X

Fact Check: देश के जवानों को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के नाम से वायरल यह बयान फर्जी है

  • By Vishvas News
  • Updated: June 30, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चीनी सेना और भारतीय सेना के जवानों के बीच कुछ दिनों पहले एक झड़प हुई थी, जिसमें हमारे देश के 20 जवान शहीद हो गए थे। इस घटना के बाद से सोशल मीडिया पर कई फर्जी वीडियो और पोस्ट वायरल हुए हैं। इसी तरह अब सोशल मीडिया पर एक पोस्ट को वायरल करते हुए दावा किया जा रहा है कि गृह मंत्री अमित शाह ने देश के जवानों को लेकर एक बयान दिया। पोस्ट की मानें तो उन्होंने कहा, “देश के जवानों से बड़ा काम हम करते हैं, शहीद होना बड़ी बात नहीं”।

विश्वास टीम ने अपनी पड़ताल में वायरल पोस्ट को फर्जी पाया। देश के गृह मंत्री अमित शाह ने सेना के जवानों को लेकर ऐसा कोई बयान नहीं दिया है।

क्या हो रहा है वायरल?

फेसबुक पेज Aam aadmi party Punjab ने 24 जून 2020 को एक ग्राफिक तस्वीर को अपलोड किया, जिसमें देश के गृह मंत्री अमित शाह की तस्वीर है और उसके नीचे एक बयान लिखा हुआ है। बयान, “देश के जवानों से बड़ा काम हम करते हैं, शहीद होना बड़ी बात नहीं”

पोस्ट का आर्काइव्ड लिंक।

पड़ताल

पड़ताल की शुरुआत हमने गूगल सर्च से करने का फैसला किया, क्योंकि केंद्रीय गृह मंत्री द्वारा ऐसा बयान कोई मामूली बात नहीं। अगर यह बयान अमित शाह ने दिया गया होगा तो इसको लेकर खबरें भी जरूर बनी होंगी।

हमें गूगल सर्च में कहीं भी ऐसी कोई खबर नहीं मिली, जिसने दावा किया हो कि अमित शाह ने ऐसा कोई बयान सेना के जवानों को लेकर दिया है। हमें अपनी पड़ताल में अमित शाह का एक ट्वीट मिला, जिसमें वह LAC पर चीन के साथ झड़प में शहीद हुए हमारे सेना के जवानों को श्रद्धांजलि दे रहे हैं। यह ट्वीट 17 जून 2020 को किया गया था, जिसे आप नीचे देख सकते हैं।

हालांकि, हमें अपनी पड़ताल में अमित शाह के संबोधन का एक वीडियो मिला, जिसमें अमित शाह को बोलते हुए (18:25 से 19:10) सुना जा सकता है। “मित्रों देश के लिए जो जान देते हैं न उसकी कोई कम कीमत नहीं होती… मगर मैं मानता हूँ देश के लिए जो शहीद हुए हैं उनसे भी ज्यादा कठिन… शहीद होना अपने आप में एक बड़ी बात है मगर उससे भी ज्यादा कठिन चीज़ है… देश के लिए जीना… और वो जीने की जिम्मेदारी हमारे सिर पर आई है… आजादी दिलाने के लिए भगत सिंह से लेकर अनेकानेक अपनी युवा अवस्था में शहीद हुए… उससे भी ज्यादा कठिन काम है पूरा जीवन देश के लिए जीना… और वो जिम्मेदारी हमारे सिर पर आई है…

यह वीडियो भाजपा के 35 फाउंडेशन दिवस का है जिसे 6 अप्रैल 2015 को भाजपा के आधिकारिक Youtube अकाउंट द्वारा अपलोड किया गया था। पूरा वीडियो आप नीचे देख सकते हैं।

इस वीडियो में कहे गए शब्द और वायरल पोस्ट में किया जा रहा दावा बिल्कुल अलग है। वायरल पोस्ट में देश के जवानों के शहीद होने का जिक्र है। वहीं, इस वीडियो में अमित शाह यह कहते हुए नज़र आ रहे हैं कि शहीद होना अपने आप में एक बड़ी बात है पर देश के लिए जीना अपनी एक अलग जिम्मेदारी है। अमित शाह को कहीं भी शहीदों का अपमान करते हुए नहीं सुना जा सकता है। अमित शाह इस वीडियो में देश को अंग्रेजों से आजाद करवाने के लिए शहीद हुए सेनानियों का जिक्र कर रहे हैं।

यह वीडियो 5 साल पुराना है इसलिए इसका गलवान घाटी में शहीद हुए सैनिकों से कोई सबंध नहीं है।

अब हमने इस मामले को लेकर भाजपा के प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा से संपर्क किया। तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने इस पोस्ट को देखते ही कहा कि यह पोस्ट फर्जी है।

इस पोस्ट को फेसबुक पेज Aam aadmi party Punjab ने शेयर किया है। यह पेज एक राजनीतिक पार्टी का समर्थक है जिसे 38, 435 लोगों ने लाइक किया हुआ है।

डिस्क्लेमर: इस स्टोरी में एक पैराग्राफ जोड़ते हुए इसे अपडेट किया गया है। स्टोरी को अपडेट किए जाने की प्रक्रिया SoP के मुताबिक है और इससे निष्कर्ष या नतीजों में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

निष्कर्ष: देश के गृह मंत्री अमित शाह ने सेना के जवानों को लेकर ऐसा कोई बयान नहीं दिया है। वायरल पोस्ट फर्जी है।

  • Claim Review : एक पोस्ट को वायरल करते हुए दावा किया जा रहा है कि देश के गृह मंत्री अमित शाह ने देश के जवानों को लेकर एक बयान दिया जिसमें उन्होंने कहा कि
  • Claimed By : FB User- Aam aadmi party Punjab
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later