X

Fact Check: सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में CBI जांच की मंजूरी का दावा गलत, वायरल पोस्ट फर्जी

  • By Vishvas News
  • Updated: July 15, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद सोशल मीडिया पर गृह मंत्रालय की तरफ से सांसद पप्पू यादव को लिखी गई एक चिट्ठी वायरल हो रही है। इस चिट्ठी के जरिए यह दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई जांच की मांग को स्वीकार कर लिया है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच मुंबई पुलिस कर रही है और जल्द ही वह अपनी रिपोर्ट सौंपने वाली है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘Paswan Kr Santu’ ने वायरल पोस्ट (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”जन अधिकार पार्टी सुप्रीमो श्री पप्पू यादव जी द्वारा सुशांत सिंह राजपूत हत्या के मामले में भारत सरकार से सीबीआई की मांग को स्वीकार कर लिया गया है।”

सोशल मीडिया पर गलत दावे के साथ वायरल हो रही पोस्ट

पड़ताल किए जाने तक इस पोस्ट को करीब दो सौ से अधिक लोगों ने शेयर किया है। सोशल मीडिया पर कई अन्य यूजर्स इस चिट्ठी को यह मानकर शेयर कर रहे हैं कि केंद्र सरकार ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई जांच की मांग को स्वीकार कर लिया है।

पड़ताल

वायरल हो रहे पोस्ट में एक चिट्ठी की प्रति लगी हुई है, जिसे गृह मंत्रालय की तरफ से पूर्व संसद सदस्य पप्पू यादव को लिखा गया है। पप्पू यादव सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं, इसलिए हमने उनकी ट्विटर टाइमलाइन को सर्च किया।

14 जुलाई 2020 को उन्होंने अपने ट्विटर प्रोफाइल पर उसी चिट्ठी को शेयर किया है, जिसे वायरल किया जा रहा है।

चिट्ठी को शेयर करते हुए उन्होंने लिखा है, ‘अमित शाह जी आप चाहें तो एक मिनट में सुशांत मामले की CBI जांच हो सकती है। इसे टालें नहीं! बिहार के गौरव फ़िल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत जी की संदिग्ध मृत्यु की CBI जांच के लिए केंद्रीय गृह मंत्री जी को पत्र लिख आग्रह किया था। उन्होंने कार्रवाई के लिए पत्र अग्रसारित कर दिया है।’

गृह मंत्री की तरफ से पप्पू यादव लिखी गई चिट्ठी में साफ-साफ लिखा हुआ है, ‘आपका पत्र दिनांक 16 जून 2020 को प्राप्त हुआ, जिसके माध्यम से आपने युवा फिल्म अभिनेता स्वर्गीय सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले की जांच केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) से कराए जाने का आग्रह किया है। आपके पत्र की विषय वस्तु कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग से संबंधित है, अत: पत्र को आवश्यक कार्रवाई हेतु संबंधित मंत्रालय को अग्रेषित किया जा रहा है।’

यानी पप्पू यादव ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच सीबीआई से कराए जाने की मांग करते केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा था और गृह मंत्री की तरफ से 9 जुलाई को लिखी गई चिट्ठी में पप्पू यादव को इस बात की जानकारी दी गई थी कि उनकी लिखी चिट्ठी गृह मंत्री को मिल गई है और इस पर आगे की कार्रवाई के लिए इसे संबंधित मंत्रालय को भेज दिया गया है।

न्यूज सर्च में हमें कई ऐसे आर्टिकल मिले, जिसमें CBI जांच की मांग पर पप्पू यादव को अमित शाह की तरफ से दिए गए जवाबी पत्र का जिक्र है।

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत मुंबई के अपार्टमेंट में मृत पाए जाने के बाद पप्पू यादव ने इस मामले की सीबीआई से जांच कराए जाने की मांग की थी। ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ की वेबसाइट पर 15 जून को प्रकाशित रिपोर्ट से इसकी पुष्टि होती है।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच मुंबई पुलिस कर रही है। जांच की ताजा स्थिति जानने के लिए हमने एक बार फिर से न्यूज सर्च का सहारा लिया। 13 जुलाई की DNA की रिपोर्ट के मुताबिक, मुंबई पुलिस जल्द ही जांच रिपोर्ट को अंतिम रूप देने वाली है। रिपोर्ट के मुताबिक, जांच और फोरेंसिक सबूतों से अभी तक कुछ भी ऐसा नहीं मिला है, जिससे हत्या का संदेह पैदा होता हो।

DNA में 13 जुलाई को प्रकाशित खबर

विश्वास न्यूज ने इस मामले को लेकर मुंबई पुलिस के प्रवक्ता और डिप्टी कमिश्नर प्रणय अशोक से पूछा कि क्या इस मामले की जांच अभी भी मुंबई पुलिस के हाथों में है। उन्होंने कहा, ‘सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच मुंबई पुलिस ही कर रही है।’

वायरल पोस्ट को शेयर करने वाले यूजर को फेसबुक पर करीब 600 से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की हत्या के मामले की जांच मुंबई पुलिस कर रही है और इस मामले में केंद्र सरकार की तरफ से सीबीआई जांच की मांग को अभी तक स्वीकार नहीं किया गया है। इस दावे के साथ वायरल हो रहा पोस्ट गलत है।

  • Claim Review : सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में केंद्र सरकार ने दी CBI जांच की मंजूरी
  • Claimed By : FB User-Paswan Kr Santu
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later