X

Fact Check: सावरकर पर दिग्विजय सिंह का बयान भ्रामक दावे से वायरल, भाषण का एडिटेड वीडियो सोशल मीडिया पर हो रहा साझा

हमारी पड़ताल से यह स्पष्ट है कि गोमांस, हिंदू और हिंदुत्व पर जिन बयानों को दिग्विजय सिंह का बताकर वायरल किया जा रहा है, वह उनके भाषण का एक अंश है, जिसे संदर्भ से अलग कर भ्रामक दावे के साथ सोशल मीडिया पर साझा किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: January 3, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें उन्हें यह कहते हुए देखा और सुना जा सकता है कि ”हिंदू धर्म का हिंदुत्व से कोई नाता नहीं है गाय ऐसा पशु है जो खुद के मल में लोट लेती है, तो वह कहां से हमारी माता हो सकती है?” कुछ सेकेंड के वायरल वीडियो में उन्हें यह भी कहते हुए सुना जा सकता है कि ”गोमांस खाने में कोई बुराई नहीं है।”

वीडियो को शेयर करते हुए यह दावा किया जा रहा है कि दिग्विजय सिंह ने कहा है कि गाय हमारी माता नहीं है और उसका गोमांस खाने में कोई बुराई नहीं है। विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा भ्रामक और दिग्विजय सिंह के खिलाफ दुष्प्रचार निकला। वायरल हो रहा वीडियो वास्तव में उनके भाषण का एक अंश है, जिसे संदर्भ से अलग कर भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

हिंदू धर्म, हिंदुत्व और गाय को लेकर दिग्विजय सिंह के नाम से वायरल हो रहा बयान मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आयोजित एक कार्यक्रम में दिए गए भाषण का एक अंश है। इस भाषण में उन्होंने कहा था कि सावरकर ने (अपनी किताब) लिखा है कि गाय माता नहीं हो सकती और गोमांस खाने में कोई बुराई नहीं है और न ही हिंदू धर्म का हिंदुत्व से कोई संबंध है। सावरकर के हवाले से दिए गए उनके इसी बयान को सोशल मीडिया पर इस तरह से शेयर किया जा रहा है कि जैसे उन्होंने ही ये बयान दिए हैं।

क्या है वायरल?

फेसबुक यूजर ‘C S Bhardwaj’ ने वायरल वीडियो को शेयर करते हुए आपत्तिजनक टिप्पणी की है। इंस्टाग्राम यूजर ‘ponzzi_sir’ ने वायरल पोस्ट को शेयर किया है, जिसमें एक हिंदी न्यूज चैनल के ब्रेकिंग प्लेट पर दिग्विजय सिंह के बयानों का उल्लेख है।

सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर कई अन्य यूजर्स ने इस तस्वीर को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल वीडियो को देखने और सुनने से यह प्रतीत हो रहा है कि यह किसी भाषण का एक अंश है, जिसे संदर्भ से अलग कर दुष्प्रचार की मंशा से वायरल किया जा रहा है। वायरल वीडियो के संबंधित बयानों के आधार पर की-वर्ड सर्च में हमें नई दुनिया की वेबसाइट पर 26 दिसंबर 2021 को प्रकाशित रिपोर्ट का लिंक मिला। इसके मुताबिक, भोपाल स्थित नर्मदा भवन मंदिर में कांग्रेस के जनजागरण अभियान को संबोधित करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा था, ‘वीर सावरकर ने अपनी किताब में लिखा है ‘जो गाय अपने मल में ही लोट ले, वो हमारी माता कैसे हो सकती है, गोमांस खाने में भी कोई बुराई नहीं है।’

नई दुनिया की वेबसाइट पर 26 दिसंबर 2021 को प्रकाशित रिपोर्ट

रिपोर्ट के मुताबिक, ‘दिग्विजय सिंह ने उस किताब का नाम नहीं बताया, जिसका हवाला देते हुए उन्होंने संबंधित बयान दिए।’ न्यूज एजेंसी एएनआई के ट्विटर हैंडल से भी उनके इस संबोधन के वीडियो को ट्वीट किया गया है।

रिपब्लिक भारत के आधिकारिक यू-ट्यूब चैनल पर भी इस कार्यक्रम के वीडियो को साझा किया गया है, जिसमें दिग्विजय सिंह के पूरे बयान को सुना जा सकता है।

