X

Fact Check: पत्रकार के सवाल पर राहुल गांधी ने नहीं फेरी पीठ, एडिटेड वीडियो हो रहा वायरल

पिछले साल जनवरी में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रेस कांफ्रेंस की थी। उस समय बुकलेट भी जारी की गई थी। प्रेसवार्ता के वीडियो को एडिट करके गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: September 9, 2022
Rahul Gandhi

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। कांग्रेस नेता राहुल गांधी को लेकर सोशल मीडिया पर एक और वीडियो वायरल हुआ है। 14 सेकंड के इस वीडियो में राहुल गांधी और रणदीप सुरजेवाला एक बुकलेट दिखाते हुए दिख रहे हैं। वीडियो प्रेस कांफ्रेंस का लग रहा है। इसको शेयर कर यूजर्स दावा कर रहे हैं कि जब राहुल गांधी से पत्रकार ने पोस्टर पीछे से दिखाने को कहा तो उन्होंने पीठ दिखा दी।

विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो एडिटेड है। वीडियो से छेड़छाड़ कर उसे दुष्प्रचार की मंशा से वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर We Support Jai Ram Thakur (आर्काइव लिंक) ने 8 सितंबर को वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा,

गुलाम चमचें इसे पीएम बनने का सपना देखते हैं
ज़ब पत्रकार नें कहा पोस्टर पीछे से भी दिखाओ तो अपने राहुल जी ने पिछवाड़ा दिखा दिया
क्या आईटम है यार

ट्विटर यूजर Arpita Shaivya (आर्काइव लिंक) ने भी वायरल वीडियो को ट्वीट करते हुए समान दावा किया।

पड़ताल

वायरल वीडियो को ध्यान से देखने पर पता चलता है कि यह एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का वीडियो है, जिसमें राहुल गांधी और रणदीप सुरजेवाला कोई बुकलेट दिखा रहे हैं। हमने गूगल के इनविड टूल से इसका कीफ्रेम निकाला। इसको यांडेक्स रिवर्स इमेज से सर्च करने पर हमें यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी (आर्काइव लिंक) के ट्विटर अकाउंट पर यह फोटो मिली। इसे 19 जनवरी 2021 को ट्वीट किया गया है। इस पर लिखा है- खेती का खून, तीन काले कानून।

एएनआई ने भी 19 जनवरी 2021 को इस प्रेस कॉन्फ्रेंस की जानकारी दी है। इसके मुताबिक, राहुल गांधी ने दिल्ली स्थित पार्टी कार्यालय में कृषि कानून को लेकर बुकलेट जारी की है।

इस बारे में और सर्च करने पर हमें Indian National Congress के यूट्यूब चैनल पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की पूरी वीडियो मिली। इसमें कृषि कानून को लेकर बुकलेट जारी की गई थी। इसमें 2.20 मिनट से 2.33 मिनट तक वायरल वीडियो के हिस्से को देखा जा सकता है। इसमें राहुल गांधी कह रहे हैं, ‘सी, कितने फेयर हैं हम लोग। इधर भी दिखाते हैं, उधर भी दिखाते हैं।‘ इसके बाद उन्होंने कहा, ‘बीजेपी होती तो ऐसे करती‘ और वह घूम जाते हैं। वायरल वीडियो में बीजेपी वाला वाक्य काट दिया गया है।

इसकी अधिक जानकारी के लिए हमने यूपी कांग्रेस के प्रवक्ता अभिमन्यु त्यागी से संपर्क कर उनको वायरल वीडियो भेजा। उनका कहना है, ‘वीडियो को एडिट करके वायरल किया जा रहा है। पिछले साल जब कृषि कानून को लेकर लोगों में आक्रोश था, तब कांग्रेस ने इस पर बुकलेट जारी की थी। विपक्षी दल इस तरह की एडिटेड वीडियो और फोटो पोस्ट करके दुष्प्रचार कर रहे हैं।

एडिटेड वीडियो को शेयर करने वाले फेसबुक पेज ‘वी सपोर्ट जय राम ठाकुर‘ को हमने स्कैन किया। 5 नवंबर 2016 को बने इस पेज को करीब 1 लाख 11 हजार लोग फॉलो करते हैं। यह एक राजनीतिक विचारधारा से प्रेरित है।

विश्वास न्यूज पर राहुल गांधी से जुड़ी फैक्ट चेक रिपोर्ट्स को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

निष्कर्ष: पिछले साल जनवरी में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रेस कांफ्रेंस की थी। उस समय बुकलेट भी जारी की गई थी। प्रेसवार्ता के वीडियो को एडिट करके गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : जब राहुल गांधी से पत्रकार ने पोस्टर पीछे से दिखाने को कहा तो उन्होंने पीठ दिखा दी।
  • Claimed By : FB User- We Support Jai Ram Thakur
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later