X

Fact Check: बिहार के नेता का फनी वीडियो यूपी के नेता के नाम झूठे दावे के साथ वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: April 1, 2020

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। देशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें एक शख्‍स को सोफा पर बंधे हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि ये शख्‍स यूपी से कांग्रेस के पूर्व विधायक अमरनाथ तिवारी हैं। लॉकडाउन में तंग आकर पत्‍नी ने पूर्व विधायक को सोफा पर बांध दिया।

विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में पता चला कि सोफा पर बंधे शख्‍स का नाम अमरनाथ तिवारी है, लेकिन ये यूपी नहीं, बिहार के नेता है। वायरल वीडियो को उन्‍होंने मजाक के लिए बनाया था। इस वीडियो को कुछ लोग असली समझ कर वायरल कर रहे हैं।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक पेज ‘काशी के निवासी’ ने 30 मार्च को एक वीडियो अपलोड करते हुए लिखा : ”यह जनाब उत्तर प्रदेश से कांग्रेस के पूर्व विधायक अमरनाथ तिवारी है लॉक डाउन में पत्नी ने तंग आकर इन्हें सोफे में बांध दिया अब इन्होंने ने वादा किया की अब ये हुक्म नही चलाएंगे बल्कि घर के कामकाज में हाथ बटाएंगे पोछा भी लगाएंगे झाड़ू भी लगाएंगे बर्तन भी साफ करेंगे….!”

इस पेज के अलावा भी दूसरे कई यूजर्स इस वीडियो को वायरल कर रहे हैं।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज को सबसे पहले यह जानना था कि क्‍या वाकई में कांग्रेस में कोई अमरनाथ तिवारी नाम का नेता है या नहीं? इसके लिए हमने ‘कांग्रेस नेता अमरनाथ तिवारी’ कीवर्ड टाइप करके गूगल में सर्च किया। हमें यूट्यूब पर एक वीडियो मिला।

First Bihar Jharkhand नाम के यूट्यूब चैनल पर 28 मार्च को अपलोड वीडियो में बताया गया कि अमरनाथ तिवारी बिहार के पूर्णिया से कांग्रेस के नेता हैं। इसमें वायरल वीडियो की सच्‍चाई बताई गई थी।

पड़ताल के अगले चरण विश्‍वास न्‍यूज ने वीडियो में दिख रहे पूर्व विधायक अमरनाथ तिवारी से संपर्क किया। उन्‍होंने विश्‍वास न्‍यूज को बताया, ”मैं लॉकडाउन की वजह से परिवार से साथ मुंबई में फंसा हुआ हूं। यह वीडियो कुछ दिन पहले ऐसे ही हंसी-मजाक में बनाकर इसे दोस्‍तों के वॉट्सऐप ग्रुप में डाल दिया था। बस वहीं से वीडियो वायरल हो गया।”

पड़ताल के दौरान हमें अमरनाथ तिवारी का एक और वीडियो फेसबुक पर मिला। इसमें कांग्रेस के नेता को यह साफ बोलते हुए देखा जा सकता है कि वायरल वीडियो को मजाक के तौर पर बनाया गया था। दूसरे वीडियो को आप नीचे देख सकते हैं। इसे अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का सदस्य इन्तेखाब आलम ने 27 मार्च को अपने फेसबुक अकाउंट पर अपलोड किया था।

पड़ताल के अंत में हमने फेसबुक पेज ‘काशी के निवासी’ की सोशल स्‍कैनिंग की। हमें पता चला कि इस पेज को 12 हजार से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं। एक खास विचारधारा से जुड़ा कंटेंट इस पेज पर ज्‍यादा अपलोड किया जाता है। इस पेज को 24 अगस्‍त 2016 को बनाया गया था।

Disclaimer: कोरोनावायरसफैक्ट डाटाबेस रिकॉर्ड फैक्ट-चेक कोरोना वायरस संक्रमण (COVID-19) की शुरुआत से ही प्रकाशित हो रही है। कोरोना महामारी और इसके परिणाम लगातार सामने आ रहे हैं और जो डाटा शुरू में एक्यूरेट लग रहे थे, उसमें भी काफी बदलाव देखने को मिले हैं। आने वाले समय में इसमें और भी बदलाव होने का चांस है। आप उस तारीख को याद करें जब आपने फैक्ट को शेयर करने से पहले पढ़ा था।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में पता चला कि यूपी के कांग्रेस नेता अमरनाथ तिवारी के नाम पर वायरल पोस्‍ट फर्जी है। वायरल वीडियो को मजाक के तौर पर बनाया गया था, लेकिन कुछ लोगों ने इस सच समझ कर वायरल कर दिया।

  • Claim Review : यह जनाब उत्तर प्रदेश से कांग्रेस के पूर्व विधायक अमरनाथ तिवारी है लॉक डाउन में पत्नी ने तंग आकर इन्हें सोफे में बांध दिया।
  • Claimed By : फेसबुक पेज 'काशी के निवासी'
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

Nandan

Thanks dear for informing us.
Please let me know also how to check false news.

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later