3 मिनट 32 सेकेंड के वीडियो में 1.23 मिनट के फ्रेम में उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है, ‘यहां ऐसे भी हिंदू हैं जो गोमांस खाते हैं और कहते हैं कि कहां लिखा है कि गोमांस न खाया जाए…और अधिकांश हिंदू गोहत्या के खिलाफ है। स्वयं सावरकर जी ने अपनी किताब में लिखा है कि हिंदू धर्म का हिंदुत्व के साथ कोई संबंध नहीं है….खुद उन्होंने लिखा है। उनकी किताब में साफ लिखा है कि हिंदू धर्म का हिंदुत्व से कोई नाता नहीं है। यह भी लिखा है कि गाय ऐसा पशु है जो खुद के मल में लोट लेती है…वह कहां से हमारी माता हो सकती है?….और उसका गोमांस खाने में कोई खराबी नही्ं है। ये सावरकर जी ने खुद ने कहा है।’

दिग्विजय सिंह के इस बयान को एबीपी न्यूज के वेरिफाइड फेसबुक पेज से भी शेयर किया गया है। वीडियो को शेयर करते हुए बताया गया है कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भोपाल में एक कार्यक्रम में कहा, ‘सावरकर ने अपनी किताब में लिखा है कि हिंदू धर्म का हिंदुत्व के साथ कोई संबंध नहीं है। दिग्विजय ने कहा, ‘उन्होंने यह भी लिखा है कि गाय ऐसा पशु है जो खुद के मल में लोट लेती है, वह कहां से हमारी माता हो सकती है, उसके गोमांस खाने में कोई खराबी नहीं है। यह सावरकर ने कहा है।’

दिग्विजय सिंह के इस बयान पर बीजेपी ने भी पलटवार करते हुए उन्हें जमकर खरी खोटी सुनाई। रिपोर्ट के मुताबिक, भोपाल से बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने गोमांस वाले बयान पर दिग्विजय सिंह को जमकर खरी-खोटी सुनाई। उन्होंने कहा, ‘दिग्विजय सिंह मुसलमानों को उकसाना चाहते हैं, जिससे मुसलमान गो माता की हत्या करें।’

वायरल पोस्ट को लेकर हमने मध्य प्रदेश कांग्रेस के वर्किंग प्रेसिडेंट रामनिवास रावत से संपर्क किया। उन्होंने कहा, ‘दिग्विजय सिंह ने कहीं ऐसा नहीं कहा, बल्कि उन्होंने साफ-साफ कहा था कि सावरकर ने अपनी किताब में ऐसा लिखा है। बीजेपी और आरएसएस का एक ही तरीका है कि झूठ को इतनी बार बोलो कि वह सत्य जैसा दिखने लगे। उनका काम बस नफरत फैलाना है। लोगों को दिग्विजय सिंह जी का पूरा बयान सुनना चाहिए, जिसमें उन्होंने साफ-साफ सावरकर की किताब का हवाला दिया है।’

निष्कर्ष: हमारी पड़ताल से यह स्पष्ट है कि गोमांस, हिंदू और हिंदुत्व पर जिन बयानों को दिग्विजय सिंह का बताकर वायरल किया जा रहा है, वह उनके भाषण का एक अंश है, जिसे संदर्भ से अलग कर भ्रामक दावे के साथ सोशल मीडिया पर साझा किया जा रहा है।मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान सावरकर के हवाले से दिग्विजय सिंह ने इन बयानों का उल्लेख किया था। इसी भाषण के एक अंश को इस तरह से संदर्भ से अलग कर पेश किया जा रहा है, जिससे यह प्रतीत हो रहा है कि ये बयान दिग्विजय सिंह ने दिए हैं।

डिस्क्लेमर: उपरोक्त फैक्ट चेक सिर्फ और सिर्फ वायरल वीडियो की जांच से संबंधित है। यह वीडियो दिग्विजय सिंह के भाषण का एडिटेड हिस्सा है, जिसे संदर्भ से अलग कर साझा किया जा रहा है।

  • Claim Review : दिग्विजय सिंह ने कहा कि गोमांस खाने में कोई बुराई नहीं
  • Claimed By : FB User-‎C S Bhardwaj‎
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later