X

Fact Check: बाबा रामदेव की 2011 की भूख-हड़ताल की तस्वीर गलत दावे के साथ वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: March 5, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम) सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है, जिसमें योग गुरु बाबा रामदेव को बीमार हालत में हॉस्पिटल में होने का दावा किया जा रहा है। पोस्ट में दावा किया गया है कि बाबा रामदेव एम्स में भर्ती हैं। हमारी पड़ताल में हमने पाया कि यह जानकारी गलत है। वायरल हो रही तस्वीर 2011 की है जब बाबा रामदेव ने भूख-हड़ताल की थी।

क्या हो रहा है वायरल?

तस्वीर में क्लेम किया गया है, “सलवार बाबा रामदेव एम्स में भर्ती, कोरोना वायरस से बचने के चककर मे ले लिए गौ मूत्र का ऑवर डोज🤣🤣🤣”.

इस पोस्ट के आर्काइव वर्जन को http://archive.fo/Ydvoयहाँ देखा जा सकता है।

पड़ताल

हमने अपनी पड़ताल को शुरू करने के लिए सबसे पहले इस तस्वीर का स्क्रीनशॉट लिया और उसे गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया। पहले ही पेज पर हमें indiatoday.in पर एक न्यूज़ स्टोरी का लिंक मिला, जिसमें इस तस्वीर को देखा जा सकता है। इस गैलरी में वायरल तस्वीर का इस्तेमाल किया गया था। इस स्टोरी को June 12 , 2011 को पब्लिश किया गया था। स्टोरी में इस्तेमाल इस तस्वीर का डिस्क्रिप्शन है- “(अनुवादित) रामदेव ने 12 जून 2011 को विभिन्न आध्यात्मिक और धार्मिक नेताओं की उपस्थिति में अनशन समाप्त किया।”

इस पोस्ट को Chacha Baklol नाम के एक फेसबुक पेज ने मार्च 4 2020 को शेयर किया था। हमने पता किया कि उस दिन बाबा रामदेव कहां थे। अपनी पड़ताल में हमने पाया कि पिछले 2 दिन में बाबा रामदेव कोरोना वायरस से बचाव/उपाय बताते हुए कई टीवी चैनलों जैसे आजतक, इंडिया टीवी और एबीपी पर नज़र आये।

हमने ज़्यादा पुष्टि के लिए बाबा रामदेव के प्रवक्ता एस के तिजारावाला से बात की। उन्होंने इस पोस्ट को फर्जी बताते हुए कहा, “यह बकवास है, हरकत बहुत छिछोरी है। पूज्य बाबा रामदेव पूर्णत: स्वस्थ हैं। देशवासियों ने पिछले 2 दिन में उन्हें #coronavirusinindia से बचाव/उपाय बताते हुए @aajtak @ABPNews @ZeeNews @indiatvnews @TV9Bharatvarsh @Republic_Bharat @News18India पर देखा है। आज वह बेंगलुरु गए हैं।” उन्होंने हमारे साथ बाबा रामदेव का देहरादून से बेंगलुरु का बॉर्डिंग पास भी शेयर किया।

इस विषय में उन्होंने एक ट्वीट भी किया जिसे नीचे देखा जा सकता है।

फेसबुक पर इस पोस्ट को Chacha Baklol नाम के एक यूजर ने शेयर किया था। इस पेज के कुल 218,013 फॉलोअर्स हैं।

निष्कर्ष: हमारी पड़ताल में हमने पाया कि यह जानकारी गलत है। वायरल हो रही तस्वीर 2011 की है जब बाबा रामदेव ने भूख-हड़ताल की थी। बाबा रामदेव पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

  • Claim Review : सलवार बाबा रामदेव एम्स में भर्ती, कोरोना वायरस से बचने के चककर मे ले लिए गौ मूत्र का ऑवर डोज
  • Claimed By : Chacha Baklol
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

  • वॅाट्सऐप नंबर 9205270923
  • टेलीग्राम नंबर 9205270923
  • ईमेल contact@vishvasnews.com
जानिए वायरल खबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later