X

Fact Check: ऑक्सीजन संकट के दावे के साथ वायरल वीडियो पिछले साल विशाखापत्तनम में हुई गैस लीक की घटना का है, पाकिस्तानी यूजर्स गलत दावे के साथ कर रहे हैं वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: April 26, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। देश में कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामले और ऑक्सीजन आपूर्ति संकट के बीच सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में कई लोगों को सड़कों पर लेटे हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का है, जिन्हें ऑक्सीजन की जरूरत है। ऑक्सीजन नहीं मिलने की वजह से ये मरीज सड़कों पर ही बेहोश होकर गिरने लगे।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत और कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के मामले के बीच भारत के खिलाफ पाकिस्तानी दुष्प्रचार साबित हुआ। वायरल हो रहा वीडियो पिछले साल विशाखापत्तनम में हुए गैस लीक मामले का है, जिसे कोरोना वायरस संक्रमण की हालिया स्थिति में ऑक्सीजन संकट से जोड़कर गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

सोशल मीडिया पर कई पाकिस्तानी यूजर्स ने इस वीडियो को भारत में ऑक्सीजन संकट की घटना से जोड़कर साझा किया है। पाकिस्तानी ट्विटर यूजर ‘Umar Anwar’ ने इस वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”Political differences aside, we stand with India and pray for them. PM should officially offer help ASAP. Stay strong neighbours.”

पाकिस्तानी फेसबुक यूजर ‘Ishfaque Hussain Mahtam’ ने वायरल वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, ”IndiaNeedsOxygen..Situation in india right now..We Pakistani stand with India..We stand with huminty. #PakistanstandswithIndia”

पड़ताल

वायरल हो रहे वीडियो में लोगों को सड़कों पर बेहोश होकर गिरते हुए देखा जा सकता है। वायरल हो रहे वीडियो में नजर आ रहे एंबुलेंस का नंबर प्लेट आंध्र प्रदेश का है। इस कीवर्ड के साथ वायरल वीडियो के की-फ्रेम्स को गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें यह वीडियो कई न्यूज वेबसाइट की बुलेटिन में लगा मिला।

हिंदी न्यूज चैनल आज तक की वेबसाइट पर सात मई 2020 को प्रकाशित न्यूज बुलेटिन में भी इस वीडियो का इस्तेमाल किया गया है। दी गई जानकारी के मुताबिक, ‘यह वीडियो विशाखापत्तनम में हुई घटना का है, जहां एक पॉलीमर बनाने वाली कंपनी में गैस रिसाव की घटना हुई थी, जिसमें 3 लोगों की मौत हो गई थी।’

आज तक की न्यूज बुलेटिन में गैस लीक का इस्तेमाल किया गया वीडियो 

TV9 Bharatvarsh के वेरिफाइड यूट्यूब चैनल पर सात मई 2020 को अपलोड किए गए वीडियो बुलेटिन में भी वायरल वीडियो के दृश्यों को देखा जा सकता है। दी गई जानकारी के मुताबिक, ‘विशाखापत्तनम के फार्मा कंपनी में केमिकल गैस लीक होने से हड़कंप मच गया। हादसे में गैस लीक की वजह से बच्चे समेत 3 लोगों की जान चली गई।’

टीवी 9 भारतवर्ष के हैदराबाद के रिपोर्टर नूर मोहम्मद ने बताया, ‘वायरल हो रहा वीडियो पिछले साल विशाखापत्तनम में हुए गैस लीक मामले का है। इसका हालिया ऑक्सीजन संकट या कोरोना वायरस संक्रमण से कोई लेना-देना नहीं है।’ कई अन्य पुरानी न्यूज रिपोर्ट में वायरल हुए वीडियो को देखा जा सकता है।

न्यूज रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत में ऑक्सीजन आपूर्ति संकट के कारण कुछ अस्पतालों में मरीजों की मौत हुई है, लेकिन वायरल हो रहा वीडियो ऐसी किसी भी घटना से संबंधित नहीं है।

वायरल वीडियो को भारत के खिलाफ दुष्प्रचार की मंशा के साथ शेयर करने वाले यूजर ने अपनी प्रोफाइल में खुद को पाकिस्तान का रहने वाला बताया है।

निष्कर्ष: पिछले साल विशाखापत्तनम में हुए गैस लीक हादसे के वीडियो को हालिया ऑक्सीजन संकट की स्थिति से जोड़कर गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर कई पाकिस्तानी यूजर्स इस वीडियो को भारत के खिलाफ दुष्प्रचार की नीयत से गलत दावे के साथ वायरल कर रहे हैं।

  • Claim Review : भारत में ऑक्सीजन का संकट, सड़कों पर बेहोश होकर गिर रहे कोरोना संक्रमित मरीज
  • Claimed By : Twitter User-Umar Anwar
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later