X

Fact Check : चुनाव हारने के बाद आरजेडी के कार्यकर्ताओं ने नहीं फेंकी मिठाई, तस्‍वीर हरियाणा की है

  • By Vishvas News
  • Updated: November 13, 2020

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया में कई ऐसी तस्‍वीरें वायरल हो रही हैं, जिन्‍हें बिहार चुनाव से जोड़कर वायरल किया जा रहा है। अब एक ऐसी ही तस्‍वीर को कुछ लोग यह कहकर वायरल कर रहे हैं बिहार में हार के बाद आरजेडी के कार्यकर्ता मिठाइयां नष्‍ट कर रहे हैं।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की। हमें पता चला कि हरियाणा के सिरसा में 10 नवंबर को खराब मिठाइयों को नष्‍ट किया गया। उसी की तस्‍वीर को अब लोग बिहार के नाम पर वायरल कर रहे हैं। हमारी जांच में वायरल पोस्‍ट पूरी तरह झूठी साबित हुई।

क्‍या हो रहा है वायरल

ट्विटर हैंडल Harinder S Sikka (@sikka_harinder) ने 12 नवंबर को एक तस्‍वीर को अपलोड करते हुए दावा किया बिहार में हार के बाद आरजेडी के कार्यकर्ताओं ने रसगुल्‍लों को फेंकते हुए दिखे। अंग्रेजी में यूजर ने लिखा : ‘After loosing battle of ballots in Bihar, RJD workers decided to dump 1000s of ‘Rasgulle’ Wish they had served them to the poor instead. It’s so important to be educated. #TejashwiYadav’

ट्विटर के अलावा फेसबुक और वॉट्सऐप पर भी ऐसी कई तस्‍वीरों को फर्जी दावों के साथ वायरल किया जा रहा है। पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां क्लिक करके देखें।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले वायरल तस्‍वीर को गूगल रिवर्स इमेज में अपलोड करके सर्च किया। तस्‍वीर हमें कई सोशल मीडिया अकाउंट और वेबसाइट पर मिली। अमर उजाला की वेबसाइट पर मौजूद एक खबर में हमें ओरिजनल तस्‍वीर मिली। खबर को 10 नवंबर 2020 को पब्लिश किया गया था। इसमें बताया गया कि हरियाणा के सिरसा में मुख्यमंत्री उड़नदस्ता व फूड एंड सेफ्टी विभाग ने रसगुल्‍ला फैक्‍टरी में खराब मिले एक प्रोडक्‍ट को नष्‍ट कराया। पूरी खबर आप यहां पढ़ सकते हैं।

जांच के दौरान हमें यूट्यूब पर एक वीडियो भी मिला। 10 नवंबर को प्रेस वार्ता नाम के चैनल पर अपलोड वीडियो में बिहार के नाम पर वायरल तस्‍वीर में दिख रहे शख्‍स और उसके पीछे खड़ी एक स्‍कूटर को सिरसा के ओरिजनल वीडियो में भी देखा जा सकता है। मतलब साफ था कि सिरसा की एक तस्‍वीर को झूठे दावों के साथ वायरल किया जा रहा है।

पड़ताल के दौरान हमने सिरसा से प्रकाशित दैनिक जागरण के ईपेपर को स्‍कैन किया। हमें 11 नवंबर को संस्‍करण में एक खबर मिली। इसमें वायरल तस्‍वीर को लेकर जानकारी दी गई कि यह फोटो रसगुल्‍ला प्‍लांट में खराब मिठाइयों को गड्ढे में डालने के दौरान की है।

पड़ताल के अगले चरण में हमने बिहार में सपंर्क किया। आरजेडी के प्रवक्‍ता मृत्युंजय तिवारी ने वायरल पोस्‍ट का खंडन करते हुए कहा कि ऐसी कोई घटना हमारे यहां नहीं हुई है।

अब हमने इस मामले को लेकर हमारे दैनिक जागरण के सिरसा इंचार्ज सुधीर आर्य से संपर्क किया। सुधीर ने वायरल पोस्ट को लेकर कहा, “यह फोटो सिरसा के एक रसगुल्ला फैक्ट्री का है जहां सीएम फ्लाइंग ने साफ-सफाई न होने पर इसे जमीन में डलवा दिया था। यह फोटो 10 नवंबर की है।”

इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर कई यूज़र वायरल कर रहे हैं और इन्हीं में से एक है ट्विटर हैंडल Harinder S Sikka @sikka_harinder नाम का ट्विटर अकाउंट।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में वायरल पोस्ट फर्जी साबित हुई। हमें पता चला कि हरियाणा के सिरसा में 10 नवंबर को खराब मिठाइयों को नष्‍ट किया गया। उसी की तस्वीर को अब लोग बिहार के नाम पर वायरल कर रहे हैं।

  • Claim Review : तस्‍वीर को कुछ लोग यह कहके वायरल कर रहे हैं बिहार में हार के बाद आरजेडी के कार्यकर्ता मिठाइयां नष्‍ट कर रहे हैं।
  • Claimed By : Twitter Account- Harinder S Sikka
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later