X

Fact Check: MP में लॉकडाउन के दौरान मुस्लिम युवक की पिटाई का दावा गलत, सफाई कर्मचारी पर हमले का वीडियो गलत दावे से वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: April 28, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में कुछ लोग एक व्यक्ति को पीटते हुए नजर आ रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि लॉकडाउन के दौरान मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कार्यकर्ता मुस्लिम युवक को पीट रहे हैं।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। संबंधित वीडियो मध्य प्रदेश के देवास जिले में सफाई कर्मचारी पर हुए हमले से संबंधित है, जिसमें मारपीट के चार आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ने वायरल वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए बांग्ला भाषा में लिखा है, ”মধ্যপ্রদেশে লক ডাউনের নামে বিজেপির গুন্ডা বাহিনী এক মুসলিম যুবকে কেমন ভাবে অত্যাচার করছে দেখুন ।।”

हिंदी में इसे ऐसे पढ़ा जा सकता है, ”देखिए कैसे लॉकडाउन के दौरान मध्य प्रदेश में बीजेपी के गुंडे मुस्लिम युवक को प्रताड़ित कर रहे हैं।”

पड़ताल किए जाने तक इस वीडियो को 14 हजार से अधिक लोग शेयर कर चुके हैं। वहीं, इसे करीब 78 हजार से अधिक बार देखा जा चुका है।

पड़ताल

InVID टूल की मदद से वीडियो के की-फ्रेम्स को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें ऐसे कई रिपोर्ट मिले, जिसमें इस वीडियो का इस्तेमाल किया गया है। 18 अप्रैल को NDTV इंडिया के यू-ट्यूब चैनल पर अपलोड किए गए बुलेटिन में इस वीडियो को देखा जा सकता है।

बुलेटिन के साथ दी गई जानकारी के मुताबिक, यह घटना मध्य प्रदेश के देवास जिले में हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक, ‘कोरोना वायरस के खिलाफ चल रही इस जंग में सबसे बड़ी भूमिका अगर किसी की है तो वह हैं कोरोना वॉरियर्स। डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के साथ इस लड़ाई में अगर कोई सबसे ज्यादा खतरा झेल रहा है तो वह हैं सफाईकर्मी। मगर मध्य प्रदेश के देवास जिले में एक सफाई कर्मचारी पर कुल्हाड़ी से हमला किया गया है। हमले में वह गंभीर रूप से घायल हुआ है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।’

Inextlive.com पर वेबसाइट पर 18 अप्रैल को प्रकाशित रिपोर्ट में भी इस घटना का जिक्र है। रिपोर्ट के मुताबिक, ‘कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में जुटे स्वास्थ्यकर्मी, सफाईकर्मी व पुलिसकर्मियों पर लगातार हमले की घटनाएं सामने आ रही हैं। मध्य प्रदेश के देवास जिले के खातेगांव शहर के अल्पसंख्यक बहुल इलाके में सेनेटाइजेशन करने पहुंचे दो कार्यकर्ताओं पर कुल्हाड़ी से हमला किया गया। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से इस मामले में पूछताछ की जा रही है। इस संबंध में ग्रामीण क्षेत्र के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) नीरज चौरसिया ने कहा कि कोयला मोहल्ला के रहने वाले आदिल खान ने दो सफाई कर्मचारियों पर कुल्हाड़ी से उस समय हमला किया, जब वे शुक्रवार को इलाके की सफाई कर रहे थे। इस हमले में एक सफाईकर्मी गंभीर रूप से घायल है और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।’

inextlive में 18 अप्रैल को प्रकाशित खबर

विश्वास न्यूज ने मामले की विस्तृत जानकारी के लिए खातेगांव पुलिस स्टेशन के प्रभारी एस एस मुकाती से बात की। उन्होंने बताया, ‘यह घटना 17 अप्रैल को खातेगांव में सफाई कर्मचारी पर हुए हमले से संबंधित है, जिसमें विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर चार आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।’ उन्होंने बताया, ‘घायल सफाई कर्मचारी को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका है और वह पूरी तरह से ठीक है।’

वायरल वीडियो शेयर करने वाले फेसबुक यूजर ने अपनी प्रोफाइल में दी गई जानकारी में खुद को कांग्रेस का कार्यकर्ता बताया है, जो नादिया जिले के मीडिया को-ऑर्डिनेटर हैं। फेसबुक पर उन्हें करीब तीन हजार से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: मध्य प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा मुस्लिम युवक की पिटाई के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो देवास जिले में सफाई कर्मचारियों पर हुए हमले की घटना से संबंधित है।

  • Claim Review : लॉक डाउन के दौरान मध्य प्रदेश में बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा मुस्लिम युवक की पिटाई
  • Claimed By : FB User-Safi Mallick
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later