया। सबसे पहले हमने वायरल तस्‍वीर को गूगल रिवर्स इमेज में सर्च किया। हमें कई ऐसी तस्‍वीरें मिलीं, जो वायरल तस्‍वीर जैसी ही थी। लेकिन इसमें अमित शाह असादुद्दीन औवेसी से नहीं, बल्कि नरेंद्र मोदी से हाथ मिला रहे हैं।

यहां मिले Businesstoday.in की खबर का एक लिंक मिला। इस खबर में नरेंद्र मोदी और अमित शाह की उसी तस्‍वीर का यूज किया गया था, जिसे छेड़छाड़ करके अब वायरल किया जा रहा है। ओरिजनल तस्‍वीर 2014 में हुए महाराष्‍ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के रिजल्‍ट के बाद 19 अक्‍टूबर 2014 की है।

अब हमें यह पता लगाना था कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह की ओरिजनल तस्‍वीर किसने क्लिक की थी। यह जानने के लिए हमने गूगल सर्च में इस तस्‍वीर को सर्च करना शुरू किया। कई पेजों को स्‍कैन करने के बाद आखिरकार हमें GettyImages.in का एक लिंक मिल ही गया। यह तस्‍वीर सज्‍जाद हुसैन ने क्लिक की थी। तस्‍वीर के कैप्‍शन में अंग्रेजी में लिखा हुआ है : Indian Prime Minister Narendra Modi is greeted by Bharatiya Janata Party (BJP) President Amit Shah (R) as Modi arrives at the party headquarters to attend the BJP Parliamentary Board meeting in New Delhi on October 19, 2014. India’s right-wing ruling party secured strong victories in two important state elections, tightening its grip on power after storming to power nationally five months ago. Prime Minister Narendra Modi’s Bharatiya Janata Party (BJP) was assured of victory in Maharashtra, of which financial hub Mumbai is the capital, over its centre-left rival the Congress party which ruled the western state with its allies for 15 years. AFP PHOTO/SAJJAD HUSSAIN

तस्‍वीर को खोजने के बाद हमने इवेंट का वीडियो सर्च करना शुरू किया। इसके लिए हमने Youtube पर Modi arrives at the party headquarters to attend the BJP Parliamentary Board meeting टाइप करके सर्च किया। कई वीडियो को स्‍कैन करने के बाद हमें India TV के Youtube चैनल पर एक वीडियो मिल ही गया। 46 सेकंड पर हमें वही एंगल मिला, जो तस्‍वीर में था। चैनल ने यह वीडियो 19 अक्‍टूबर 2014 को अपलोड किया है।

तस्‍वीर की सत्‍यता पता लगाने के बाद अब हमें यह जानना था कि फर्जी फोटो वायरल करने वाली फेसबुक यूजर ज्‍योति ठाकुर कौन है। StalkScan टूल की मदद से हमें पता चला कि यह फेसबुक अकाउंट फर्जी है। इसे 1039 लोग फॉलो करते हैं।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की पड़ताल में पता चला कि जिस तस्‍वीर को असादुद्दीन ओवैसी और अमित शाह की बताकर वायरल किया जा रहा है। दरअसल, वह नरेंद्र मोदी-अमित शाह की है। तस्‍वीर 19 अक्‍टूबर 2019 की है। इसे सज्‍जाद हुसैन ने नई दिल्‍ली स्थित भाजपा कार्यालय में क्लिक की थी।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

  • Claim Review : औवेसी से हाथ मिलाते दिखे अमित शाह
  • Claimed By : ज्‍योति ठाकुर
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False
जानिए सच्‍ची और झूठी सबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके क्विज खेले

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later