X

Fact Check: वायरल हो रही तस्वीर राहुल गांधी के जालौर रैली की नहीं, 2013 में हरियाणा में हुई कांग्रेस की रैली की है

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर राजस्थान के जालौर में हुई कांग्रेस की रैली की तस्वीर वायरल हो रही है। ”भारी भीड़” को दिखाती दो तस्वीरों के जरिए दावा किया गया है कि कांग्रेस प्रेसिडेंट राहुल गांधी को सुनने के लिए राजस्थान के जालौर में ”6 लाख लोगों का जनसैलाब उमड़” पड़ा। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत साबित होता है। जिन तस्वीरों को जालोर में हुई कांग्रेस की रैली बताकर वायरल किया जा रहा है, वह पुरानी तस्वीरें हैं और ऐसे ही मिलते-जुलते दावों के साथ वायरल हो चुकी है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है, ‘#राजस्थान की धरती #जालोर में इतिहास रच दिया गया आज 6 लाख लोगों का जनसैलाब उमंड पड़ा #राहुल_गांधी को सुनने के लिए🤚🤚✌️✌️💪 जय कांग्रेस।’

फेसबुक पर यह  पोस्ट अनिल डडवाल (Anil Dadwal) ने पोस्ट किया है। फेसबुक पर अन्य यूजर्स भी इन्हीं तस्वीरों को पोस्ट करते हुए समान दावा कर रहे हैं।

पड़ताल:

सोशल मीडिया पर जो तस्वीर वायरल हो रही है, वह दरअसल राजस्थान में हुई रैली की न होकर हरियाणा में हुई रैली की है। रिवर्स इमेज के जरिए हमें पता चला कि यह तस्वीर अक्टूबर 2018 में राहुल गांधी की ‘’बीकानेर रैली में उमड़ी ऐतिहासिक भीड़’’ के दावे के साथ वायरल हो चुकी है।

दरअसल जिन दो तस्वीरों को राजस्थान के जालना में हुई कांग्रेस प्रेसिडेंट राहुल गांधी की रैली का बताकर वायरल किया जा रहा है, वह 10 नवंबर 2013 को हरियाणा के सोनीपत में हुई कांग्रेस की रैली की है।

10 नवंबर 2013 को हरियाणा के सोनीपत के गोहाना में राज्य के तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने ‘’हरियाणा शक्ति रैली’’ को संबोधित किया था। इस रैली का आयोजन हुडा सरकार के पिछले 9 साल के कार्यकाल के दौरान हुई उपलब्धियों का प्रदर्शन करने के लिए किया गया था। हुडा सरकार का दूसरे कार्यकाल के चार साल पूरे होने के मौके पर इस रैली का आयोजन किया था।

इन दोनों तस्वीरों में 10 नवंबर 2013 को सोनीपत के गोहाना में राज्य के तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुडा की रैली की तस्वीरों के एरियल व्यू को देखा जा सकता है।

इसके बाद हमने न्यूज सर्च के जरिए की मदद से राजस्थान के जालौर में हुई कांग्रेस की रैली की खबर को तलाशने की कोशिश की। कांग्रेस के आधिकारिक फेसबुक हैंडल और ट्विटर हैंडल दोनों से राहुल गांधी के इस भाषण को लाइव किया गया है।

निष्कर्ष: हमारी पड़ताल में राहुल गांधी के जालौर रैली को लेकर वायरल हो तस्वीर गलत साबित होती है। जिन तस्वीरों को जालौर रैली का बताकर वायरल किया जा रहा है, वह 2013 में हरियाणा के तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुडा की सोनीपत में हुई रैली की तस्वीर हैं।

  • Claim Review : राजस्थान के जालौर में राहुल गांधी को सुनने के लिए 6 लाख लोगों का उमड़ा जनसैलाब
  • Claimed By : FB User-Anil Dadwal
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False
जानिए सच्‍ची और झूठी सबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके क्विज खेले

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later