X

Fact Check : भगवंत मान की मॉर्फ्ड तस्‍वीर फिर से फर्जी दावे के साथ वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: March 28, 2021

विश्‍वास न्‍यूज (नई दिल्‍ली)। सोशल मीडिया में आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान की एक मॉर्फ्ड तस्‍वीर वायरल हो रही है। यूजर्स दावा कर रहे हैं कि पिछले साल जब लॉकडाउन के बाद शराब की दुकानें खुलीं तो भगवंत मान वहां शराब पीते हुए दिखे थे।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की। यह फर्जी साबित हुई। पहले भी इस तस्‍वीर को दूसरे कई दावों के साथ वायरल किया जा चुका है। उसकी भी पड़ताल विश्‍वास न्‍यूज पहले कर चुका है।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर गगन कौर ने 17 मार्च को भगवंत मान की एडिटेड तस्‍वीर को अपलोड करते हुए पंजाबी में लिखा कि पुरानी याद जब लॉकडाउन के बाद पहले दिन ठेके खुले।

फेसबुक पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां देखें।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल तस्‍वीर की जांच रिवर्स इमेज टूल की मदद से करनी शुरू की। हमें ओरिजनल तस्‍वीर एक फेसबुक अकाउंट पर मिली। फेसबुक यूजर सुखवीर बरार ने इस तस्‍वीर को 27 मई 2020 को पोस्‍ट की थी। तस्‍वीर में हमें कहीं भी शराब की दुकान नजर नहीं आई। ओरिजनल तस्‍वीर को आप यहां देख सकते हैं। इस तस्‍वीर में भगवंत मान को मटके से पानी पीते हुए देखा जा सकता है।

यह तस्‍वीर हमें आम आदमी पार्टी यूथ नाम के फेसबुक पेज पर भी मिली। इसे 9 मई 2019 को पोस्‍ट किया गया था।

विश्‍वास न्‍यूज ने दोनों तस्‍वीरों का तुलनात्‍मक अध्‍ययन किया। साफ देखा जा सकता है कि भगवंत मान की ओरिजनल तस्‍वीर के पीछे शराब की बोतलों की तस्‍वीर को अलग से चिपकाया गया है।

पड़ताल के अगले चरण में विश्‍वास न्‍यूज ने आम आदमी पार्टी से संपर्क किया। आम आदमी पार्टी, पंजाब के मीडिया मैनेजर हर्षित पाई ने हमें बताया कि भगवंत मान की वायरल इमेज फेक है। यह पहले भी वायरल हो चुकी है।

पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए फेसबुक यूजर की जांच की गई। हमें पता चला कि फेसबुक यूजर गगन कौर के फैन पेज को एक लाख से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं। इस पेज को 21 जुलाई 2017 को बनाया गया था।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में भगवंत मान से जुड़ी वायरल तस्‍वीर मॉर्फ्ड साबित हुई।

  • Claim Review : तस्‍वीर में भगवंत मान शराब पी रहे हैं
  • Claimed By : फेसबुक यूजर गगन कौर
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later