X

Fact Check: नाथूराम गोडसे को लेकर अक्षय कुमार का फर्जी बयान हो रहा वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: December 5, 2019

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर नाथूराम राम गोडसे के बारे में फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार के नाम से एक बयान वायरल हो रहा है। वायरल बयान में अक्षय कुमार गोडसे के अंतिम बयान को इतिहास की किताब में जोड़े जाने की वकालत कर रहे हैं।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह बयान फर्जी निकला। अक्षय कुमार ने नाथूराम गोडसे के बारे में ऐसा कुछ नहीं कहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘Antu Tiwari’ ने ‘सुविचार जो आपका जीवन बदल देंगे’ ग्रुप में लिखा है, ‘मैं यह नहीं कहा कि गोडसे द्वारा गांधी की हत्या करना सही है या गलत था पर इतना जरूर कहूंगा कि इतिहास की किताबों में गोडसे को गांधी का हत्यारा पढ़ाने के साथ-साथ गोडसे का अंतिम बयान भी पढ़ाओ कि उसने आखिर गांधी की हत्या क्यों की थी? बाकी सही गलत का फैसला भावी पीढ़ी अपने आप कर लेगी?’

नाथूराम गोडसे के बारे में अक्षय कुमार के नाम से वायरल हो रही तस्वीर

पड़ताल किए जाने तक इस पोस्ट को करीब 80 से अधिक लोग शेयर कर चुके हैं।

पड़ताल

अक्षय कुमार के नाम से वायरल हो यह बयान फर्जी है। पोस्ट में अक्षय कुमार की तस्वीर के साथ एक ट्विटर हैंडल का जिक्र है। @kumarakshay_1 के नाम से किए गए ट्वीट में गोडसे के बारे में लिखा हुआ है। ट्विटर की तरफ से इस हैंडल को सस्पेंड किया जा चुका है।

अक्षय कुमार का वास्तविक ट्विटर हैंडल ‘@akshaykumar’ के नाम से है और उन्होंने गोडसे के नाम से कोई भी ट्वीट नहीं किया है।

अक्षय कुमार का वास्तविक ट्विटर हैंडल

दैनिक जागरण के एडिटर (एंटरटेनमेंट) पराग छापेकर ने बताया कि सामान्य यूजर्स वेरिफाइड और अनवेरिफाइड हैंडल के बीच का फर्क नहीं समझ पाते हैं और आम तौर पर फर्जी खबर फैलाने वाले अभिनेताओं के नाम में थोड़ा फेरबदल कर फर्जी प्रोफाइल बनाते हैं और फर्जी खबर फैलाना शुरू कर देते हैं।

यह पहली बार नहीं है जब अक्षय कुमार के नाम से फर्जी खबर वायरल हुई हो। इससे पहले भी राम मंदिर निर्माण के लिए करोड़ों रुपये का चंदा दिए जाने के दावे के साथ फर्जी खबर वायरल हुई थी, जिसकी पड़ताल विश्वास न्यूज ने की थी।

निष्कर्ष: अक्षय कुमार के नाम से नाथूराम गोडसे को लेकर वायरल हो रहा बयान फर्जी है। वायरल बयान अक्षय कुमार के नाम से बने फर्जी ट्विटर हैंडल से किया गया था, जिसे अब सस्पेंड किया जा चुका है।

  • Claim Review : इतिहास की किताब में पढाया जाए गोडसे का बयान
  • Claimed By : FB User-Antu Tiwari‎
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later